26.1 C
Ranchi
Thursday, February 29, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Mobile Mania : हर दिन स्क्रीन पर चार घंटे बिताते हैं 12 साल तक के 42 फीसदी बच्चे

Mobile Mania in Children - यह सर्वेक्षण 1,500 अभिभावकों के बीच किया गया, जिसमें पाया गया कि 12 साल और उससे अधिक आयु के 69 प्रतिशत बच्चों के पास अपने टैबलेट या स्मार्टफोन हैं जिससे वह इंटरनेट पर बिना किसी रोकटोक के कुछ भी देख सकते हैं.

42 percent children up to 12 years spend upto four hours on screen every day : एक नये सर्वेक्षण में यह पाया गया है कि 12 साल तक की उम्र के कम से कम 42 प्रतिशत बच्चे हर दिन औसतन दो से चार घंटे अपने स्मार्टफोन या टैबलेट से चिपके रहते हैं जबकि इससे अधिक आयु के बच्चे हर दिन 47 फीसदी वक्त मोबाइल फोन की स्क्रीन पर बिताते हैं.

वाईफाई पर चल रहे ‘ट्रैफिक’ पर नजर रखने वाले उपकरण ‘हैप्पीनेट्ज’ कंपनी द्वारा कराये सर्वेक्षण के अनुसार, जिन घरों में कई उपकरण हैं, वहां अभिभावकों के लिए अपने बच्चों के स्क्रीन पर बिताने वाले वक्त को नियंत्रित करना और उन्हें आपत्तिजनक सामग्री देखने से रोकना एक चुनौती है.

Also Read: ALERT: टिकटॉक पर आपत्तिजनक कंटेंट चौंकाने वाली मात्रा में, बच्चों का इस तक पहुंचना बहुत आसान

यह सर्वेक्षण 1,500 अभिभावकों के बीच किया गया, जिसमें पाया गया कि 12 साल और उससे अधिक आयु के 69 प्रतिशत बच्चों के पास अपने टैबलेट या स्मार्टफोन हैं जिससे वह इंटरनेट पर बिना किसी रोकटोक के कुछ भी देख सकते हैं.

सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा गया है, उनमें से 74 प्रतिशत बच्चे यूट्यूब की दुनिया में खो जाते हैं जबकि 12 साल और उससे अधिक आयु के 61 प्रतिशत बच्चे गेमिंग की ओर आकर्षित होते हैं.

Also Read: What Is Moye Moye: मोये मोये ट्रेंड क्या है और यह सोशल मीडिया पर क्यों छा गया है?

इसमें कहा गया है, स्क्रीन पर आधारित मनोरंजन के कारण उनका स्क्रीन पर बिताया वक्त बढ़ जाता है जिससे 12 साल तक की उम्र के 42 प्रतिशत बच्चे हर रोज औसतन दो से चार घंटे स्क्रीन पर नजर गड़ाये रहते हैं तथा 12 साल से अधिक उम्र के बच्चे हर दिन 47 प्रतिशत वक्त स्क्रीन पर बिताते हैं.

हैप्पीनेट्ज की सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी ऋचा सिंह ने कहा, जब शिक्षा से लेकर मनोरंजन तक सब कुछ डिजिटल हो रहा है, तो स्मार्ट उपकरण आज बच्चों के लिए एक सहायक बन गया है. बच्चे अच्छा-खासा वक्त अपने गैजेट्स पर बिताते हैं चाहे वे स्कूल से मिला होमवर्क करना हो, दोस्तों या परिवार के सदस्यों के साथ चैट करना हो या पढ़ाई के लिए ऐप का इस्तेमाल करना हो.

हैप्पीनेट्ज एक ‘पैरेंटल कंट्रोल फिल्टर बॉक्स’ उपलब्ध कराता है, जो 11 करोड़ से अधिक वेबसाइट और ऐप पर नियमित नजर रखता है और उसने 2.2 करोड़ से अधिक आपत्तिजनक वेबसाइट और ऐप को स्थायी रूप से प्रतिबंधित किया है.

Also Read: Viral Photo: स्टूडेंट्स ने एग्जाम पास होने के लिए आंसर शीट में डाले नोट, टीचर ने इसे वायरल करा दिया
Also Read: Anand Mahindra Tweet: सोशल मीडिया पर वायरल हुई चिंपैंजी की यह हरकत, आनंद महिंद्रा ने वीडियो शेयर कर कही यह बात

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें