1. home Home
  2. career
  3. irms exam has not been held for two years in indian railways candidates having overage in waiting voice raise on social media vwt

Indian Railways: दो साल से नहीं हुई IRMS परीक्षा, इंतजार में ओवरएज हो रहे अभ्यर्थी, सोशल मीडिया पर उठ रही आवाज

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के अन्य अभ्यर्थियों की तरह ही रेलवे में नौकरी के इच्छुक अभ्यर्थियों को पहले प्रारंभिक परीक्षा देनी होगी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
भर्ती परीक्षा के इंतजार में अभ्यर्थी.
भर्ती परीक्षा के इंतजार में अभ्यर्थी.
फोटो : पीटीआई.

Indian Railways IRMS Exam : भारतीय रेलवे में इंडियन रेलवे मैनजमेंट सर्विस के जरिए क्लास-ए में अधिकारियों की भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा बीते दो साल से नहीं हुई है. आलम यह है कि रेलवे में क्लास-ए अधिकारी भर्ती परीक्षा देने के इंतजार में कई अभ्यर्थी ओवरऐज हो रहे हैं. सोशल मीडिया पर वायरल खबरों के अनुसार, रेलवे में क्लास-ए अधिकारियों की भर्ती इंडियन रेलवे मैनेजमेंट सर्विस के जरिए होनी थी.

बता दें कि देश में कोरोना महामारी की शुरुआत होने के पहले केंद्र सरकार ने वर्ष 2019 में रेलवे की इंजीनियरिंग से जुड़ी करीब 8 सेवाओं का विलय कर इंडियन रेलवे मैनेजमेंट सर्विस (आईआरएमएस) बना दिया था, लेकिन पिछले दो साल से आईआरएमएस की परीक्षा आयोजित ही नहीं की गई है, जिसके चलते ओवरऐज हो रहे अभ्यर्थी ज्यादा परेशान हैं.

अब ऐसे अभ्यर्थी सोशल मीडिया पर भारतीय रेलवे, रेल मंत्री और रेल मंत्रालय से सवाल पूछ रहे हैं कि रेलवे में क्लास-ए अधिकारियों की भर्ती के लिए आईआरएमएस की परीक्षा की तारीख कब घोषित की जाएगी. दो साल से रेलवे में नई वैकेंसी नहीं निकलने की वजह से अभ्यर्थियों ने अब सोशल मीडिया पर ही सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं.

सोशल मीडिया पर कई अभ्यर्थियों ने कहा है कि उन्होंने रेलवे में जॉब पाने के लिए पूरे लगन के साथ तैयारी की है. 2020 में इंजीनियरिंग सर्विस एग्जाम (ईएसई) की प्रारंभिक परीक्षा होने के बाद रेलवे ने सीट्स हटा दिए. माइक्रो ब्लॉगिंग साइट्स ट्विटर पर एक यूजर सुमित कुमार ने लिखा है कि आईआरएमएस के जरिए भारतीय रेलवे में इंजीनियरों की भर्ती प्रक्रिया का क्या होगा, क्योंकि ईएसई के जरिए ऐसी किसी भी भर्ती पर विचार नहीं किया जा रहा है.

मीडिया की खबरों के अनुसार, संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के अन्य अभ्यर्थियों की तरह ही रेलवे में नौकरी के इच्छुक अभ्यर्थियों को पहले प्रारंभिक परीक्षा देनी होगी. इसके बाद वे पांच विशेषज्ञताओं के तहत आईआरएमएस को चुन सकते हैं. इन पांच विशेषज्ञताओं में से टेक्निकल के तहत चार इंजीनियरिंग (सिविल, मेकेनिकल, टेलीकॉम और इलेक्ट्रिकल) और एक नॉन टेक्निकल हो सकता है. नॉन टेक्निकल में अकाउंट्स, पर्सनल और ट्रैफिक क्षेत्र की नियुक्तियां होंगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें