18.1 C
Ranchi
Thursday, February 22, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यउत्तर प्रदेशKanpur News: कपड़ा कारोबारी के पौत्र की अपहरण के बाद हत्या, महिला टीचर के प्रेमी के घर मिला शव,...

Kanpur News: कपड़ा कारोबारी के पौत्र की अपहरण के बाद हत्या, महिला टीचर के प्रेमी के घर मिला शव, जानें मामला

Kanpur News: किडनैपर ने पत्र में लिखा था कि अगर बच्चे को सही सलामत चाहते हो तो 30 लाख रुपए तैयार रखना. कुछ देर में फोन करके जगह बता देंगे. लेटर में लिखा था, 'मैं नहीं चाहता कि आपका त्योहार बर्बाद हो. आप मेरे हाथ में पैसे रखो और लड़का एक घंटे बाद आपके पास होगा.

Kanpur News: उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद में रायपुरवा में रहने वाले शहर के एक बड़े कपड़ा कारोबारी के पौत्र की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई. उसका शव फजलगंज के ओमपुरवा में महिला ट्यूशन टीचर के प्रेमी के घर से मिला है. बताया जा रहा है कि महिला ट्यूशन टीचर के प्रेमी ने हत्या की है. आरोपी फरार है. फिलहाल पुलिस ने महिला ट्यूशन टीचर को हिरासत में ले लिया है. आरोपी प्रेमी ओमपुरवा निवासी प्रभात शुक्ला को संदेह था कि उसकी प्रेमिका और कुशाग्र के संबंध हैं. इसलिए उसने उसकी हत्या कर अपहरण और फिरौती की साजिश रची. हत्या के बाद उसने शव को घर में ही छिपा कर रखा था. जानकारी पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल कर रही है.

कानपुर के रायपुरवा निवासी कपड़ा कारोबारी संजय कनोडिया का पीरोड पर कपड़ों का बड़ा कारोबार है. उनका पौत्र कुशाग्र कैंट स्थित जयपुरिया स्कूल में हाई स्कूल का छात्र है. उसके पिता मनीष कनौडिया सूरत में कपड़ों का कारोबार संभालते हैं. सोमवार को वह अपनी स्कूटी से शाम करीब 4:30 बजे स्वरूपनगर स्थित कोचिंग सेंटर गया था. शाम 7:30 बजे परिजनों ने घर का कुछ सामान लाने के लिए उसके नंबर पर कॉल किया. लेकिन, फोन स्विच ऑफ था.

Also Read: यूपी में बिजली उपभोक्ताओं को राहत, नए कनेक्शन की दरों में नहीं होगा इजाफा, नियामक आयोग ने माना गैरजरूरी

परिजनों ने कोचिंग और कुशाग्र के दोस्तों से फोन पर जानकारी की. लेकिन, उसका कुछ पता नहीं चल सका. इसके बाद परिजनों ने पुलिस अधिकारियाें को अपहरण की सूचना दी, जिसके बाद पुलिस सक्रिय हुई. इस बीच अपहर्ताओं ने फिरौती की मांग को लेकर एक पत्र कुशाग्र के घर में फेंका. फिरौती की रकम परिजनों ने सार्वजनिक नहीं की. लेकिन, कहा जा रहा है कि इसमें 30 लाख रुपए की मांग की गई.

किडनैपर ने पत्र में लिखा था कि अगर बच्चे को सही सलामत चाहते हो तो 30 लाख रुपए तैयार रखना. कुछ देर में फोन करके जगह बता देंगे. लेटर में लिखा था, ‘मैं नहीं चाहता कि आपका त्योहार बर्बाद हो. आप मेरे हाथ में पैसे रखो और लड़का एक घंटे बाद आपके पास होगा. हम आपको कल फोन करेंगे. अल्लाह हू अकबर.’ पत्र में ये भी लिखा गया कि इस लड़के की गाड़ी और उसका मोबाइल दोनों आपके घर के पास होटल दि सिटी क्लब के पास हैं. मैं आपका नुकसान नहीं चाहता. आपसे बार-बार बोल रहा हूं कि घबराओ ना. आप अल्लाह पर भरोसा रखो.

जानकारी मिलने पर पुलिस कमिश्नर, जेसीपी आनंद प्रकाश तिवारी, नीलाब्जा चौधरी, एडीसीपी आरती सिंह फोर्स समेत कारोबारी के घर पहुंचे और बातचीत की. इसके बाद पुलिस को जीटी रोड स्थित गुंजन टॉकीज के पास से कुशाग्र की स्कूटी लावारिस हालात में खड़ी मिली. पुलिस की टीमों ने छात्र की तलाश में कई जगह छापेमारी की लेकिन, उसका पता नहीं चला. बाद में उसका शव मिला. इस मर्डर की पूरे शहर में चर्चा है.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें