25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

Satte pe Satta Car: ‘सत्ते पे सत्ता’ में अमिताभ बच्चन ने किस सतरंगी कार का किया इस्तेमाल

Satte pe Satta Car: फिल्म सत्ते पे सत्ता में अमिताभ बच्चन ने जिस कार पर शूटिंग की है, उसका कार के नाम के बारे में आप जानते हैं? नहीं, तो आइए हम बताते हैं.

Satte pe Satta Car: आपने बॉलीवुड के शहंशाह और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘सत्ते पे सत्ता’ तो देखी होगी. लेकिन, कभी आपने यह सोचा है कि इस फिल्म में अमिताभ बच्चन ने जिस सतरंगी कार का इस्तेमाल किया है, वह कौन सी कार है? इस सवाल के बारे में कई प्रकार की बातें कही जाती हैं. कुछ लोग इसे सीधे तौर पर महिंद्रा की विली जीप मान बैठते हैं, जो 1980 के दशक में काफी लोकप्रिय थी. वहीं, कुछ लोगों का मानना है कि दरअसल, इस फिल्म में 1959 शेवरले इम्पाला कार को मोडिफाई करके इस्तेमाल किया गया है.

Satte pe Satta Car: मोडिफाई की गई विंटेज कार

‘Satte pe Satta’ में अमिताभ बच्चन के द्वारा इस्तेमाल की गई गाड़ी के बारे में हमने इंटरनेट पर सर्च किया, तो पता चला कि इसमें इस्तेमाल की गई गाड़ी का नाम 1959 शेवरले इम्पाला है. टीम बीएचपी डॉट कॉम और ब्राउन कार गाइज डॉट कॉम के अनुसार, हॉलीवुड की ‘सेवन ब्राइड्स फॉर सेवन ब्रदर्स’ के हिंदी रीमेक फिल्म ‘सत्ते पे सत्ता’ में अमिताभ बच्चन ने 1959 शेवरले इम्पाला का इस्तेमाल किया है. ब्राउन कार गाइज डॉट कॉम की एक रिपोर्ट की मानें, तो फिल्म में अमिताभ बच्चन के अलावा उनके अन्य छह भाइयों के किरदार के लिए 1959 शेवरले इम्पाला की पूरी बॉडी को हटाकर मोडिफाई कराया गया. इसमें कस्टम सीटिंग और आर्किटेक्चर को जोड़ा गया. इसमें 1959 शेवरले इम्पाला के स्टीयरिंग व्हील्स और डैशबोर्ड को छोड़कर बॉडी के सभी पार्ट्स को बदल दिया गया था.

Also Read: Amitabh Bachchan: जब अमिताभ बच्चन ने लिया था संन्यास, इतने दिनों तक परिवार से रहे थे दूर

Satte pe Satta Car: शेवरले इम्पाला विंटेज कार की खासियत

बता दें कि Satte pe Satta में इस्तेमाल की गई फुल साइज विंटेज कार को जनरल मोटर्स ने सबसे पहले 1956 में मोटरामा शो में प्रदर्शित किया था. इसे कार्वेट डिजाइन में पेश किया गया था. इसका नाम अफ्रीका के सुंदर हिरण के नाम पर रखा गया था. इसके इंटीरियर में व्हाइट कलर ऑप्शन दिया गया था. जनरल मोटर ने वर्ष 1958 में शेवरले इम्पाला को बाजार में लॉन्च किया था. इसमें 4640 सीसी स्टैंडर्ड वी8 इंजन दिया गया था, जो 185 एचपी (138 किलोवाट), 230 एचपी (170 किलोवाट) और 250 एचपी (190 किलोवाट) के साथ वैकल्पिक रोचेस्टर रैमजेट फ्यूल इंजेक्शन के साथ 250 एचपी (190 किलोवाट) की अधिकतम पावर जेनरेट करने में सक्षम था. शेवरले के 5700 सीसी वी8 के दो वेरिएंट थे.

Also Read: Chinky-Minky Cars: कपिल शर्मा की चिंकी-मिंकी को पसंद हैं ये कारें, अपनी कौन…पता नहीं!

इसका सेकेंड जेनरेशन 1959 शेवरले इम्पाला थी. इसका इंजन आई6 था, जबकि बेस वी8 185 एचपी (138 किलोवाट) पर 4.6 लीटर का कैरीओवर था. वैकल्पिक तौर पर 290 एचपी (220 किलोवाट) के साथ 283 घन मीटर और 335 एचपी (250 किलोवाट) तक 348 घन मीटर (5.7 एल) वी8 इंजन भी दिया गया था. इसमें फ्रंट और रियर आर्मरेस्ट, एक इलेक्ट्रिक वॉच, ड्युअल स्लाइडिंग सन वाइजर और क्रैंक-पावर्ड फ्रंट वेंट विंडो स्टैंडर्ड थे.

महिंद्रा विलीज जीप के बारे में भी जानें

आपको बता दें कि जिस समय अमिताभ बच्चन की फिल्म सत्ते पर सत्ता बनी उस समय महिंद्रा विली जीप ऑफ-रोड गाड़ियों में काफी पॉपुलर थी. यह दो वेरिएंट में आती थी, जिसमें विली लो बोनट और विली सीजे 3 बी 4×4 शामिल थे. एक्स-शोरूम में प्रोडक्शन बंद होने तक इसके बेस वेरिएंट लो बोनट की कीमत करीब 4.03 लाख रुपये थी, जबकि इसके टॉप मॉडल विली सीजे 3 बी 4×4 की कीमत बेस वेरिएंट से करीब 20,000 रुपये अधिक 4.23 लाख रुपये थी.
भारत में करीब 80 सालों तक राज करने के बाद महिंद्रा ने विली जीप का प्रोडक्शन साल 2000 में तब बंद कर दिया, जब उसने स्कॉर्पियो और बोलेरो को बाजार में उतारा था. उस समय विली जीप 2199 सीसी डीजल इंजन के साथ आती थी. यह 6 सीटर ऑफ-रोड एसयूवी थी. इसमें मैनुअल ट्रांसमिशन दिया गया था. विली जीप के 6 सीटर कॉन्फिगरेशन की वजह से ही इसे ‘सत्ते पे सत्ता’ के लिए चुना गया.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें