26.5 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Kunal Ghosh : और बढ़ी दूरी, तृणमूल ने स्टार प्रचारक सूची से भी कुणाल घोष को किया बाहर

Kunal Ghosh : पहले चार चरणों के लिए तृणमूल के स्टार प्रचारकों के सूची में घोष का नाम शामिल रहा है.घोष पार्टी में नयी पीढ़ी के नेताओं को अधिक महत्व दिये जाने पर जोर देते रहे हैं और उन्होंने मार्च में पार्टी प्रवक्ता एवं राज्य महासचिव पद से इस्तीफा देने की इच्छा व्यक्त की थी.

Kunal Ghosh : पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस ने पार्टी के रुख से अलग बयान देने के लिए बुधवार को ही कुणाल घोष (Kunal Ghosh) को पार्टी के प्रदेश महासचिव पद से हटा दिया. तृणमूल ने यह कदम कोलकाता उत्तर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार तापस राय के साथ उनके मंच साझा करने और उनकी प्रशंसा करने के कुछ घंटों बाद उठाया था. इसके एक दिन बाद ही यानी गुरुवार को श्री घोष लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण के तहत होने वाले मतदान के लिए पार्टी द्वारा जारी की गयी स्टार प्रचारकों की सूची से भी बाहर कर दिये गये हैं.

हले चार चरणों के लिए तृणमूल के स्टार प्रचारकों के सूची में घोष का नाम शामिल रहा

हालांकि. इसके पहले चार चरणों के लिए तृणमूल के स्टार प्रचारकों के सूची में घोष का नाम शामिल रहा है.घोष पार्टी में नयी पीढ़ी के नेताओं को अधिक महत्व दिये जाने पर जोर देते रहे हैं और उन्होंने मार्च में पार्टी प्रवक्ता एवं राज्य महासचिव पद से इस्तीफा देने की इच्छा व्यक्त की थी. इसके बाद पार्टी ने प्रवक्ता पद से उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया, लेकिन उन्हें महासचिव पद पर बने रहने को कहा. तृणमूल ने एक बयान में कहा, “कुणाल घोष ऐसे विचार व्यक्त कर रहे हैं जो पार्टी के रुख से मेल नहीं खाते हैं. कुणाल घोष को पहले पार्टी प्रवक्ता पद से मुक्त कर दिया गया था. अब उन्हें पश्चिम बंगाल में तृणमूल के महासचिव पद से हटा दिया गया है.

फरक्का की सभा में ममता बनर्जी ने की बीजेपी व अधीर रंजन चौधरी की कड़ी निंदा

राज्य प्रवक्ता के पद से हटाया जाना थी एक चेतावनी

राज्यसभा में तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन द्वारा हस्ताक्षरित एक बयान में मीडिया संगठनों से कहा गया है कि वे घोष के विचारों को पार्टी के रुख से नहीं मिलाएं और ऐसा करने पर कानूनी कार्रवाई की जा सकती है. बयान में कहा गया है, “यह स्पष्ट करना महत्वपूर्ण है कि ये उनके निजी विचार हैं. केवल अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस मुख्यालय से जारी बयानों को ही पार्टी का आधिकारिक रुख माना जाना चाहिए.”पार्टी प्रवक्ता पद से हटाये जाने के बावजूद घोष मौजूदा लोकसभा चुनाव अभियान के दौरान पार्टी मुख्यालय से लगातार संवाददाता सम्मेलन करते रहे हैं. तृणमूल के एक वरिष्ठ नेता ने नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर कहा कि मार्च में उन्हें (कुणाल घोष) राज्य प्रवक्ता के पद से हटाया जाना एक चेतावनी थी और राज्य महासचिव पद से हटाया जाना अंतिम कार्रवाई है.

Amit Shah : अमित शाह ने कहा, ममता दीदी जितना संत्रास करना है कर लो, आपकी और भतीजे की विदाई अब तय

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें