1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. high level committee set up to attack cm hemant soren convoy not be spared smj

सीएम हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला मामले को लेकर हाई लेवल कमेटी गठित, नहीं बख्शे जायेंगे दोषी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : सोमवार को हुए सीएम हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला मामले को लेकर 2 सदस्यीय हाईलेवल कमेटी गठित.
Jharkhand news : सोमवार को हुए सीएम हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला मामले को लेकर 2 सदस्यीय हाईलेवल कमेटी गठित.
फाइल फोटो.

Jharkhand news, Ranchi news, रांची : 4 जनवरी, 2021 को राजधानी रांची के किशोरगंज चौक के पास मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर प्रदर्शनकारियों के हमले को सीएम ने गंभीरता से लिया है. उन्होंने कहा कि किशाेरगंज घटना के दोषी को किसी भी सूरत में नहीं बख्शा जायेगा. इस घटना की जांच के लिए राज्य सरकार ने 2 सदस्यीय हाई लेवल कमेटी गठित की है. वहीं, रांची डीसी और एसएसपी से इस मामले पर स्पष्टीकरण भी मांगा गया है.

मालूम हो कि रांची के ओरमांझी में एक युवती का सिरकटी शव मिलने और दोषियों के गिरफ्तारी नहीं होने के विरोध में सोमवार (4 जनवरी, 2021) शाम को रांची के किशोरगंज चौक के पास प्रदर्शनकारियों ने सीएम के काफिले को घेर का विरोध जताया. इस दौरान गुस्साये प्रदर्शनकारियों ने तोड़-फोड़ भी की थी. हालांकि, सीएम के सुरक्षा में लगे अधिकारियों ने सीएम को दूसरे रूट से उन्हें सीएम आवास पहुंचाया.

इधर, मंगलवार (5 जनवरी, 2021) को रांची के धुर्वा स्थित प्रोजेक्ट बिल्डिंग में पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि प्रशासन पूरी घटना को गंभीरता से लिया है. दोषियों को किसी सूरत में बख्शा नहीं जायेगा. उन्होंने कहा कि मेरे इंतजार में कुछ लोग घात लगाये बैठे थे. जब उनका प्रयास सफल नहीं हुआ, तो वे लोग उपद्रव करने लगे. ओरमांझी की घटना पर उन्होंने कहा कि मृत युवती की पहचान का प्रयास जारी है. सरकार इस मामले में सभी तथ्य सामने लायेगी.

2 सदस्यीय हाई लेवल कमेटी गठित

सीएम के काफिले पर हुए हमले को देखते हुए राज्य सरकार ने 2 सदस्यीय हाई लेवल कमेटी गठित की है. इस समिति में भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS) के एक-एक सीनियर ऑफिसर शामिल किये गये हैं. समिति को मामले की जांच कर जल्द रिपोर्ट देने को कहा गया है. वहीं, रांची के डीसी और एसएसपी से स्पष्टीकरण मांगा गया है. दोनों अधिकारियों से पूछा गया है कि शहर में ऐसी घटना होती है और सीनियर ऑफिसर को इसकी भनक क्यों नहीं लगती है.

दूसरी ओर, पुलिस इस मामले को लेकर CCTV फुटेज खंगाल रही है. इस मामले में कई लोगों को हिरासत में भी लिया गया है. इस संबंध में झारखंड डीजीपी एमबी राव ने भी कहा कि अपराध करने वाले शक्तियों को पुलिस पहचान रही है. उन्होंने पूरी घटना को साजिश बताया.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें