1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. modi government launch coronavirus tracking corona kavach app for android phones

Corona Kavach App: भारत सरकार का यह ऐप बताएगा कोरोना से कितने सेफ हैं आप

By Rajeev Kumar
Updated Date
corona kavach app
corona kavach app
screenshots

CoVID 19 Tracking Corona Kavach App Launched in India: देश में हर दिन बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण (coronavirus infection) के मामलों को देखते हुए इस पर रोक लगाने के लिए भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और इलेक्ट्रॉनिक व सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय की ओर से मिलकर कोरोना वायरस (COVID-19) ट्रैकर ऐप 'कोरोना कवच ऐप' (corona kavach app) लॉन्च किया गया है.

इस ऐप की मदद से कोरोना के पॉजिटिव मरीजों के बारे में आसानी से पता लगाया जा सकता है. इस ऐप की खासियत यह है कि अगर आपके आसपास कोई भी कोरोना पॉजिटिव केस होगा, तो यह आपको अलर्ट कर देगा. इस ऐप को आप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं. इस समय यह ऐप बीटा वर्जन में डाउनलोड किया जा सकता है.

अलर्ट और डेटा एनालिसिस

जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस ऐप को बनाया गया है. इसकी मदद से आप कोरोना वायरस के प्रकोप और वायरस की के बारे में पता लगा सकते हैं. इसके साथ ही, आप डेटा का एनालिसिस और देश में मौजूदा कोरोना के मामलों के बारे में भी जानकारी हासिल कर सकते हैं. ऐप में अतिरिक्त फीचर्स भी जोड़े गए हैं जिनमें व्यक्ति की सांस लेने की क्षमता और अपने आप को सेल्फ चेक रखना शामिल है.

कोविड ट्रैक कर भेजेगा अलर्ट

कोविड-19 की जानकारी देने के लिए डिजाइन किया गया यह ऐप यूजर के डेटा को हर घंटे ट्रैक कर सकता है. अगर आप किसी भी कोरोना से संक्रमित मरीज के पास से गुजरते हैं तो ट्रकिंग के जरिये यह आपको अलर्ट करता है. ऐप में यूजर को अपने फोन नंबर का इस्तेमाल करके साइन इन करना होता है और उसके जीपीएस को उसकी मूवमेंट को ट्रैक किया जाता है.

प्राइवेसी का भी खास ख्याल

इस ऐप में मौजूद यूजर की निजी जानकारी को किसी भी दूसरे व्यक्ति के साथ शेयर नहीं किया जाएगा, यानी ये पूरी तरह से सुरक्षित है. ऐप के ऑफिशल डिस्क्रिप्शन में लिखा गया है कि ऐप का मकसद यूजर्स को नोवल कोरोना वायरस के बारे में जानकारी देना और डेटा जुटाना है. कोरोना कवच ऐप अभी केवल एंड्रॉयड यूजर्स के लिए उपलब्ध है.

कलर कोड से होगी पहचान

कोई यूजर कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया है या नहीं, ऐप इस बात का पता लगाने के लिए कलर कोड का इस्तेमाल करता है. जहां एक कलर उस यूजर की पहचान करता है जो कभी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में नहीं आया, वहीं दूसरा इस बात की ओर संकेत करता है कि वह उसके नजदीक है. इसके लिए ऐप देश में सभी सकारात्मक पाये गये मामलों की जानकारी का इस्तेमाल करता है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें