1. home Home
  2. world
  3. pakistan news mob lynching of sri lankan citizen burnt to death amh

पाकिस्तान में श्रीलंका के नागरिक को पीट-पीटकर मार डाला, फिर जलाया

पुलिस अधिकारी ने बताया कि भीड़ ने संदिग्ध (श्रीलंकाई नागरिक) को फैक्टरी से बाहर खींचा और उससे बुरी तरह मारपीट की. मारपीट के बाद जब उसकी मौत हो गई तो भीड़ ने पुलिस के पहुंचने से पहले उसके शव को जला दिया.

By Agency
Updated Date
पाकिस्तान में श्रीलंका के नागरिक की हत्‍या
पाकिस्तान में श्रीलंका के नागरिक की हत्‍या
twitter

पाकिस्तान से दरिंदगी का मामला सामने आया है. खबर के अनुसार पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में भीड़ ने श्रीलंका के एक नागरिक को पहले तो पीट-पीटकर मार डाला उसके बाद उसके शव को जला दिया. पंजाब पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सियालकोट जिले की एक कपड़ा फैक्टरी में प्रियंता कुमारा महाप्रबंधक के तौर पर कार्यरत थे. जिनके साथ ये दरिंदगी की गई.

क्‍या है मामला

पंजाब पुलिस के अधिकारी ने बताया कि कुमारा ने कट्टरपंथी तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के एक पोस्टर को कथित तौर पर फाड़ दिया था जिसमें कुरान की आयतें लिखी थीं और फिर उसे कचरे के डिब्बे में फेंक दिया. इस्लामी पार्टी का पोस्टर कुमारा के कार्यालय के पास की दीवार पर चिपकाया गया था. फैक्टरी के कुछ कर्मियों ने उन्हें पोस्टर हटाते हुए देखा और फैक्टरी में यह बात बताई.

शव को जला दिया

बताया जा रहा है कि ईशनिंदा की घटना को लेकर आसपास के सैकड़ों लोग फैक्टरी के बाहर इकट्ठा होने लगे. उनमें से अधिकतर टीएलपी के कार्यकर्ता एवं समर्थक थे. पुलिस अधिकारी ने बताया कि भीड़ ने संदिग्ध (श्रीलंकाई नागरिक) को फैक्टरी से बाहर खींचा और उससे बुरी तरह मारपीट की. मारपीट के बाद जब उसकी मौत हो गई तो भीड़ ने पुलिस के पहुंचने से पहले उसके शव को जला दिया.

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

सोशल मीडिया पर कई वीडियो तैर रहे हैं जिसमें दिख रहा है कि श्रीलंकाई नागरिक के शव को घेरे सैकड़ों लोग खड़े हैं. वे टीएलपी के समर्थन में नारे लगा रहे थे. इमरान खान की सरकार ने हाल में टीएलपी के साथ गुप्त समझौता करने के बाद इस कट्टरपंथी संगठन से प्रतिबंध हटा लिया था. समझौते के बाद संगठन के प्रमुख साद रिजवी और 1500 से अधिक कार्यकर्ताओं को जेल से रिहा कर दिया गया जो आतंकवाद के आरोपों में बंद थे.

100 संदिग्ध गिरफ्तार

शुक्रवार देर शाम पंजाब पुलिस ने जानकारी दी कि उन्होंने वीडियो फुटेज के जरिये 100 संदिग्धों की पहचान करने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. पंजाब के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) राव सरदार अली खान ने एक बयान में कहा कि हमने श्रीलंकाई नागरिक की हत्या में कथित रूप से शामिल 100 संदिग्धों को आतंकवाद और अन्य आरोपों के तहत गिरफ्तार किया है. और गिरफ्तारियां की जा रही हैं और इस घटना में शामिल लोगों को बख्शा नहीं जाएगा.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें