1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. as chinese apps gets banned in india tiktok rival chingari app gets stong momentum anand mahindra praises in tweets pm narendra modi govt ban 59 chinese apps amid ladakh faceoff

TikTok बैन होने का फायदा Chingari ऐप को, डाउनलोड में आयी तेजी, आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर कही यह बात

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Indian government has banned 59 Chinese apps, including the popular video-sharing app TikTok. Similar applications like Chingari and Mitron are expected to garner more users in the country
Indian government has banned 59 Chinese apps, including the popular video-sharing app TikTok. Similar applications like Chingari and Mitron are expected to garner more users in the country
chingari

Tik Tok, Chinese Apps Ban in India, Tik Tok Ban India: सोमवार को भारत सरकार ने टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप पर बैन लगा दिया. इसके बाद अब यूजर्स के बीच टिकटॉक के इंडियन वर्जन चिंगारी ऐप को डाउनलोड करने की होड़ सी मच गई है. टिकटॉक पर बैन लगने के कुछ समय बाद ही चिंगारी को लगभग एक लाख लोगों ने डाउनलोड किया और हर घंटे ऐप को 20 लाख व्यूज मिल रहे हैं.

भारत-चीन सीमा पर हुई झड़प के बाद भड़की चीन विरोधी भावनाओं के कारण इसकी लोकप्रियता बढ़ती चली गई. पहले ही इसे 30 लाख लोग डाउनलोड कर चुके हैं. ऐप को बेंगलुरु के प्रोग्रामर बिस्वत्मा नायक और सिद्धार्थ गौतम ने पिछले साल तैयार किया था, जो अब गूगल प्ले स्टोर पर टॉप पर चल रहा है. इसने टिकटॉक का क्लोन कहे जाने वाले मित्रों ऐप को भी पीछे छोड़ दिया है.

चिंगारी ऐप की खूबियों के बारे में बात करें, तो यूजर्स को वीडियो डाउनलोड और अपलोड करने, दोस्तों के साथ चैट करने, नये लोगों के साथ बातचीत करने, कंटेंट शेयर करने और फीड के माध्यम से ब्राउज करने की अनुमति देता है. चिंगारी यूजर्स को व्हाट्सऐप स्टेटस, वीडियो, ऑडियो क्लिप, जीआईएफ स्टिकर और फोटो के साथ क्रिएटिव होने का अवसर मिलता है.

यह ऐप अंग्रेजी, हिंदी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, कन्नड़, पंजाबी, मलयालम, तमिल और तेलुगु जैसी भाषाओं में उपलब्ध है. चिंगारी कंटेंट क्रिएटर के वीडियो वायरल होने पर उन्हें पैसे भी देता है.

बता दें कि चिंगारी ऐप पर अपलोड की गई हर वीडियो पर यूजर को व्यूज के हिसाब से पॉइंट्स मिलते हैं, इन पॉइंट्स को बाद में पैसों में बदला जा सकता है. ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है.

आनंद महिंद्रा ने भी डाउनलोड किया चिंगारी ऐप

उद्योगपति आनंद महिंद्रा, जिन्होंने कभी टिकटॉक यूज नहीं किया, ने भी चिंगारी को डाउनलोड किया और इसके बारे में ट्वीट करते हुए कहा, आपको और अधिक शक्ति.

Posted By - Rajeev Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें