1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. gorakhpur
  5. gorakhnath temple attack ats searched room of murtaza ahmed abbasi found this special item acy

Gorakhnath Temple Attack: मुर्तजा अहमद अब्बासी के कमरे की एटीएस ने ली तलाशी, मिला यह खास सामान

गोरखनाथ मंदिर में सुरक्षा कर्मियों पर हमला करने के आरोपी मुर्तजा अहमद अब्बासी के पिता मुनीर अब्बासी, जो अपने बेटे को बीमार बता रहे थे, एटीएस की पूछताछ में वह अब टूटते नजर आ रहे हैं. वह यह स्वीकार रहे हैं कि उनका बेटा कट्टर हो चुका था.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
मुर्तजा अहमद अब्बासी
मुर्तजा अहमद अब्बासी
प्रभात खबर

Gorakhnath Temple Attack Case: गोरखनाथ मंदिर के सुरक्षा कर्मियों पर हमले के आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी की रिमांड अवधि बढ़ने के बाद एटीएस मुर्तजा को लेकर और जानकारी व सबूत जुटाने में लग गई है. एटीएस मुर्तजा के साथ उसके घर पर गई और उसके कमरे की तलाशी ली. इस दौरान कमरे से एक डोंगल बरामद हुआ है, जिसे एटीएस ने अपने कब्जे में रखा है. एटीएस डोंगल को कब्जे में लेकर छानबीन कर रही है.

मुर्तजा को लेकर गोरखपुर पहुंची एटीएस

बता दें, मंगलवार की दोपहर एटीएस की एक टीम गोरखपुर पहुंची. अहमद मुर्तजा अब्बासी 5 अप्रैल से ही एटीएस की कस्टडी में है. 11 अप्रैल को मुर्तजा की रिमांड खत्म हो गई थी, लेकिन और पूछताछ की जरूरत बताते हुए एटीएस ने रिमांड अवधि बढ़ाने की मांग की थी. कोर्ट ने 16 अप्रैल की दोपहर 12:00 बजे तक के लिए मुर्तजा की रिमांड अवधि बढ़ा दी है.

माता-पिता से भी पूछताछ करेगी एटीएस

मुर्तजा के माता-पिता को पूछताछ के लिए एटीएस ने लखनऊ मुख्यालय पर बुलाया था. दोनों एक सप्ताह से लखनऊ में ही हैं. गोरखपुर से लौटने के बाद एटीएस टीम उनसे पूछताछ करेगी. फिलहाल सूत्रों का दावा है कि रिमांड के दौरान सिर्फ मुर्तजा ही नहीं, बल्कि उसका पूरा परिवार भी टूटता हुआ नजर आ रहा है. अब तक अपने बेटे को मानसिक रूप से बीमार बताने वाले मुर्तजा के पिता मुनीर अब्बासी इस बात को स्वीकार रहे हैं कि उनका बेटा मुर्तजा कट्टर हो चुका था. इसी वजह से वह समाज से अलग रहता था और अकेले रहने की आदत से ही उसने यह ेकदेसम उठा लिया.

एटीएस को जल्द मिलेगी फॉरेंसिक रिपोर्ट

एटीएस को जल्द ही मुर्तजा के पास से बरामद मोबाइल, लैपटॉप और अन्य चीजों की फॉरेंसिक रिपोर्ट मिल जाएगी, जिससे इस केस से जुड़ी कड़ियों को जोड़ने में एटीएस को मदद मिल सकती है. फिलहाल एटीएस मुर्तजा के माता-पिता उनके रिश्तेदारों और करीबियों के बयानों और सबूतों के मिलान कर किसी निष्कर्ष तक पहुंचने लगी है. हालांकि अगर 16 अप्रैल तक इस मामले की जांच पूरी नहीं हुई तो एटीएस एक बार फिर कोर्ट में मुर्तुजा की रिमांड बढ़ाने की अर्जी दे सकती है, जबकि कयास यह भी लगाया जा रहा है कि इसी दौरान एटीएस मुर्तुजा के खिलाफ सबूत जुटाकर कोर्ट में पेश कर सकती है.

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चश्मदीदों के बयान दर्ज कर रही एटीएस

गोरखनाथ परिसर में सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने वाले अहमद मुर्तजा अब्बासी के विरुद्ध अपने केस को मजबूत आधार देने के लिए एटीएस अहम सुबूत जुटाने में लग गई है. एटीएस ने गोरखनाथ मंदिर परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरे और गोरखनाथ मंदिर के इर्द-गिर्द लगे सीसीटीवी फुटेज के आधार पर चिन्हित चश्मदीदों के बयान भी दर्ज कर रही है. एटीएस ने गोरखपुर से नेपाल सीमा पर जाने तथा वापस मंदिर परिसर तक पहुंचने का पूरा रोड मैप भी तैयार किया है.

एटीएस मुर्तजा के संपर्क में रहे लोगों और उसके परिवार के बयानों के साथ ही मुर्तजा के बयान की कड़ियां भी जोड़ने में लग गई है. ताकि जल्द से जल्द वह किसी नतीजे तक पहुंच सके. हालांकि सूत्रों का यह भी दावा है कि मुर्तजा ने अपने गुनाह को कबूल कर लिया है. उसके पास से एटीएस को कई अहम सबूत भी हाथ लगे हैं.

मुर्तजा के पिता मुनीर अब्बासी, जो अपने बेटे को बीमार बता रहे थे, एटीएस की पूछताछ में वह अब टूटते नजर आ रहे हैं. वह यह स्वीकार रहे हैं कि उनका बेटा कट्टर हो चुका था. एटीएस टीम ने मानसिक रूप से बीमार बेटे के बैंक खाते में करीब 20 लाख रुपये रखने और उसे देश भर में हवाई यात्रा कराने और विदेश भेजी गई रकम के बारे में सवाल कर रही है तो वह खामोश हो जा रहे हैं.

रिपोर्ट- कुमार प्रदीप

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें