27.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Sakshamta pariksha: शिक्षकों को भी जूता-मोजा उतार कर देनी होगी परीक्षा, इन निर्देशों का रखें ख्याल वरना नहीं मिलेगा प्रवेश

Sakshamta pariksha: बिहार में सोमवार से सक्षमता परीक्षा का पहला चरण शुरू हो रहा है. जानें इस परीक्षा के दौरान शिक्षकों को कौन-कौन सी गाइडलाइन्स का पालन करना होगा.

Sakshamta pariksha: बिहार में नियोजित शिक्षकों के विरोध,बहिष्कार और नाराजगी के बीच सक्षमता परीक्षा का पहला चरण 26 फरवरी को होने जा रहा है. प्रथम चरण की परीक्षा के लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के द्वारा एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैं. कंप्यूटर आधारित परीक्षा के लिए जरूरी निर्देश भी दिए गए हैं. स्थानीय निकाय शिक्षकों की सक्षमता परीक्षा के प्रथम चरण का आयोजन 26 फरवरी को विभिन्न शहरों में निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर किया जा रहा है.बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड ने सलाह दी है कि अभ्यर्थी पूरी तरह नियमों का पालन करते हुए परीक्षा केंद्र पर पहुंचें, ताकि उन्हें किसी तरह की कठिनाई का सामना नहीं करना पड़े.

ओरिजिनल पहचान पत्र लेकर जाएं

नियोजित शिक्षक को परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के पहले यह सुनिश्चित कर लेना है कि उनके पास वैद्य फोटो पहचान पत्र जरूर हो. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के द्वारा आधार कार्ड,मतदाता पहचान पत्र,ड्राइविंग लाइसेंस,पासपोर्ट,पैन कार्ड,फोटो युक्त पासबुक या फोटो युक्त राशन कार्ड ले जाने की अनुमति पहचान के दस्तावेज के रूप में दी गई है. इन सभी में से कोई एक आपके पास होना चाहिए और वह मूल प्रति में अर्थात ओरिजिनल होना चाहिए. सक्षमता परीक्षा के लिए जारी एडमिट कार्ड का रंगीन प्रिंटआउट निकलवा लें और इस पर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) का साइन जरूर करा लें.बगैर साइन के एडमिट कार्ड लेकर परीक्षा केंद्र पहुंचने पर प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी.

Sakshamta pariksha: जूता मौजा नहीं, चप्पल पहन कर पहुंचें परीक्षा देने

शिक्षक अभ्यर्थी बगैर जूता-मोजा पहने सिंपल स्लीपर में परीक्षा केंद्र पर परीक्षा देने जाएंगे. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के द्वारा नकल रोकने के लिए इस तरह का आदेश जारी किया गया है.साथ ही सीसीटीवी निगरानी की व्यवस्था की गई है.एडमिट कार्ड के निर्धारित जगह पर अपनी फोटो जरूर चिपकाए. यह वही फोटो होना चाहिए जो आवेदन करते समय आपने अपलोड किया था. साथ ही एडमिट कार्ड के बारकोड पर कुछ भी नहीं लिखे.

आधा घंटा पहले बंद हो जाएगा गेट

सक्षमता परीक्षा के अभ्यर्थी यह ध्यान रखें कि परीक्षा केंद्र का गेट परीक्षा शुरू होने के आधा घंटा पहले ही बंद कर दिया जाएगा. इसलिए अपने एग्जामिनेशन सेंटर पर पहले पहुंचे, ताकि जांच व अन्य प्रक्रियाओं में समय लगने पर उन्हें देर न हो जाए. साथ ही परीक्षा केंद्र की जानकारी एक दिन पहले ले लें, ताकि परीक्षा केंद्र को ढूंढने में बेवजह समय जाया ना हो.

Sakshamta pariksha:लॉगिन आईडी और पासवर्ड सीट पर मिलेगा

यह कंप्यूटर आधारित टेस्ट होगा, जिसमें लॉगिन आईडी और पासवर्ड कैंडिडेट को उनकी सीट पर ही परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले मिलेगा. यहां जो रोल नंबर और पासवर्ड मिलेगा, उसी को दर्ज करना होगा. यहां अभ्यर्थी का नाम और रोल नंबर कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा.

एग्जाम सेंटर पर सिर्फ एडमिट कार्ड, पहचान पत्र और पेन लेकर ही पहुंचें

सक्षमता परीक्षा में नकल रोकने के लिए प्रशासन द्वारा पूरी सख्ती बरती जाएगी. अभ्यर्थियों को मोबाइल, सेलुलर फोन, किसी भी तरह का इलेक्ट्रॉनिक गैजेट, ईयर फोन, माइक्रोफोन, ब्लूटूथ, कैलकुलेटर, किताबें, नोट्स, कलाई घड़ी इत्यादि लेकर जाना वर्जित है. एग्जामिनेशन सेंटर पर वे सिर्फ एडमिट कार्ड, पहचान पत्र और बाल पॉइंट पेन लेकर ही जा सकते हैं.

Sakshamta pariksha: मेहंदी या नेल पॉलिश लगाना वर्जित

परीक्षा केंद्र पर सक्षमता परीक्षा के कैंडिडेट्स का थंब इंप्रेशन और आइरिस रिकॉग्निशन किया जाएगा. इसके लिए उंगलियों पर किसी तरह का निशान, मेहंदी, स्याही, रंग, नेल पॉलिश इत्यादि लगाना बोर्ड की तरफ से प्रतिबंधित किया गया है. ऐसा इसलिए ताकि बायोमेट्रिक हाजिरी के दौरान किसी प्रकार की परेशानी न हो.

डेमो टेस्ट से जरूर कर लें अभ्यास

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से उम्मीदवारों के लिए डेमो टेस्ट अर्थात मॉक टेस्ट के अभ्यास की व्यवस्था भी की गई है. इसके लिए कैंडिडेट bsebsakshamta.com पर लॉगिन कर सकते हैं. साथ ही बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की वेबसाइट को किसी भी जानकारी से अपडेट होने के लिए समय-समय पर देखते रहें.

डीपीओ ऑफिस में जमा होगा एडमिट कार्ड

परीक्षा के बाद वीक्षक के द्वारा हस्ताक्षरित और केंद्र की मुहर लगे मूल प्रवेश पत्र को शिक्षक अभ्यर्थी अपने साथ ले जाएंगे और उसे संबंधित जिले के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (स्थापना) के कार्यालय में समर्पित करेंगे. इस दौरान जिला कार्यक्रम पदाधिकारी के कार्यालय में शिक्षक अभ्यर्थी का थंब इंप्रेशन और इरिस रिकॉग्निशन भी का भी मिलान किया जाएगा. इसके बाद मूल प्रवेश पत्र को पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा. यह मूल प्रवेश पत्र कार्यालय में सुरक्षित रखा जाएगा.

माइनस मार्किंग का प्रावधान नहीं

सक्षमता परीक्षा कंप्यूटर आधारित टेस्ट के रूप में ली जा रही है. इसमें मल्टीपल चॉइस क्वेश्चंस होंगे. उम्मीदवारों को चार विकल्पों में से एक का चयन करना है. वे सलेक्ट किए गए ऑप्शन को कंप्यूटर पर बदल भी सकते हैं. सही उत्तर के लिए एक अंक मिलेगा, जबकि माइनस मार्किंग का प्रावधान नहीं किया गया है.

Also Read: AISSEE 2024: एनटीए ने रिलीज की सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा आंसर की, फटाफट ऐसे करें चेक

Also Read: jee Mains 2024: जेईई मेंस अप्रैल सेशन के लिए अब तक लगभग 1.50 लाख यूनिक आवेदन, 5 वर्षों में सबसे अधिक छात्रों की संख्या होने का अनुमान

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें