23.1 C
Ranchi
Friday, February 23, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यझारखण्डरांची के कोकर औद्योगिक क्षेत्र में गंदगी का लगा अंबार, जियाडा में RD का पद खाली

रांची के कोकर औद्योगिक क्षेत्र में गंदगी का लगा अंबार, जियाडा में RD का पद खाली

तत्कालीन आरडी अजय कुमार सिंह 26 जुलाई 2023 को सिमडेगा डीसी के रूप में स्थानांतरित किये गये थे. तब से लेकर अब तक जियाडा रांची प्रक्षेत्र में आरडी का पदस्थापन नहीं किया गया है.

रांची : रांची स्थित विभिन्न इंडस्ट्रियल एरिया में इन दिनों गंदगी का अंबार लगा हुआ है. खासकर कोकर इंडस्ट्रियल एरिया में पिछले छह महीने से कचरा उठाने और नाली की साफ-सफाई का काम बंद है. इसके पीछे कारण जियाडा रांची प्रक्षेत्र (पूर्व में रियाडा) में क्षेत्रीय निदेशक का नहीं होना बताया जा रहा है. जिस कारण सफाई के लिए राशि स्वीकृत नहीं हो पा रही है. पिछले छह माह से क्षेत्रीय निदेशक (आरडी) का पद रिक्त है.

पूर्व आरडी के तबादले के बाद से पद है खाली

तत्कालीन आरडी अजय कुमार सिंह 26 जुलाई 2023 को सिमडेगा डीसी के रूप में स्थानांतरित किये गये थे. तब से लेकर अब तक जियाडा रांची प्रक्षेत्र में आरडी का पदस्थापन नहीं किया गया है. इस कारण उद्यमियों के काम तो रुके हुए हैं ही, औद्योगिक क्षेत्रों में नाली सफाई जैसा सामान्य मेंटेनेंस का काम भी बंद हो गया है. रांची के कोकर, तुपुदाना, टाटीसिलवे, इरबा, कुल्ही समेत अन्य औद्योगिक क्षेत्रों में कचरा हटाने, नाली सफाई, स्ट्रीट लाइट आदि मेंटेनेंस का काम बंद हो गया है. इस कारण औद्योगिक क्षेत्रों में कचरा का अंबार लगा हुआ है.

Also Read: रांची : कोकर-रिम्स रोड की हालत खराब, गड्ढों के कारण लोगों का गुजरना हो रहा मुश्किल
बंद है नक्शा पास कराने और भूमि आवंटन का काम

जियाडा रांची प्रक्षेत्र में छह माह से भूमि आवंटन और नक्शा स्वीकृत करने का काम बंद है. भूमि आवंटन के लिए दो दर्जन आवेदन लंबित हैं. वहीं नक्शा स्वीकृत कराने व अन्य छोटे-छोटे काम के लिए करीब 150 उद्योगों के आवेदन लंबित हैं. ज्ञात हो कि क्षेत्रीय निदेशक की अध्यक्षता में बनी कमेटी भूमि आवंटन की अनुशंसा करती है. वहीं जिन्हें इंडस्ट्रियल एरिया में भूमि आवंटित हो चुकी है, उनका नक्शा पास करने का अधिकार भी आरडी के ही पास है. नक्शा पास नहीं होने के कारण उद्यमी आवंटित भूमि में निर्माण कार्य आरंभ नहीं कर पा रहे हैं. झारखंड लघु उद्योग एसोसिएशन (जेसिया) ने इस बाबत कई बार उद्योग सचिव को आवेदन भी दिया है, पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

बताया गया कि जियाडा के अधीन वर्तमान में रांची , बोकारो, आदित्यपुर और संताल-परगना औद्योगिक क्षेत्र आते हैं. इन सबमें क्षेत्रीय निदेशक होते हैं , जो स्थानीय स्तर पर काम करते हैं. केवल रांची क्षेत्र ही है, जहां छह माह से क्षेत्रीय निदेशक नहीं हैं.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें