1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. ram navami 2021 instructions to take special vigilance in these 4 districts in ramnavami preparations are being made to take out the procession despite the governments refusal srn

Ram Navmi 2021 : रामनवमी में झारखंड के इन 4 जिलों में विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश, सरकार की मनाही के बावजूद जुलूस निकालने की हो रही तैयारी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
रामनवमी में इन 4 जिलों में विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश
रामनवमी में इन 4 जिलों में विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश
फाइल फोटो

Jharkhand News, Ranchi News, Ram Navmi 2021 रांची : राज्य में रामनवमी को लेकर विधि-व्यवस्था के लिए रांची, जमशेदपुर, गिरिडीह और देवघर में विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है. पुलिस मुख्यालय ने अपनी रिपोर्ट में इन सभी जिलों के एसपी को विशेष निर्देश दिया है. इसमें कहा गया है कि इस वर्ष रामनवमी 21 अप्रैल को मनाये जाने की संभावना है.

कोरोना के कारण त्योहार पर सार्वजनिक स्थलों पर समारोह, सभा, जुलूस और शोभायात्रा निकालने की अनुमति नहीं है, पर विधि-व्यवस्था के लिए विशेष सतर्कता बरतनी होगी. क्योंकि होली पर गिरिडीह, रामगढ़, हजारीबाग और चाईबासा आदि जिलों में सांप्रदायिक झड़प की घटना हुई थी. असामाजिक तत्वों पर निगरानी रखने और उनके खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया गया है.

रामनवमी-सरहुल में जुलूस निकालने का हो रहा प्रयास :

रिपोर्ट में बताया गया है कि पुलिस मुख्यालय को इसकी भी सूचना मिली है कि इन जिलों में विभिन्न संगठनों द्वारा सरकार के आदेश के विपरीत रामनवमी और सरहुल पर्व पर जुलूस निकालने का प्रयास हो रहा है. रांची जिले में कुल मिलाकर 1800 छोटे-बड़े महावीर अखाड़े हैं, जिनके द्वारा जुलूस निकाला जाता है. 30 मार्च को विभिन्न संगठनों ने जुलूस निकाला था.

इसे देखकर सरहुल मनानेवाले संगठनों द्वारा भी सरहुल जुलूस निकालने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है. हजारीबाग में 30 मार्च को विभिन्न अखाड़े के लोगों द्वारा मंगला जुलूस निकालने का प्रयास किया गया था. जिसे स्थानीय प्रशासन ने रोका था. रिपोर्ट में इसका भी उल्लेख है कि सांसद जयंत सिन्हा द्वारा भी कई जगहों पर सार्वजनिक भाषण के दौरान रामनवमी पर्व मनाने के संबंध में कहा गया है. लोगों को उकसाया गया है.

एक स्थानीय जनप्रतिनिधि द्वारा ऐसा करने से स्थानीय लोगों में जुलूस निकालने को लेकर तत्परता देखी जा रही है. इसके साथ ही जिला अंतर्गत विभिन्न थाना क्षेत्र में स्थानीय भाजपा नेता और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को घूम-घूमकर जुलूस निकालने के लिए उत्प्रेरित करने की सूचना का भी उल्लेख रिपोर्ट में है. गिरिडीह जिला में भी विभिन्न संगठनों द्वारा जुलूस निकालने की योजना बनायी जा रही है.

मधुपुर अनुमंडल को भी बताया संवेदनशील

रिपोर्ट में कहा गया है कि देवघर जिला अंतर्गत आगामी मधुपुर विधानसभा उपचुनाव के मद्देनजर विशेष कर मधुपुर अनुमंडल सांप्रदायिक दृष्टिकोण से अति महत्वपूर्ण है. इस क्षेत्र में चुनाव के पूर्व में और चुनाव के दौरान भी सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए घटनाएं होती रही हैं.

देवघर जिला में मंगलवारी जुलूस निकालने की कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है. लेकिन विगत दिनों सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर कर रामनवमी जुलूस का आदेश प्राप्त करेंगे, जिससे हिंदू संगठन धीरे-धीरे गोलबंद हो रहे हैं. विपक्षी पार्टी के भड़कावे में आकर तथा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के लिए देवघर जिले में भी रामनवमी जुलूस निकालने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है.

  • विधि व्यवस्था के लिए पुलिस मुख्यालय ने तैयार की रिपोर्ट

  • रांची, जमशेदपुर, गिरिडीह और देवघर में विभिन्न संगठनों की ओर से जुलूस निकालने की तैयार

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें