1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand news transport nagar to be built in sukurhutu with rs 113 crore cm hemant soren also got approval srn

Jharkhand News : रांची के सुकुरहुटू में 113 करोड़ से बनेगा ट्रांसपोर्ट नगर, CM हेमंत की मिली मंजूरी

सुकुरहुटू में 113 करोड़ से बनेगा ट्रांसपोर्ट नगर. डिजाइन, डीपीआर व निर्माण लागत में किया गया संशोधन. जल्द ही कैबिनेट के समक्ष प्रस्तुत किया जायेगा प्रस्ताव

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सुकुरहुटू में 113 करोड़ से बनेगा ट्रांसपोर्ट नगर
सुकुरहुटू में 113 करोड़ से बनेगा ट्रांसपोर्ट नगर
twitter

रांची : राजधानी के सुकुरहुटू क्षेत्र में ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है. योजना को मुख्यमंत्री की स्वीकृति मिल गयी है. योजना की लागत 113 करोड़ रुपये आंकी गयी है. अब इसे कैबिनेट के समक्ष पेश किया जायेगा. पूर्व में सुकुरहुटू में ही ट्रांसपोर्ट नगर बनाने की योजना बनायी गयी थी. लेकिन, बाद में बदलाव किया गया.

साथ ही इसके लिए नया डिजाइन और डिटेल प्राेजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) भी तैयार किया गया है. जानकारी के अनुसार, पूर्व में ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण के लिए करीब 220 करोड़ रुपये की योजना बनायी गयी थी. नये डिजाइन के मुताबिक, ट्रांसपोर्ट नगर करीब 40 एकड़ भूमि पर प्रस्तावित है. इसमें न केवल व्यावसायिक वाहनों के खड़े रहने की जगह होगी. बल्कि, बसों के चालकों और सहायकों की सुविधा का भी इंतजाम किया जायेगा.

ट्रांसपोर्ट नगर के अंदर एक पेट्रोल पंप खोला जायेगा. दो अत्याधुनिक वेयर हाउस होंगे. वाहनों का वजन लेने के लिए धर्मकांटा होगा. इसके अलावा हेल्थ केयर सेंटर, फूड कोर्ट कैंटीन व रिटेल शॉप बनाया जायेगा. चालक और उसके सहायक के आराम के लिए डोरमेट्री की सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी.

उल्लेखनीय है कि रांची में ट्रांसपोर्ट नगर बनाने की योजना लंबे समय से मूर्त रूप नहीं ले सकी है. ट्रांसपोर्ट नगर नहीं होने से बाहर से आनेवाले ट्रकों को नो इंट्री के समय शहर के बाहर सड़क किनारे ही खड़ा करना पड़ता है. ट्रकों के अनलोडिंग में भी परेशानी होती है. ट्रांसपोर्ट नगर बन जाने से बाहर से आनेवाले ट्रक वहीं रहेंगे. ट्रांसपोर्ट नगर में माल अनलोड करने के साथ ट्रकों के मरम्मत की सुविधा भी होगी.

योजनाओं को मुख्यमंत्री की मंजूरी मिलने से उनके शुरू होने का मार्ग प्रशस्त हो गया है. प्राधिकृत समिति की मंजूरी लेकर प्रस्ताव को कैबिनेट के समक्ष प्रस्तुत किया जायेगा. प्रक्रिया पूरी कर जल्द धरातल पर काम शुरू कराया जायेगा.

विनय कुमार चौबे, मुख्यमंत्री के सचिव सह नगर विकास सचिव

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें