1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. tiktok statement on ban in india indo china border dispute 59 chinese apps ban in india tiktok india

TikTok Ban: गूगल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर से हुई छुट्टी, तो टिकटॉक ने दी सफाई- किसी से डेटा शेयर नहीं किया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
tiktok statement on ban in India
tiktok statement on ban in India
social media

TikTok Statement on Ban in India: भारत सरकार की ओर से प्रतिबंध लगाये जाने के बाद टिकटॉक की ओर से बयान आया है कि वह आदेश के पालन करने की प्रक्रिया में है.

वहीं, गूगल प्ले स्टोर और आईफोन से टिकटॉक को हटा दिया गया है. देशभर में मशहूर शॉर्ट वीडियो सर्विस ने कहा है, भारतीय कानून के तहत डेटा को गोपनीय रखना और सुरक्षा जरूरतों का पालन करना जारी रखा जाएगा.

इसके साथ ही टिकटॉक ने अपने बयान में कहा है, हमने किसी भी भारतीय टिकटॉक यूजर की कोई भी जानकारी विदेशी सरकार या फिर चीन की सरकार को नहीं दी है.

टिकटॉक इंडिया के हेड निखिल गांधी ने एक बयान में कहा, हमें स्पष्टीकरण और जवाब देने के लिए संबंधित सरकारी हितधारकों से मिलने के लिए आमंत्रित किया गया है.

बता दें कि भारत-चीन सीमा यानी LAC और गलवान घाटी में चल रहे विवाद और बीते दिनों हुए हिंसक झड़प और हमारे 20 जवानों की शहादत के बाद भारत सरकार ने अब चीन पर पलटवार करना शुरू कर दिया है.

इस बाबत देश में काफी समय से Boycott China मुहिम चलायी जा रही थी. इसी कड़ी में भारत सरकार ने 59 चीनी मोबाइल ऐप्स को (59 Chinese Apps Ban In India) भारत में बैन कर दिया है. इन ऐप्स में सबसे बड़ा नाम है टिकटॉक का.

टिकटॉक इस देश में कई लोगों के लिए कमाई का जरिया, तो कइयों के लिए फेवरेट टाइमपास भी बन चुका है. भारत सरकार द्वारा ऐप्स को बैन करने के बाद टिकटॉक (TikTok Ban In India) भी इसकी लपेट में आ चुकी है. इसी बाबत टिकटॉक इंडिया (TikTok India) ने बयान जारी किया है.

टिकटॉक इंडिया के प्रमुख निखिल गांधी ने टिकटॉक इंडिया के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए लिखा है- भारत सरकार द्वारा 59 मोबाइल ऐप्स को बैन करने का फैसला लिया गया है. हम इस आदेश का अनुपालन करेंगे. इस बाबत हम सरकारी एजेंसियों से मुलाकात कर सफाई पेश करेंगे.

ट्वीट में आगे लिखा गया है- टिकटॉक भारत के कानून का सम्मान करता है. टिकटॉक कंपनी द्वारा उपभोक्ताओं के डाटा को टीनी सरकार या किसी भी विदेशी सरकार को नहीं भेजा गया है. अगर हमें डाटा को शेयर करने के लिए भी कहा जाता तो भी हम ऐसा नहीं करते.

Posted By - Rajeev Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें