1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. simdega
  5. two accused seeking extortion from simdega businessman in the name of plfi arrested from ranchi sam

पीएलएफआई के नाम पर सिमडेगा के व्यवसायी से रंगदारी मांगने वाले 2 आरोपी रांची से गिरफ्तार

नक्सली संगठन पीएलएफआई के नाम पर रंगदारी मांगने के आरोप में सिमडेगा पुलिस ने रांची से 2 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. एसपी डॉ शम्स तबरेज ने गुप्त सूचना के आधार पर सिमडेगा पुलिस टीम को रांची में छापामारी करने का आदेश दिया था. छापामारी अभियान में सिमडेगा पुलिस ने रांची स्थित जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र निवासी आशीष राजवा तथा संतोष लोहरा को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : पीएलएफआई के नाम पर रंगदारी मांगने वाले 2 आरोपियों की गिरफ्तारी संबंधी जानकारी देते सिमडेगा एसपी डॉ शम्स तबरेज.
Jharkhand news : पीएलएफआई के नाम पर रंगदारी मांगने वाले 2 आरोपियों की गिरफ्तारी संबंधी जानकारी देते सिमडेगा एसपी डॉ शम्स तबरेज.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Simdega news : सिमडेगा (रविकांत साहू) : नक्सली संगठन पीएलएफआई के नाम पर रंगदारी मांगने के आरोप में सिमडेगा पुलिस ने रांची से 2 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. एसपी डॉ शम्स तबरेज ने गुप्त सूचना के आधार पर सिमडेगा पुलिस टीम को रांची में छापामारी करने का आदेश दिया था. छापामारी अभियान में सिमडेगा पुलिस ने रांची स्थित जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र निवासी आशीष राजवा तथा संतोष लोहरा को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की.

पीएलएफआई के नाम पर आशीष राजवार तथा संतोष लोहरा सिमडेगा के व्यवसायियों को फोन कर रंगदारी की मांग करता था. रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी देता था. इस मामले में पहले से सिमडेगा थाना में कांड संख्या 5820, धारा 358, 387, 389 के तहत एफआईआर दर्ज किया जा चुका था.

एसपी डॉक्टर शम्स तबरेज ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि आशीष राजवार रांची जिला के जगरन्नथपुर थाना रजवार मुहल्ला तथा संतोष लोहरा रांची के जगरन्नथपुर थाना के मौसीबाड़ी गांव का रहने वाला है. दोनों को पीएलएफआई के नाम पर रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

xएसपी ने बताया कि कांड के मास्टरमाइंड की भी तलाश पुलिस कर रही है. एसपी ने यह भी कहा कि शहरी क्षेत्र के प्रिंस चौंक में वर्ष 2009 में गालीबारी की घटना में भी शामिल थे. इस छापेमारी दल में थाना प्रभारी रवींद्र कुमार सिंह, पुनि दयानंद कुमार, सर्वजीत कुमार, अक्षय कुमार, प्रामेद कुमार, सुनील कुमार शामिल थे.

पुलिस लोगों की सहायता के लिए हमेशा उपलब्ध : एसपी

इधर, एसपी डॉ शम्श तबरेज ने कहा कि जिले के नागरिकों व व्यापारियों को सुरक्षा तथा संरक्षण देना पुलिस की जिम्मेवारी है. व्यापारी किसी भी मामले में एक बार पुलिस को मौका दें. किसी भी समय नागरिक कोई भी पुलिस पदाधिकारियों को अपनी समस्या से अवगत करा सकते हैं. उस पर पुलिस तत्काल कार्रवाई करेगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें