1. home Hindi News
  2. business
  3. diwali muhurat trading 2020 muhurat traiding will be start at bse nse now after some time trading run for one hour vwt

Diwali muhurt trading 2020 : मुहूर्त कारोबार में बाजार को रिकॉर्ड मुनाफा, टॉप गेनर बनी Airtel, जानिए सेंसेक्स-निफ्टी का हाल

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
दिवाली मुहूर्त कारोबार के दौरान मुनाफे में बाजार.
दिवाली मुहूर्त कारोबार के दौरान मुनाफे में बाजार.
फोटो : ट्विटर.

Diwali muhurat trading 2020 : संवत वर्ष 2077 की शुरुआत के दिन शनिवार को विशेष मुहूर्त कारोबार के दौरान सभी सूचकांक लाभ में रहे. शेयर बाजारों में दिवाली के दिन आयोजित होने वाले इस विशेष कारोबार के आखिरी वक्त पर निफ्टी 50.60 अंक या 0.40 फीसदी की बढ़त के साथ 12,770 अंकों पर था, जबकि सेंसेक्स 194.98 अंक या 0.45 फीसदी की बढ़त के साथ 43,637.98 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान 1803 कंपनियों के शेयरों ने लाभ कमाए, 621 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई और 128 शेयर अपरिवर्तित रहे.

मुहूर्त कारोबार में सेंसेक्स 30 के 22 शेयरों में तेजी रही है. टॉप गेनर्स में एयरटेल, टाटा स्टील, सनफार्मा, आईटीसी, इंफोसिस, एचडीएफसी बैंक, एल एंड टी, ओएनजीसी और एनटीपीसी शामिल हैं. टॉप लूजर्स में पावरग्रिड, टाइटन कंपनी, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज आटो और बजाज फाइनेंस शामिल हैं.

बता दें कि संवत वर्ष 2077 की शुरुआत के दिन शनिवार को विशेष मुहूर्त कारोबार की शुरुआत में बंबई शेयर बाजार का सूचकांक 381 अंकों की तेजी के साथ अपने सर्वकालिक ऊंचाई पर जा पहुंचा. कारोबार के पहले कुछ मिनटों में ही 30 शेयरों पर आधारित बंबई शेयर बाजार का सूचकांक 380.76 अंक या 0.88 प्रतिशत की तेजी के साथ 43,823.76 अंक की ऊंचाई तक चढ़ गया. इसी प्रकार, एनएसई का निफ्टी सूचकांक 117.85 अंक या 0.93 फीसदी बढ़कर 12,808.65 अंक के अपने नए रिकॉर्ड ऊंचाई पर चल रहा था.

बीएसई में टेलीकॉम, पूंजी माल, औद्योगिक और वित्त क्षेत्र सहित करीब-करीब सभी क्षेत्रों के सूचकांक लाभ में थे. कारोबारियों और निवेशकों ने संवत 2077 के पहले कारोबारी सत्र के दिन अपने नए बही-खातों की शुरूआत की. बाजार सूत्रों ने कहा कि पहले दिन लिवाली गतिविधियां बढ़ी हुई थीं.

सेंसेक्स में प्रमुख लाभ अर्जित करने वाली कंपनियों में बजाज फिनसर्व, इंडसइंड बैंक, टाटा स्टील, भारती एयरटेल, एलएंडटी, एक्सिस बैंक और आईटीसी शामिल थी. इनमें 1.93 फीसदी तक बढ़त दर्ज की गयी. हालांकि, एनटीपीसी, पावरग्रिड और नेस्ले इंडिया के शेयर में 0.77 फीसदी तक की गिरावट आई.

बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने शुक्रवार को 1,935.92 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे, जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने अस्थायी विनिमय आंकड़ों के अनुसार 2,462.42 करोड़ रुपये के शेयरों की बिक्री की.

मुहूर्त कारोबार का यह था समय

  • मुहूर्त कारोबार 6.00 से 6.08 बजे शाम तक, नार्मल सेशन

  • 6.15 से 7.15 बजे शाम तक, क्लोजिंग सेशन

  • 7.25 से 7.35 बजे शाम तक करेंसी एवं कमोडिटी मार्केट

  • 6.15 से 7.15 बजे शाम में ट्रेडिंग किया जा सकता है

मुहूर्त ट्रेडिंग का क्या है महत्व

दरअसल, दिवाली के दिन शेयर बाजार बंद होता है, लेकिन इस दिन मुहूर्त ट्रेनिंग की जाती है. इस खास वक्त में एक घंटे का ट्रेडिंग सेशन होता है. इसमें जो घंटा सबसे शुभ होता है, उसी के आधार पर मुहूर्त ट्रेडिंग का समय तय किया जाता है. उद्योग जगत में कई सालों से इस परंपरा का पालन किया जा रहा है. मुहूर्त ट्रेडिंग सेशन में निवेशक ऐसे स्टॉक खरीदते हैं, जो लंबी अवधि के लिए अच्छा रिटर्न देते है. ऐसी मान्यता है कि ग्रहों की स्थिति अच्छी होने पर व्यापार में खरीद करना लाभकारी होता है. इसी कड़ी में, कोरोबारी दिवाली के दिन मुहूर्त ट्रेडिंग करते हैं.

दिवाली के दिन कोरोबारी करते हैं बही-खातों की पूजा

दिवाली वाले दिन कारोबारी मां लक्ष्मी की पूजा जरूर करते हैं. इसलिए इस दिन अपना काम बंद नहीं करते, बल्कि अपना काम ज्यादा निष्ठा और लगन से करते हैं. ऐसा माना जाता है कि दिवाली वाले दिन काम करने से पूरे साल बरकत रहती है, दिवाली के दिन कारोबारी अपने बही-खाते की पूजा करते हैं. शेयर बाजार में भी ब्रोकर मुहूर्त ट्रेडिंग से पहले बही-खातों की पूजा करते हैं. इसे चोपड़ा पूजा के नाम से जाना जाता है.

मुहूर्त ट्रेडिंग में ब्रोकर, ट्रेडर और निवेशक ऐसे करते हैं काम

दिवाली के दिन शेयर बाजार को भी एक घंटे के लिए खोला जाता है और शुभ मुहूर्त के तहत ट्रेडिंग होती है. इस दिन मुहूर्त ट्रेडिंग में खासकर ब्रोकर और ट्रेडर बड़े उत्साह के साथ शेयर बाजार के कारोबार में शामिल होते हैं. इस दिन निवेशक या तो नए शेयर खरीदते हैं या पुराने शेयर बेचकर नए शेयर खरीदते हैं. कुछ निवेशक ऐसे भी होते हैं, जो दिवाली के दिन शेयर खरीदकर उन्हें अगले साल की दिवाली तक संभाल कर रख देते हैं. जब एक साल के बाद उन शेयर को बेचते हैं, तो उन्हें बहुत अच्छा रिटर्न मिलता है.

Posted By : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें