1. home Hindi News
  2. business
  3. ntpc barh girl empowerment campaign workshop launched from 22 may smb

बेटियों के हुनर को निखारेगा NTPC बाढ़, 22 मई से बालिका सशक्तिकरण अभियान कार्यशाला का होगा शुभारंभ

एनटीपीसी बाढ़ आवासीय परिसर के सौहार्द्र भवन में रविवार को “बालिका सशक्तिकरण अभियान” कार्यशाला 2022 का शुभारंभ कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
एनटीपीसी बाढ़ के आवासीय परिसर में स्थित नोट्रेडेम एकेडमी में पंजीकरण के उपरांत प्रतिभागी
एनटीपीसी बाढ़ के आवासीय परिसर में स्थित नोट्रेडेम एकेडमी में पंजीकरण के उपरांत प्रतिभागी
NTPC

NTPC News: एनटीपीसी बाढ़ आवासीय परिसर के सौहार्द्र भवन में रविवार को “बालिका सशक्तिकरण अभियान” कार्यशाला 2022 का शुभारंभ कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. इसका उद्घाटन एनटीपीसी के दिल्ली स्थित मुख्यालय के कार्यकारी निदेशक राकेश प्रसाद द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी, बाढ़ कुन्दन कुमार, अतिरिक्त आरक्षी अधीक्षक, बाढ़ एपी सिंह एवं मुख्य महाप्रबंधक, बाढ़ असित दत्ता की उपस्थिति में 22 मई को किया जाएगा.

एनटीपीसी के प्रवक्ता ने दी ये जानकारी

NTPC बाढ़ के प्रवक्ता विश्वनाथ चन्दन ने बताया कि इस कार्यशाला हेतु चयनित बच्चियों का पंजीकरण आज यानि शनिवार से शुरू हो गया है. इसमें बाढ़ परियोजना के आस-पास के गावों के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली 10 से 12 वर्ष के आयु वर्ग की 41 बच्चियों को स्कूली किट, पोशाक आदि मुहैया कराई गई. साथ ही उन्हें सशक्त बनाने के लिए एक माह तक आवासीय प्रशिक्षण दिए जाने की ओर एक अनोखी पहल एनटीपीसी बाढ़ प्रबंधन द्वारा परियोजना के आवासीय परिसर में स्थित नोट्रेडेम एकेडमी की गई है.

NTPC News: 41 ग्रामीण बेटियों के हुनर को निखारेगा एनटीपीसी बाढ़
NTPC News: 41 ग्रामीण बेटियों के हुनर को निखारेगा एनटीपीसी बाढ़
एनटीपीसी

22 मई से शुरू होकर 18 जून 2022 तक चलेगा अभियान

वहीं, NTPC बाढ़ के मुख्य महाप्रबंधक असित दत्ता ने इस अनोखी पहल के विषय में विस्तार से बताया कि बालिका सशक्तिकरण अभियान 22 मई से शुरू होकर 18 जून 2022 तक चलेगा. हमारी परियोजना इस आवासीय प्रशिक्षण हेतु पूर्णरूपेण तत्पर व तैयार है. इस पहल के विषय में बताते हुए उन्होनें कहा कि यह कार्यशाला एनटीपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक गुरदीप सिंह का एक स्वप्न था कि हमारी कंपनी बालिका सशक्तिकरण मिशन की दिशा में ग्रामीण बालिकाओं को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने, उनके सपनों को एक नया आयाम देने, उनके अंतर्मन में आशा, आत्मविश्वास, कुछ कर गुजरने की ललक जगाने के लिए एक अहम व रचनात्मक भूमिका निभाए और भारत सरकार के “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” अभियान में यथोचित योगदान दे सकें. इसी के चलते इस अभियान की शुरूआत की गई है.

जानिए मिशन का क्या है उद्देश्य

उन्होंने आगे बताया कि आज से ही पंजीकरण के उपरांत परियोजना द्वारा समीपवर्ती ग्रामों के विद्यालयों की 40 बालिकाओं को अपने यहां एक माह तक प्रशिक्षण के लिए आज से ही आवासीय परिसर में स्थित नोट्रेडेम एकेडमी में रखा जा रहा है. इस दौरान उनके आवास, भोजन की व्यवस्था के साथ-साथ उन्हें बेसिक शिक्षा के अतिरिक्त योग, क्राफ्ट और अन्य गतिविधियों, जैसे नृत्य, संगीत व्यक्तित्व विकास, कौशल विकास से संबंधित प्रशिक्षण भी दिया जाएगा. हमारा प्रयास है कि हम बालिका सशक्तीकरण मिशन के माध्यम से ग्रामीण परिवेश की बालिकाओं के सशक्तीकरण की दिशा में एक छोटा-सा योगदान दे सकें. इस कार्यशाला में शुभारंभ से लेकर समाप्ति तक सबरी दत्ता अध्यक्षा, मन्दाकिनी महिला मंडल के साथ सभी विभागाध्यक्ष, वरिष्ठ अधिकारीगण, कर्मचारीगण, मंदाकिनी महिला मंडल की सदस्याएं आदि लोग इस कार्यशाला को सफल बनाने में सक्रिय रूप से लगे रहेंगें.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें