1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand coronavirus update corona cases are threatening jharkhand again only 53 percent of the states patients are from ranchi srn

Jharkhand Coronavirus Update : कोरोना के मामले फिर डरा रहा है झारखंड को, राज्य के 53 प्रतिशत मरीज सिर्फ रांची से

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Coronavirus update jharkhand : झारखंड के 53 प्रतिशत मरीज सिर्फ रांची से,
Coronavirus update jharkhand : झारखंड के 53 प्रतिशत मरीज सिर्फ रांची से,
prabhat khabar

Jharkhand News, Ranchi News, corona infection rate in jharkhand रांची : कोरोना संक्रमण एक बार फिर डराने लगा है. सबसे खराब हालात रांची के हैं. यहां पॉजिटिविटी रेट 6.50 प्रतिशत है. मार्च के शुरुआती करीब तीन हफ्तों में (21 मार्च की रात नौ बजे तक) पूरे राज्य से कुल 1313 नये कोरोना संक्रमित मिले हैं. इनमें 778 रांची के ही हैं. राज्य में मार्च में अब तक 1313 संक्रमित मिले, जिसमें से 557 स्वस्थ हो गये. इससे रविवार की सुबह तक कुल एक्टिव केस की संख्या 756 पहुंच गया है. इसमें रांची के एक्टिव केस की संख्या 401 हैं. यानी राज्य के कुल एक्टिव केस का 53.1 फीसदी हिस्सा रांची का हैं.

रांची जिला में बीते 20 दिनों में 25,816 लोगों की जांच की गयी, जिसमें 2.83 फीसदी की दर से नये कोरोना संक्रमित मिले है. विशेषज्ञों का कहना है कि अगर लोगों ने व्यक्तिगत स्तर पर सावधानी नहीं बरती, तो संक्रमण दर अचानक बढ़ सकता है. होली का त्योहार है और अन्य राज्य से झारखंड व रांची में लोग आयेंगे, इसलिए हल्की लापरवाही परेशानी में डाल सकती है.

रविवार को रांची में 1605 लोगों के सैंपल की जांच की गयी, जिसमें 48 नये संक्रमित मिले. जबकि गुरुवार को 1518 लोगों की जांच की गयी थी, जिसमें 3.6 फीसदी के हिसाब से 57 संक्रमित मिले थे.

राजधानी के मुकाबले अन्य जिलों में मिल रहे इक्का-दुक्का संक्रमित

रविवार को रांची में 1605 की जांच, तीन फीसदी की दर से मिले संक्रमित

एक से 21 मार्च तक रांची में कोरोना संक्रमण की स्थिति

तिथि संक्रमित जांच

01 से 05 मार्च 131 5,776

05 से 10 मार्च 154 5,765

10 से 15 मार्च 159 6,850

16 से 21 मार्च 187 7,392

कोरोना के प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करना होगा. होली का त्योहार है, इसलिए सतर्कता बढ़ानी होगी. अपने को ज्यादा से ज्यादा सुरक्षित रखने का प्रयास करें. मास्क, सामाजिक दूरी और हाथों की सफाई का पालन करें.

- डॉ प्रदीप भट्टाचार्य, क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ

कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, इसलिए सरकार द्वारा बेड आरक्षित रखने का निर्देश मिला है. हम कोरोना के बेड को घटा कर क्रिटिकल केयर का बेड़ बढ़ाने चाह रहे थे, लेकिन फिलहाल इस पर लोग लगायी गयी है.

-डॉ कामेश्वर प्रसाद, निदेशक रिम्स

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें