29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

स्मृति शेष : शीला ने 15 साल में बदल दी दिल्ली की तस्वीर

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ राजनेता शीला दीक्षित का शनिवार को निधन हो गया. बतौर मुख्यमंत्री उनका कार्यकाल दिल्ली के बदलाव का समय था. दिल्ली को नये रूप में ढालने का श्रेय उन्हीं को जाता है. बात तब की है, जब दिल्ली में रेड लाइट पर फंसने के बाद डीजल बसों के कारण पूरा […]

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ राजनेता शीला दीक्षित का शनिवार को निधन हो गया. बतौर मुख्यमंत्री उनका कार्यकाल दिल्ली के बदलाव का समय था. दिल्ली को नये रूप में ढालने का श्रेय उन्हीं को जाता है.
बात तब की है, जब दिल्ली में रेड लाइट पर फंसने के बाद डीजल बसों के कारण पूरा चेहरा काला हो जाता था. लोगों को जाम से निजात दिलाने के लिए शीला ने पूरी दिल्ली में फ्लाई ओवर बनवाये.
विरोध के बाद दिल्ली की डीजल बसों, खासकर रेड लाइन बसों को बंद कर सीएनजी बसों को अनिवार्य कर दिया गया. फिर तिपहिया स्कूटरों को भी सीएनजी में बदला गया. उसके बाद दिल्ली में हरियाली बढ़ाने के काम हुए. यह नयी तरह की दिल्ली थी जिसे शीला दीक्षित आकार दे रही थी. शीला दीक्षित का राजनीतिक करियर लंबा रहा. 15 साल तक दिल्ली की सत्ता पर काबिज रहने वालीं शीला दीक्षित इससे पहले 1984-89 तक कन्नौज (उप्र) से सांसद रह चुकी हैं.
शीला दीक्षित जी के निधन से गहरा दुख हुआ. उन्होंने दिल्ली के विकास में उल्लेखनीय योगदान दिया. परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना. ओम शांति.‍
नरेंद्र मोदी, पीएम
शीला जी के निधन की खबर सुन कर पूरी तरह से हिल गया. वह कांग्रेस की प्यारी बेटी थी, जिनके साथ मेरी व्यक्तिगत घनिष्ठ निकटता थी.
राहुल गांधी, कांग्रेस नेता

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें