1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. electricity can be expensive proposed 125 per unit increase in domestic electricity rate

बिजली बिल अब भागेगा, आपके घर का बजट बिगड़ेगा, जानिए क्या है सरकार की तैयारी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
घरेलू बिजली दर में 1.25  प्रति यूनिट वृद्धि का प्रस्ताव
घरेलू बिजली दर में 1.25 प्रति यूनिट वृद्धि का प्रस्ताव
Prabhat Khabar

Jharkhand News, electricity Bill : (रांची) जेबीवीएनएल की टैरिफ में जहां घरेलू उपभोक्ताओं की दरों में 1.25 रुपये प्रति यूनिट तक बढ़ोत्तरी करने का प्रस्ताव है, वहीं औद्योगिक उपभोक्ताअों के लिए बिजली दर में 1.25 रुपये प्रति यूनिट कमी का प्रस्ताव है. झारखंड विद्युत नियामक आयोग बिजली टैरिफ पर Online जन सुनवाई करेगा. इससे संबंधित पब्लिक नोटिस जारी कर दी गयी हैै. इसमें कहा गया है कि कोरोना महामारी के मद्देनजर फिजिकल पब्लिक हेयरिंग संभव नहीं है. झारखंड बिजली वितरण निगम केे टैरिफ प्रस्ताव पर आयोग ने ई-मेल या खुद उपस्थिति होकर जनता से आपत्तियां जमा करने की अपील की है.

इसकी अंतिम तिथि14 अगस्त निर्धारित की गयी है. वहीं वीडियो कॉल या मोबाइल फोन के माध्यम से टैरिफ पर जन सुनवाई 20, 21 व 24 अगस्त को दिन के 2.30 बजे से होगी. जनसुनवाई में शामिल होने के लिए 18 अगस्त तक जनता को अपना निबंधन कराना होगा. विस्तृत जानकारी के लिए आयोग की वेबसाइट पर जाकर निबंधन कराया जा सकता है.

गौरतलब है दिसंबर 2019 में जेबीवीएनएल ने 2020-21 के लिए टैरिफ प्रस्ताव दिया था. इसमें घरेलू उपभोक्ताओं की बिजली दरों में 1.25 रुपये प्रति यूनिट तक बढ़ाने का प्रस्ताव है. जेबीवीएनएल द्वारा दायर टैरिफ पीटिशन में घरेलू ग्रामीण उपभोक्ताओं की बिजली दर 5.75 रु./यूनिट से बढ़ाकर सात रुपये करने का प्रस्ताव है. साथ ही फिक्स्ड चार्ज 20 रुपये प्रतिमाह से बढ़ाकर 75 रु करने का प्रस्ताव है.

दूसरी ओर शहरी घरेलू उपभोक्ताओं की बिजली दर 6.25 की जगह 7.50 रु प्रति यूनिट करने का प्रस्ताव है. वहीं फिक्स्ड चार्ज भी 75 रुपये प्रतिमाह से बढ़ाकर 150 रुपये प्रतिमाह करने का प्रस्ताव है. कॉमर्शियल उपभोक्ताओं की दर भी छह रुपये की जगह सात और 7.50 रु करने का प्रस्ताव है. कृषि कार्यों के लिए भी बिजली दर 5.75 रुपये से बढ़ाकर 6.50 रु करने का प्रस्ताव है.

औद्योगिक बिजली दर में कमी का है प्रस्ताव : जेबीवीएनएल की टैरिफ में जहां घरेलू उपभोक्ताओं की दरों में 1.25 रुपये प्रति यूनिट तक बढ़ोत्तरी करने का प्रस्ताव है, वहीं औद्योगिक उपभोक्ताअों के लिए बिजली दर में 1.25 रुपये प्रति यूनिट कमी का प्रस्ताव है. एचटीएसस की वर्तमान दर 5.50 से घटकार 4.25 रुपये और एचटीआइएस की दर 5.50 से घटाकर 5.00 रुपये करने का प्रस्ताव है.

क्या है टैरिफ का प्रस्ताव

श्रेणी वर्तमान दर मिल रही सब्सिडी प्रस्तावित दर (प्र/यू)

घरेलू ग्रामीण 5.75 4.25 7.00

घरेलू शहरी 6.25 2.75 7.50

घरेलू एचटी (अपार्टमेंट) 6.00/केवीएच 1.50/केवीएएच 5.00/केवीएएच

कॉमर्शियल (5 केवी से कम) 6-6.25 सब्सिडी नहीं 7-7.50

सिंचाई एवं कृषि 5.00 3.80 6.50

औद्योगिक दर

एलटीआइएस 5.75 केवीएएच सब्सिडी नहीं 6.50

एचटीआइएस 5.50केवीएएच सब्सिडी नहीं 5.00 केवीएएच

एचटीएसएस 5.50केवीएएच सब्सिडी नहीं 4.25 केवीएएच

संस्थागत 5.50 सब्सिडी नहीं 4.25

औद्योगिक बिजली दर कम करने का प्रस्ताव : जेबीवीएनएल की टैरिफ में जहां घरेलू उपभोक्ताओं की दरों में 1.25 रुपये प्रति यूनिट तक बढ़ोत्तरी करने का प्रस्ताव है, वहीं औद्योगिक उपभोक्ताअों के लिए बिजली दर में 1.25 रुपये प्रति यूनिट कमी का प्रस्ताव है. एचटीएसस की वर्तमान दर 5.50 से घटकार 4.25 रुपये और एचटीआइएस की दर 5.50 से घटाकर 5.00 रुपये करने का प्रस्ताव है.

100 यूनिट फ्री बिजली देने पर सरकार लेगी फैसला

आयोग के सूत्रों ने बताया कि झामुमो ने चुनावी घोषणा पत्र में 100 यूनिट बिजली मुफ्त देने का वादा किया था. अब टैरिफ निर्धारण के बाद सरकार इस पर फैसला लेगी.

Post by : Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें