24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सोना-चांदी व्यवसायियों ने किया प्रदर्शन, मांगी सुरक्षा की गारंटी

राजधानी के बिरसा चौक स्थित डीपी ज्वेलर्स में लूटपाट के विरोध में रांची जिले में पांच सौ से अधिक सर्राफा दुकानों में लटके रहे ताले. व्यवसायियों ने गांधी चौक से चेंबर भवन तक पैदल मार्च किया.

रांची. राजधानी के बिरसा चौक स्थित डीपी ज्वेलर्स में लूट व दुकान संचालक के बेटे को गोली मारने के विरोध में शनिवार को सोना-चांदी व्यवसायियों ने अलबर्ट एक्का चौक पर प्रदर्शन किया. साथ ही पुलिस-प्रशासन और सरकार से सुरक्षा की गारंटी मांगी. व्यवसायियों ने प्रशासन से अपराधियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की. प्रदर्शन में शहर के सभी छोटे-बड़े सर्राफा कारोबारी शामिल हुए.

इससे पहले सोना-चांदी व्यवसायी अपर बाजार की सोनार पट्टी सहित अलग-अलग जगहों से निकलकर गांधी चौक के पास एकत्र हुए. वहां से काला पट्टा बांधकर जुलूस के रूप में चर्च कॉम्प्लेक्स, सुजाता चौक होते हुए झारखंड चेंबर भवन तक व्यवसायियों ने पैदल मार्च किया. इस दौरान उनका एक प्रतिनिधिमंडल चेंबर पदाधिकारियों से मिला और अपनी बातें रखीं. सोना-चांदी व्यवसाय समिति के अध्यक्ष रवि कुमार पिंकू ने बताया कि लगातार हो रहीं आपराधिक घटनाओं के विरोध में सर्राफा व्यवसायी अपनी दुकानें बंद कर सड़कों पर प्रदर्शन करने को मजबूर हुए. शुक्रवार की शाम डीपी ज्वेलर्स में हुई लूट की घटना के बाद से व्यवसायियों में पुलिस-प्रशासन के खिलाफ नाराजगी बढ़ गयी है. चेंबर ऑफ कॉमर्स ने भी घटना की निंदा करते हुए एसएसपी से शहर में बढ़ रहीं आपराधिक घटनाओं पर रोक लगाने की मांग की है. प्रदर्शन में मुख्य रूप से सुरेश प्रसाद साहू, जितेंद्र कुमार वर्मा, नवीन कुमार, शैलेंद्र कुमार गुड्डू, शशि प्रकाश वर्मा, अरुण कुमार, अमित कुमार प्रसाद, सुनील कुमार, दिलीप सोनी, संजय बर्मन, राजकुमार सोनी, मयूर मराठा, कृष्णा सोनी, अन्नू कुमार, अमित कुमार डब्बू आदि शामिल थे.

दुकानें बंद रहने से पांच करोड़ का व्यवसाय प्रभावित

रांची जिले में करीब पांच सौ से ज्यादा सर्राफा दुकानें हैं. सोना-चांदी व्यावसायिक समिति के पूर्व उपाध्यक्ष संतोष कुमार सोनी ने कहा कि घटना के विरोध में शनिवार को सभी दुकानें बंद रहीं. राजधानी के मेन स्थित करीब 50 सर्राफा दुकानें पूरी तरह से बंद रहीं. समिति के मुताबिक दुकानें बंद रहने और कारोबार ठप होने से राजधानी लगभग पांच करोड़ रुपये का व्यवसाय प्रभावित हुआ.

बोले व्यापारी

अब तक कई सोना-चांदी व्यवसायियों की हत्या हो चुकी है, लेकिन पुलिस-प्रशासन की ओर से कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गयी है. हमलोग सुरक्षा और न्याय की मांग को लेकर एकजुट हैं. पुलिस-प्रशासन सोना-चांदी व्यवसायी को पर्याप्त सुरक्षा दे. अगर आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती है, तो समिति बड़ा आंदोलन करेगी.

रवि कुमार पिंटू, अध्यक्ष, सोना-चांदी व्यवसाय समिति

रांची में लगातार हो रही लूटपाट की घटना से व्यवसायी भयभीत हैं. कारोबारी इस परेशानी के देखते हुए अपना व्यवसाय बदलने को सोचने लगे हैं. रांची में अपराधी लगातार सोना-चांदी व्यवसायियों को निशाना बना रहे हैं. यही हाल रहा, तो आनेवाले समय में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर सर्राफा व्यवसायी जा सकते हैं.

प्रवीण लोहिया, स्थानीय कारोबारी, सह चेंबर सदस्य

पुलिस की निष्क्रियता के कारण ही अपराधियों का हौसला बढ़ता जा रहा है. पहले भी कई सोना-चांदी व्यवसायियों की हत्या हो चुकी है, लेकिन पुलिस-प्रशासन की ओर से कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गयी है. सरकार कानून व्यवस्था की स्थिति ठीक करे, ताकि हमलोग व्यवसाय का संचालन सुरक्षित तरीके से कर सकें.

विजय पाठक आयुष, सर्राफा कारोबारी

व्यवसायी समुदाय अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के साथ ही रोजगार के अवसर पैदा करते हैं. आभूषण व्यवसायियों को लगातार निशाना बनाया जा रहा है और सरकार निरंकुश दिख रही है. इस पर संज्ञान लेने की जरूरत है. लगातार हो रहीं आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगने की आवश्यकता है. हाल के दिनों में राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गयी है.

दीपू डे, न्यू कमला ज्वेलर्सB

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें