25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

झारखंड: राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन बोले, विकसित भारत का लक्ष्य पूरा करने के लिए करनी होगी कड़ी मेहनत

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने कहा कि विकसित भारत @2047 का लक्ष्य शिक्षा, स्वास्थ्य, अन्तरिक्ष, कृषि, उद्योग, खेल एवं अन्य क्षेत्रों में सर्वांगीण विकास है. हम भारत को फिर ‘विश्वगुरु’ के रूप में देखना चाहते हैं. अपने राष्ट्र को विश्व की आर्थिक महाशक्ति के रूप में देखना चाहते हैं.

रांची: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए ‘विकसित भारत@2047: Voice of Youth’ कार्यक्रम से झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन राजभवन में शिक्षाविदों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े. इस कार्यक्रम में राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपति, शैक्षणिक संस्थानों के प्रमुख, शिक्षाविद एवं अन्य गणमान्य उपस्थित थे. राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने कहा कि विकसित भारत के लक्ष्य को पूरा करने के लिए हम सभी को कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से भारत आज दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बनने की ओर अग्रसर है. प्रधानमंत्री निरंतर प्रयासरत हैं कि इस देश का प्रत्येक व्यक्ति आर्थिक रूप से समृद्ध हो. अमृत काल में भारत कई मोर्चों पर तेजी से प्रगति कर रहा है. समग्र शिक्षा जैसी योजनाओं के तहत बुनियादी ढांचे का व्यापक विस्तार किया गया है.

भारत को विश्वगुरु के रूप में देखना चाहते हैं

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने कहा कि विकसित भारत @2047 का लक्ष्य देश के प्रत्येक क्षेत्र जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, अन्तरिक्ष, कृषि, उद्योग, खेल एवं अन्य क्षेत्रों में सर्वांगीण विकास है. हम भारत को फिर ‘विश्वगुरु’ के रूप में देखना चाहते हैं. अपने राष्ट्र को विश्व की आर्थिक महाशक्ति के रूप में देखना चाहते हैं जो दूसरे के प्रति भी करुणा रखता है. कोरोना महामारी काल में हमारे वैज्ञानिकों के अथक प्रयास से ही बहुत कम समय में कोविड टीका विकसित किया गया. हमारे देश के लोगों का न केवल वृहत पैमाने पर टीकाकरण हुआ, बल्कि मानवता की रक्षा के लिए अन्य कई देशों को निःशुल्क टीका भेजा गया. उन्होंने कहा कि 2047 में सभी क्षेत्रों में समग्र विकास करना है और विकास के इस परिभाषा को गढ़ने में हमारे शैक्षणिक संस्थानों को आगे बढ़कर योगदान करना होगा तथा विद्यार्थियों को सही दिशा प्रदान करना होगा.

Also Read: झारखंड: उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ XLRI के प्लेटिनम जुबली समारोह में बोले, जमशेदपुर नवाचार व उद्यम का है प्रतीक

प्राकृतिक संसाधनों का समुचित लाभ आप तक पहुंचना जरूरी

झारखंड के राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने विश्वविद्यालयों में स्वच्छ वातावरण की बात कही. उन्होंने कहा कि सभी संसाधन होने के बाद भी यथोचित विकास नहीं हो पाता है क्योंकि वहां पर सही मायने में प्रेरक अपनी भूमिका नहीं निभा पाते हैं. आज प्रधानमंत्री सबसे बड़े प्रेरणास्रोत हैं और इस कारण संसाधनों का सही उपयोग हो पा रहा है और देश प्रगति के पथ पर अग्रसर है. उन्होंने कहा कि झारखंड विकसित तभी होगा, जब यहां के लोग विकसित होंगे और यहां के लोग तभी विकसित होंगे जब प्राकृतिक संसाधनों का समुचित लाभ उन तक पहुंच पाएगा. इस अवसर पर राज्यपाल ने सभी की समृद्धि एवं खुशहाली की कामना की.

Also Read: झारखंड: उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ IIT ISM के 43वें दीक्षांत समारोह में छात्रों से बोले, टेक्नोलॉजी से जुड़ें

कार्यशाला में ये थे मौजूद

इस अवसर पर आयोजित वृहत कार्यशाला में आईआईएम रांची के निदेशक डॉ दीपक श्रीवास्तव, झारखंड यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी के कुलपति प्रो डीके सिन्हा, रांची विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ अजीत कुमार सिन्हा, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ तपन कुमार शांडिल्य, संकायाध्यक्ष, वानिकी, बिरसा कृषि विश्वविद्यालय डॉ एमएस मलिक, प्राचार्य, रांची महिला महाविद्यालय डॉ सुप्रिया, इक्फ़ाई विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रमण कुमार झा आदि समेत कई शिक्षाविदों ने विकसित भारत @2047 पर अपने विचार प्रकट किए.

Also Read: झारखंड: तेलंगाना के व्यक्ति से ठगी करनेवाले बिहार के तीन साइबर अपराधियों को लातेहार पुलिस ने ऐसे दबोचा

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें