1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. fastag latest update if fast money is charged in the name of customers then customers will have to pay back it is also necessary to give cashback of such percentage to customers nhi srn

Fastag Latest Update : फास्टैग के नाम पर वसूले हैं ज्यादा पैसे तो ग्राहकों को करना होगा वापस, ग्राहकों को इतने प्रतिशत का कैशबैक देना भी जरूरी : एनएचआइ

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
फास्टैग के नाम पर वसूले हैं ज्यादा पैसे तो ग्राहकों को करना होगा वापस
फास्टैग के नाम पर वसूले हैं ज्यादा पैसे तो ग्राहकों को करना होगा वापस
fb

Jharkhand News Fastag News Update, Jharkhand Fastag Cashback Offers रांची : एनएचआइ का निर्देश है कि 28 फरवरी तक कोई भी वेंडर, फास्टैग लगाने के नाम पर सर्विस या किसी और चीज के नाम पर ग्राहकों से अतिरिक्त पैसा नहीं लेगा. वह जितना पैसा लेगा, उतने का कैशबैक देना होगा. हालांकि, चुटूपालू टोल प्लाजा के समीप स्थित बने काउंटर पर इन निर्देशों का पालन नहीं हो रहा है. प्रभात खबर की टीम ने मौका का जायजा लिया, तो सच्चाई का पता चला. चुटूपालू टोल प्लाजा के पास से लेकर लगभग 60 मीटर की दूर तक सड़क के दोनों ओर फास्टैग का स्टिकर लगानेवाले के लिए विभिन्न बैंकों के स्टॉल दिखे. हर स्टॉल पर चार से पांच युवा मौजूद थे.

इसी दौरान पता चला कि किसी बैंक के काउंटर पर 600 में से 400, तो कहीं पर 500 में से 400 रुपये का ही कैशबैक ग्राहकों को दिया जा रहा था. सिर्फ एनएचएआइ से जुड़ी वेंडर इंडियन हाइवे मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड के काउंटर पर ही ग्राहकों से 400 रुपये लिये जा रहे हैं, बदले में 400 रुपये का कैशबैक भी दिया जा रहा है.

एनएचआइ ने टोल प्लाजा से एक किमी के दायरे में सड़क किनारे विभिन्न बैंकों से जुड़े वेंडरों को काउंटर लगाने की अनुमति दी है. अनुमति पत्र दिखाने के बाद ही काउंटर लगाने को कहा गया है. चार माह से काउंटर लगा फास्टैग लगाने का काम किया जा रहा है. - चेतन कुमार, मैनेजर, चुटूपालू टोल प्लाजा

ग्राहक से ज्यादा पैसा लिया है, तो वापस होगा

एनएचआइ के अधिकारी शैलेंद्र मिश्रा ने कहा कि टोल प्लाजा पर एनएचआइ से जुड़ा आइएमएचसीएल के अलावा विभिन्न बैंकों के काउंटर हैं. सभी को 28 फरवरी तक सर्विस चार्ज व वन टाइम टैग ज्वाॅइनिंग फी सहित अन्य कोई शुल्क नहीं लेना है. ग्राहक जितना पैसा देंगे, उतने पैसे का उन्हें रिचार्ज करना है. अगर किसी वेंडर ने सर्विस चार्ज या किसी अन्य चार्ज के नाम पर ज्यादा पैसा लिया है, तो वह पैसा एनएचआइ वापस करवायेगा.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें