29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बंगाल की सीएम ममता बनर्जी की अपील- दंगा भड़काने वालों के जाल में नहीं फंसना है

ममता बनर्जी ने ईद के मौके पर लोगों से एकजुट रहने की अपील की है उन्होंने कहा कि कुछ लोग चुनाव के दौरान दंगा भड़काने की कोशिश करेंगे. लेकिन हमें उनके जाल में नहीं फंसना है.

कोलकाता : बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों से अपील की है कि वह चुनाव के दौरान दंगा भड़काने वालों के जाल में न फंसे. वह गुरुवार को ईद की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय के लोगों को संबोधित कर रही थी. बंगाल की सीएम कोलकाता के एक मस्जिद में ईद की नमाज में शामिल होने आयी थी. इस दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव नजदीक. इसलिए कुछ लोग दंगा भड़काने की भी कोशिश करेंगे. लेकिन हमें उनके जाल में नहीं फंसना है.

सीएए, एनआरसी पर भी दिया बड़ा बयान

ममता बनर्जी यहीं नहीं रूकी. उन्होंने सीएए, एनआरसी पर भी बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लागू सीएए, एनआरसी को भी हम किसी सूरत में स्वीकार नहीं करेंगे. क्योंकि ये भारत के सेकुलरिज्म के खिलाफ है. उन्होंने आगे कहा कि अगर हम एकजुट होकर रहें तो कोई हमें नुकसान नहीं पहुंचा पाएगा.

Also Read: Mamata Banerjee : शुभेंदु अधिकारी ने राज्य सरकार पर किया कटाक्ष कहा, ममता बनर्जी की तस्वीर लगे नोटबुक का हो रहा वितरण

ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने किया संबोधित

बता दें कि इस मौके पर ममता बनर्जी के भतीजे ने भी लोगों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि इस मिट्टी के सभी लोगों का खून लाल है. हिंदू, मुस्लिम, सिख, इसाई किसी के बाप के नहीं है. इस भाईचारे को बरकरार रखना है. उन्होंने आगे कहा कि कुछ लोग हिंदू को मुसलमान से और मुसलमान को हिंदूओं से लड़ाना चाहते हैं. हमें उनके मंसूबों को पूरा नहीं होने देना है. आने वाले दिनों में उनका जनाजा निकलना चाहिए.

ममता बनर्जी पहले भी सीएए और एनआरसी को लागू नहीं होने देने की कर चुकी है बात

बता दें कि इससे पहले भी बंगाल की मुख्यमंत्री ने नागरिकता संशोधन कानून यानी कि सीएए को विदेशी बनाने का जाल करार दिया था. उन्होंने कहा था कि हम बंगाल में सीएए और एनआरसी की अनुमति नहीं देंगे. साथ ही उन्होंने भाजपा को 200 का आंकड़ा भी पार करने की चुनौती दे डाली थी. साथ ही सीएम बनर्जी ने सांसद महुआ मोइत्रा के ऊपई हुई कार्रवाई का मुद्दा भी उठाया था और इसकी निंदा की थी.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें