1. home Home
  2. business
  3. reliance jio cmd mukesh ambani is not richest man of asia cryptocurrency ceo changpeng zhao beats him mtj

JIO के मालिक मुकेश अंबानी नहीं रहे एशिया के सबसे अमीर, Binance Cryptocurrency के CEO चांगपेंग ने पछाड़ा

Reliance Jio के मालिक मुकेश अंबानी से एशिया के सबसे अमीर शख्स का तमगा छिन गया है. चीनी-कनाडाई नागरिक चांगपेंग झाओ ने उनकी जगह पर कब्जा कर लिया है. वह क्रिप्टो एक्सचेंज बायनेंस का सीईओ है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
क्रिप्टोकरेंसी के मालिक चांगपेंग झाओ ने Jio के मालिक मुकेश अंबानी को पछाड़ा
क्रिप्टोकरेंसी के मालिक चांगपेंग झाओ ने Jio के मालिक मुकेश अंबानी को पछाड़ा
Prabhat Khabar

Binance CEO Changpeng Zhao beats Mukesh Ambani Jio: भारत के सबसे अमीर शख्स और रिलायंस जियो (Reliance JIO) के मालिक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) अब एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति नहीं रह गये हैं. उनकी जगह क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने ले ली है. क्रिप्टोकरेंसी के सीईओ का नाम चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao) है. मुकेश अंबानी को पछाड़कर चांगपेंग ‘सीजेड’ झाओ एशिया के सबसे अमीर शख्स बन गये हैं. इस तरह अब वह विश्व के सबसे अमीर लोगों में शुमार हो गये हैं.

सीएनएन की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गयी है. सीएनएन ने कहा है कि ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स की नयी गणना के अनुसार, क्रिप्टो एक्सचेंज बायनेंस (Crypto Exchange Binance) के मालिक चांगपेंग झाओ की अनुमानित कुल संपत्ति करीब 96.5 बिलियन डॉलर (करीब 7,118.80 अरब रुपये) है. भारत के बिजनेस टाइकून और रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के सीएमडी मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani Jio) को पछाड़कर चीनी मूल के कनाडाई नागरिक चांगपेंग झाओ (Binance CEO Changpeng Zhao) विश्व के सबसे अमीर लोगों में शुमार हुए हैं. मुकेश अंबानी की संपत्ति (mukesh ambani net worth) करीब 71.9 अरब डॉलर (करीब 5,305.61 अरब रुपये) है.

चांगपेंग झाओ के ऊपर अब ओरेकल के संस्थापक लैरी एलिसन का नाम है. सबसे अमीर लोगों में चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao News) का शुमार होना यह बता रहा है कि डिजिटल मुद्राओं (Digital Currency) ने कितनी तेजी से लोगों को धनवान बनाया है. बता दें कि वर्ष 2020-21 में क्रिप्टो की स्थापना करने वालों ने वर्चुअल क्वाइन (Virtual Coin) की कीमतों में भारी वृद्धि का आनंद लिया था.

वर्चुअल क्वाइंस की वजह से एथेरियम निर्माता विटालिक ब्यूटिरिन और क्वाइनबेस के संस्थापक ब्रायन आर्मस्ट्रांग दोनों अरबपति बन गये. सीएनएन बिजनेस ने बायनेंस के एक प्रवक्ता के हवाले से कहा है कि ‘सीजेड अन्य उद्यमियों और संस्थापकों की तरह ही अपनी अधिकांश संपत्ति, यहां तक कि अपनी संपत्ति का 99 प्रतिशत भी दान करना चाहते हैं.’

सीएनएन ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि सीजेड यानी चांगपेंग झाओ ने वर्ष 2017 में बायनेंस को लांच किया था. सीजेड ने धीरे-धीरे इसे दुनिया के सबसे बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज (Crypto Exchange) में से एक में तब्दील कर दिया. इसके बाद सीजेड ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. क्रिप्टोकरेंसी में लोगों ने बड़े पैमाने पर निवेश किया और उन्हें इतना रिटर्न मिला, जिसकी उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं की थी. यानी क्रिप्टोकरेंसी ने बहुत ही कम समय में लोगों को मालामाल कर दिया.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें