1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. diabetes medicine price in jharkhand including combination have become cheaper srn

Jharkhand News: डायबिटीज समेत कॉम्बिनेशन की कई दवाएं हुईं सस्ती, अब मरीजों को इतने रुपये की होगी बचत

डायबिटीज सहित विभिन्न बीमारियों के दवाओं की कीमत कम हो गयी है. इनमें कॉम्बिनेशन की दवाएं भी शामिल हैं, एनपीपीए ने कहा है कि जो कंपनियां दवाएं बना रही हैं, उन्हें सिफारिशों के अनुसार, नयी एमआरपी से दवाओं को बाजार में उतारना होगा

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
डायबिटीज समेत कॉम्बिनेशन की कई दवाएं हुईं सस्ती
डायबिटीज समेत कॉम्बिनेशन की कई दवाएं हुईं सस्ती
Unsplash

रांची: राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) ने डायबिटीज सहित विभिन्न बीमारियों के इलाज में उपयोग होनेवाली 15 दवाओं के खुदरा मूल्य की दर निर्धारित कर दी है. इनमें कॉम्बिनेशन की दवाएं शामिल हैं, जिनकी कीमत कंपनियां अपने हिसाब से निर्धारित करती थीं. दवाओं की कीमत निर्धारित होने से राज्य में डायबिटीज से पीड़ित सैकड़ों मरीजों को इसका लाभ मिलेगा.

एनपीपीए ने मंगलवार को इससे संबधित आदेश जारी कर दिया और कहा कि मार्च के अंतिम सप्ताह में बैठक के बाद कीमतें निर्धारित की गयी हैं. जो कंपनियां दवाएं बना रही हैं, उन्हें सिफारिशों के अनुसार, नयी एमआरपी से दवाओं को बाजार में उतारना होगा. दवा कंपनियां कॉम्बिनेशन की दवाओं में आसानी से वृद्धि करती हैं,क्योंकि इसकी निगरानी एनपीपीए नहीं करती है. दवाओं की कीमतों में बढ़ोत्तरी की शिकायत मिलने के बाद एनपीपीए मूल्य निर्धारित करता है.

दवा निर्माता कंपनियां कीमतों की सूची जारी करेंगी :

एनपीपीए ने जिन दवाओं की कीमतें निर्धारित की हैं, उनमें एसोसिएटेड बाॅयोटेक,डेल्स लैबोरेट्रीज की बनायी और वितरित की जाने वाली मेटफॉर्मिन के साथ मिलकर टेनेलिग्लिप्टिन टैबलेट(मेटाफॉर्मिन व टेनेलिग्लिप्टिन) की कॉम्बिनेशन दवाएं हैं. वहीं, डैपाग्लिफ्लोजिन के साथ मिलकर मेटफॉर्मिन हाइड्रोक्लोराइड टैबलेट शामिल हैं.

आदेश जारी होने के बाद दवा निर्माता कंपनियां नियामक को एकीकृत औषधि डाटाबेस की प्रबंधन प्रणाली के जरिये कीमतों की सूची जारी करेंगी. दवाओं की कीमतों की जानकारी राज्य औषधि नियंत्रक व संबंधित स्टॉकिस्ट को देनी होगी. नये आदेश के तहत मेटफॉर्मिन और टेनेलिग्लिप्टिन टैबलेट की कीमत 7.14 रुपये प्रति टैबलेट तय कर दी गयी है, जिसकी कीमत वर्तमान में 15 रुपये प्रति टैबलेट है. वहीं, डैपाग्लिफ्लोजिन और मेटफॉर्मिन हाइड्रोक्लोराइड टैबलेट की कीमत 10.7 रुपये प्रति टैबलेट तय की गयी है, जिसकी वर्तमान में कीमत 12 से 13 रुपये प्रति टैबलेट है.

मूल्य निर्धारण से आधी दाम पर मिलेंगी डायबिटीज सहित अन्य बीमारी की दवाएं

दवाओं की कीमत की जानकारी राज्य औषधि नियंत्रक व संबंधित स्टॉकिस्ट को देनी होगी

दवाओं की नयी कीमत निर्धारित कर बाजार में उतारनी होंगी नये बैच की दवाएं

प्रभात खबर ने चार अप्रैल को प्रकाशित की थी खबर

प्रभात खबर ने चार अप्रैल 2022 को कॉम्बिनेशन की दवाओं पर नियंत्रण नहीं होने और सिंगल डोज से दोगुनी दवाओं की कीमत होने से संबंधित खबर प्रकाशित की थी. खबर के माध्यम से यह बताया गया था कि दवा कंपनियां चालाकी से एक दवा के साथ दूसरी दवाओं का कॉम्बिनेशन बना देती हैं, जिससे दवाओं का मूल्य बढ़ जाता है.

डायबिटीज मरीज को 300 से 600 रुपये की होगी बचत

राज्य में डायबिटीज के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है. शहरी के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में ऐसे मरीज ज्यादा हैं. हर माह डायबिटीज के दुष्प्रभाव से बचने के लिए डॉक्टरों के परामर्श पर मरीज महंगी दवाएं खरीदते हैं. एनपीपीए में कॉम्बिनेशन की इन दवाओं का मूल्य निर्धारित होने से एक मरीज को 300 से 600 रुपये की बचत होगी. डायबिटीज के डॉक्टर ने बताया कि सबसे ज्यादा लाभ गरीब मरीजों को होगा, क्योंकि उनको ये दवाएं लिखनी पड़ती हैं. किसी मरीज को एक वक्त, तो किसी को दो वक्त की दवाएं दी जाती है.

Posted By: Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें