1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. abhishek banerjee and rujira narula love story coal smuggling case cbi inquiry mamata banerjee bengal vidhan sabha chunav 2021 latest news rkt

कोयला घोटाला में घिरे अभिषेक बनर्जी और रुजिरा की दिलचस्प है लव स्टोरी, भतीजे की शादी में शामिल नहीं हुई थीं ममता बनर्जी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
अभिषेक बनर्जी और रुजिरा की दिलचस्प है लव स्टोरी
अभिषेक बनर्जी और रुजिरा की दिलचस्प है लव स्टोरी
फोटो - सोशल मीडिया

Bengal Chunav 2021: पश्चिम बंगाल में सरकारी खानों से कोयला चोरी (Coal Scam) की सीबीआइ जांच की आंच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के भतीजे अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) की पत्नी रुजिरा बनर्जी (Rujira Narula) तक पहुंच गयी है. उन पर यह भी आरोप है कि थाई पासापोर्ट धारक होने के बावजूद उन्होंने पैन समेत कई अहम वित्तीय दस्तावेजों में खुद को भारतीय नागरिक बताया है. रुजिरा का थाईलैंड से क्या संबंध है? वह अभिषेक के साथ विवाह बंधन में कैसे बंधीं? इन दिनों यह चर्चा का विषय बना हुआ है.

शादी से पहले रुजिरा का नाम था, रुजिरा नरूला. अभिषेक से उनकी मुलाकात हुई दिल्ली में. उच्च माध्यमिक के बाद अभिषेक बनर्जी बिजनेस मैनेजमेंट की पढ़ाई के लिए दिल्ली गये. उन्होंने आइआइपीएम में दाखिला लिया. रुजिरा भी वहीं पढ़ती थीं. दोनों की दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गयी. कॉलेज से ट्रेनिंग के लिए स्विट्जरलैंड जाने पर उनका रिश्ता और गहरा हुआ. आखिरकार, 24 फरवरी 2012 को उन्होंने शादी कर ली. यह वो वक्त था जब बंगाल में सत्ता परिवर्तन हुआ था, और कुछ महीने पहले ही ममता बनर्जी राज्य की मुख्यमंत्री बनी थीं. विवाह समारोह दिल्ली में हुआ था.

मुख्यमंत्री खुद तो इसमें शामिल नहीं हो पायी थीं, पर तृणमूल कांग्रेस के बहुत से नेताओं ने शिरकत की थी. रुजिरा पंजाबी परिवार से आती हैं. उनका परिवार दिल्ली के खांटी पंजाबी इलाके रजौरी गार्डन का रहने वाला है. उनके पिता का दिल्ली के गफ्फार मार्केट में मोबाइल का कारोबार है. बाद में उन्होंने थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक में रियल एस्टेट व्यवसाय शुरू किया. वहीं पर रुजिरा का जन्म हुआ. बाद में रुजिरा दिल्ली आ गयीं. शादी के बाद रुजिरा के साथ अभिषेक भी थाईलैंड स्थित अपनी ससुराल गये थे. रुजिरा और अभिषेक के दो बच्चे हैं. एक बेटा और एक बेटी.

नागरिकता छिपाने का आरोप

थाईलैंड का नागरिक होने की बात छिपाने के आरोप में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 29 मार्च 2019 में रुजिरा को नोटिस जारी किया था. इसमें कहा गया था कि रुजिरा ने खुद को भारतीय नागरिक बता 14 नवंबर 2009 को पैन कार्ड का आवेदन किया था. इसके अलावा, उनके पीआइओ व ओसीआइ कार्ड के लिए आवेदन में पिता का नाम अलग-अलग होने पर भी उनसे जवाब मांगा गया था.

कस्टम ने भी जारी किया था समन

पिछले लोकसभा चुनाव से पहले की बात है. 15 मार्च 2019 को दमदम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर रुजिरा बैंकॉक से अपनी बहन मेनका के साथ पहुंची थीं. दोनों के पास सात बैग थे. इनमें से दो बैग की तलाशी कस्टम विभाग लेना चाहता था. कस्टम को संदेह था कि रुजिरा थाईलैंड से अवैध ढंग से सोना लेकर आयी हैं. लेकिन पुलिस ने कस्टम को तलाशी नहीं लेनी दी. कस्टम ने इसे लेकर रुजिरा को समन जारी किया था, जिसके खिलाफ वह हाइकोर्ट गयी थीं. अभी मामले की जांच जारी है. इस मामले में तब अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि सियासी वजहों मोदी सरकार उनकी पत्नी को परेशान कर रही है. उन्होंने कहा कि बैग में दो कंगन होने को सोने की तस्करी बताया जा रहा है.

Posted by : Rajat Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें