1. home Hindi News
  2. business
  3. new wage code 4 working days 3 days off when and what will change learn here rjv

New Wage Code: हफ्ते में सिर्फ 4 दिन काम, 3 दिन आराम; कब और क्या होंगे बदलाव? यहां जानें

मोदी सरकार नये श्रम कानूनों में कुछ बदलाव की तैयारी हो रही है. केंद्र सरकार नये लेबर कोड में एक बार से फिर सैलरी स्ट्रक्चर बदलने की तैयारी कर रही है. क्या-कैसा होगा यह और कब तक लागू होगा? आपको हम बताएंगे इसका लेटेस्ट अपडेट-

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
New Wage Code 2022
New Wage Code 2022
fb/symbolic

New Wage Code 2022 Latest Update: न्यू वेज कोड इन दिनों बड़ी चर्चा में है. मीडिया में चर्चा है कि देश में एक जुलाई से नया लेबर कोड लागू हो सकता है. अगर यह 1 जुलाई से देश भर में लागू होता है, तो इसका असर नौकरीपेशा लोगों की साप्ताहिक छुट्टियों से लेकर इन-हैंड सैलरी तक में दिखेगा. सरकार नौकरीपेशा लोगों के लिए चार बड़े बदलाव लाने की तैयारी में है. नये लेबर कोड वेज (Wage), सोशल सिक्योरिटी (Social Security), इंडस्ट्रियल रिलेशंस (Industrial Relations) और ऑक्यूपेशनल सेफ्टी (Occupational Safety) से जुड़े हैं.

नया वेज कोड क्या बदलाव लायेगा?

नया वेज कोड लागू होने के बाद टेक होम सैलरी यानी इन हैंड सैलरी पहले के मुकाबले कम आयेगी. सरकार ने नये नियम में प्रावधान किया है कि किसी भी कर्मचारी की बेसिक सैलरी उसकी टोटल सैलरी (CTC) का 50 फीसदी या उससे अधिक हो. अगर बेसिक सैलरी अधिक होगी, तो पीएफ कंट्रीब्यूशन बढ़ जाएगा. सरकार के इस प्रावधान से रिटायरमेंट के समय कर्मचारियों को बड़ी रकम मिलेगी. इसके साथ ही, ग्रैच्युटी का पैसा भी अधिक मिलेगा. इससे आर्थिक रूप से उनका भविष्य मजबूत बनेगा. नये कानून के अनुसार, सप्ताह में 48 घंटे काम करना होगा. मतलब काम कम नहीं करना है, बल्कि काम पर 5 दिन की जगह 4 दिन ही जाना होगा.

जॉब छोड़ने के दो दिन में फाइनल सेटलमेंट

छुट्टियों को लेकर बड़े बदलाव की भी बात है. पहले किसी भी संस्थान में लंबी अवधि की छुट्टी लेने के लिए साल में कम से कम 240 दिन काम करना जरूरी होता था. लेकिन नये लेबर कोड के तहत आप 180 दिन (6 महीना) काम करने के बाद लंबी छुट्टी ले सकेंगे. इसके अलावा, नये वेज बोर्ड में फुल एंड फाइनल सेटलमेंट के बारे में कहा गया है कि नौकरी छोड़ने, बर्खास्तगी, छंटनी और इस्तीफा देने के दो दिन के अंदर कर्मचारियों को उनकी सैलरी का भुगतान किया जाएगा. अभी वेजेज के पेमेंट और सेटलमेंट पर ज्यादातर नियम लागू हैं, लेकिन इनमें इस्तीफा शामिल नहीं है.

क्या है लेटेस्ट अपडेट?

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पिछले 2 साल से इसे लागू करना चाहती है. लेकिन अभी तक आम सहमति नहीं बनने और ड्राफ्ट्स में होनेवाले बदलावों के चलते इसमें देरी हो रही है. साल 2022 में इसे लागू करने के लिए पूरी तरह तैयार है, हालांकि अभी डेट फाइनल नहीं है. न्यू वेज कोड को लेकर ऐसी खबरें चल रहीं हैं कि 1 जुलाई से इसे लागू किया जा सकता है. हम आपको बता दें कि यह पूरी तरह भ्रामक है. सरकार ने अभी तक ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है. जब भी कोई पॉलिसी लागू की जाती है, उसका नोटिफिकेशन कम से कम 15 दिन पहले जारी कर दिया जाता है. ऐसे में 1 जुलाई से इसका लागू होना संभव ही नहीं है.

पहले भी आगे बढ़ चुकी है तारीख

नये वेज कोड लागू करने की तारीख कई बार पहले भी बदली जा चुकी है. इसे लागू करने की तारीख पहले 1 अप्रैल 2021 रखी गई, फिर उसे आगे बढ़ाकर जुलाई 2021 किया गया. उसके बाद अक्टूबर 2021 की तारीख तय करने के बाद भी यह लागू नहीं हो सका. बता दें कि न्यू वेज कोड में चार लेबर कोड लागू होने हैं. फिलहाल, राज्य के ड्राफ्ट इनपुट पर चर्चा चल रही है. कुल 26 राज्यों की तरफ से ड्राफ्ट्स दाखिल किये जा चुके हैं. चर्चा है कि नये श्रम कानूनों में कुछ बदलाव की तैयारी हो रही है. मोदी सरकार नये लेबर कोड के तहत सैलरी स्ट्रक्चर में एक बार फिर बदलाव कर सकती है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नया लेबर कोड 2019 में संसद से पारित किया जा चुका है.

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें