1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. on april 4 hindpiri residents had met the woman with signs of corona had taken a sample and sent it home

चार अप्रैल को ही हिंदपीढ़ी निवासी महिला में मिले थे कोरोना के लक्षण, सैंपल लेकर घर भेज दिया था

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मुंगेर के असरगंज प्रखंड क्षेत्र के अमैया गांव में कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज को पूरे परिवार के साथ टेस्ट के लिए मुंगेर सदर अस्पताल भेज दिया गया। इस मामले में डॉ विपिन कुमार ने बताया कि विगत 4 दिन पूर्व युवक दिल्ली से अपने ससुराल आया था। उसे खांसी एवं बुखार थी। संदिग्ध मरीज के साथ साथ परिवार के नौ अन्य सदस्य को भी टेस्ट के लिए साथ में भेजा गया है। इस मौके पर लैब टेक्नीशियन राहुल कुमार एनएम ललिता कुमारी सुमन कुमारी उपस्थित थी
मुंगेर के असरगंज प्रखंड क्षेत्र के अमैया गांव में कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज को पूरे परिवार के साथ टेस्ट के लिए मुंगेर सदर अस्पताल भेज दिया गया। इस मामले में डॉ विपिन कुमार ने बताया कि विगत 4 दिन पूर्व युवक दिल्ली से अपने ससुराल आया था। उसे खांसी एवं बुखार थी। संदिग्ध मरीज के साथ साथ परिवार के नौ अन्य सदस्य को भी टेस्ट के लिए साथ में भेजा गया है। इस मौके पर लैब टेक्नीशियन राहुल कुमार एनएम ललिता कुमारी सुमन कुमारी उपस्थित थी

रांची : हिंदपीढ़ी की 54 वर्षीय महिला में कोरोना से पीड़ित होने के लक्षण चार अप्रैल को ही मिल गये थे. लेकिन, महिला का सैंपल लेकर उसे घर भेज दिया गया था. कोराेना संदिग्ध होने पर महिला को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर लिया जाता, तो कुछ और लोगों के कोरोना संदिग्ध होने की संभावना नहीं रहती.

महिला को दो दिन तक घर में रखा गया. सोमवार को जब महिला की जांच रिपोर्ट आयी है, तो जाकर रिम्स प्रबंधन अौर जिला प्रशासन की नींद खुली. आनन-फानन में महिला को रिम्स के कोविड-19 अस्पताल में लाया गया.

इधर, महिला के परिजनाें की जांच रिपोर्ट मंगलवार की देर रात को आने की उम्मीद है. टास्क फोर्स की टीम व जिला प्रशासन को रिपोर्ट आने तक चिंता लगी है. उनको यह लग रहा है कि कहीं इस लापरवाही के कारण घर परिवार के अलावा मोहल्ला के लोग तो प्रभावित न हो गये हों.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें