19.1 C
Ranchi
Thursday, February 22, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यउत्तर प्रदेशगाजियाबाद: दबिश देने गई नोएडा एसओजी पर हमला, पुलिसकर्मियों के साथ की मारपीट, कार भी तोड़ी

गाजियाबाद: दबिश देने गई नोएडा एसओजी पर हमला, पुलिसकर्मियों के साथ की मारपीट, कार भी तोड़ी

गाजियाबाद में नोएडा पुलिस टीम लूट-चोरी का मोबाइल ट्रेस करते हुए मसौता गांव में दबिश देने के लिए पहुंची थी. इस दौरान गांव के लोगों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया.

गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र में नोएडा के सेक्टर-63 की स्पेशल आपरेशन ग्रुप (एसओजी) टीम लूट-चोरी का मोबाइल ट्रेस करते हुए मसौता गांव में दबिश देने के लिए पहुंची थी. इस दौरान गांव के लोगों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया. खेत से गन्ने तोड़कर पुलिसवालों को बुरी तरह से पीटा. इसमें दरोगा राहुल और हेड कांस्टेबल वरुण घायल हो गए. जिस क्रेटा गाड़ी में पुलिस टीम आई थी, उसमें भी तोड़फोड़ की. पुलिस टीम का कहना है कि उनकी गाड़ी के सामने एक कार आ गई थी. उसे हटाने के लिए कहने पर उसमें सवार चार युवकों ने हमला किया. उनके शोर मचाने पर और लोग भी आ गए. उनका साथ देते हुए उन्होंने भी पीटा.

डीसीपी ग्रामीण विवेक यादव ने बताया कि जांच में पता चला कि गांव के ही रहने वाले मूले चौहान, विशाल, अंकित, अभिषेक और रिंकू ने 40-50 ग्रामीणों के साथ मिलकर हमला किया है. अंकित व अभिषेक पूर्व प्रधान सतीश के बेटे हैं. आरोपियों को पकड़ने के लिए टीम गठित करके दबिश दी जा रही है. दरोगा राहुल ने मसूरी थाने में एफआईआर दर्ज कराई है. पुलिस ने अभिषेक को हिरासत में ले लिया है. अन्य तीन नामजद आरोपी घर पर नहीं मिले हैं. उनके आसपास के लोग भी घर पर ताला लगाकर चले गए हैं. हमले के बाद गाजियाबाद और नोएडा पुलिस भी गांव में पहुंच गई थी. हमलावर एक कार और एक ट्रैक्टर छोड़कर भाग गए. दोनों को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है. नोएडा पुलिस ने बताया कि लूट का एक मोबाइल मसौता में चलने की जानकारी मिली थी. उसकी तलाश में ही यहां टीम आई थी.

सादे कपड़ों में थे पुलिसवाले

हमले की घटना में नोएडा पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई. एसओजी के चार सदस्यों में से तीन ने पुलिस की वर्दी नहीं पहन रखी थी. सिर्फ एक सिपाही पुलिस की वर्दी में था. पुलिसवाले जिस क्रेटा गाड़ी में आए, उस पर कोई नंबर प्लेट भी नहीं थी. इतना ही नहीं, नोएडा पुलिस ने गांव में दबिश देने से पहले मसूरी थाना पुलिस को सूचना भी नहीं दी. नियम के अनुसार पहले थाने में आमद दर्ज कराई जाती है. पूर्व में भी इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं जब पुलिस बिना सूचना के दूसरे जिले में आई और मुश्किल में पड़ गई. वहीं गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट के डीसीपी ग्रामीण विवेक यादव ने बताया कि नोएडा के थाना सेक्टर-63 की पुलिस गांव मसौता में रविवार दोपहर आई थी. पुलिस टीम गांव के अंदर एंट्री कर रही थी, तभी रास्ते से वाहन निकालने को लेकर उनकी कुछ लोगों से कहासुनी हो गई. ये विवाद बढ़ गया और लोगों ने पुलिसकर्मियों की पिटाई शुरू कर दी. पुलिसकर्मी सादा कपड़े पहने हुए थे, इसलिए लोग संभवत: उन्हें पहचान नहीं पाए.

पुलिसकर्मियों से मारपीट हुई है. चार पुलिसकर्मियों को हापुड़ रोड पर रामा हॉस्पिटल में भर्ती कराया है. नोएडा पुलिस ने पिस्टल लूटे जाने की सूचना भी दी है. डीसीपी विवेक यादव ने बताया कि गाजियाबाद पुलिस के एसीपी और मसूरी थाने की पुलिस मौके पर है. नोएडा में सेक्टर-63 थाने के SHO को भी सूचना दी गई है. वो भी घटनास्थल पर पहुंच रहे हैं. मामले में आवश्यक कार्रवाई की जा रही है.

Also Read: UP News: यूपी एटीएस ने आईएसआई के लिये सेना की जासूसी करने वाले दो संदिग्धों को किया गिरफ्तार, मिले अहम सुराग

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें