1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. cm hemant to honor matriculation and inter toppers clean schools will also be rewarded smj

सीएम हेमंत मैट्रिक व इंटर के टॉपर्स को करेंगे सम्मानित, स्वच्छ स्कूल भी होंगे पुरस्कृत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन राज्य के मैट्रिक व इंटर के टॉपर्स को करेंगे सम्मानित. स्वच्छ स्कूलों को भी करेंगे पुरस्कृत.
Jharkhand news : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन राज्य के मैट्रिक व इंटर के टॉपर्स को करेंगे सम्मानित. स्वच्छ स्कूलों को भी करेंगे पुरस्कृत.
फाइल फोटो.

Jharkhand news, Ranchi news : रांची : मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन झारखंड इंटरमीडिएट काउंसिल (JAC), सीबीएसई (CBSE) और आईसीएसई (ICSE) बोर्ड के मैट्रिक और इंटरमीटिएट परीक्षा 2020 में राज्यस्तर पर टॉप करने वाले 59 विद्यार्थियों को प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित करेंगे. साथ ही स्वच्छ विद्यालय प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले 119 स्कूलों को विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कृत करेंगे. मैट्रिक में पहला स्थान हासिल करने वाले विद्यार्थी को एक लाख और इंटरमीडिएट में टॉपर को तीन लाख रुपए प्रोत्साहन राशि के रूप में दिये जायेंगे. इस समारोह का आयोजन स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग द्वारा किया जायेगा.

मैट्रिक और इंटरमीडिएट के टॉपर्स को मिलेगी प्रोत्साहन राशि

झारखंड में मैट्रिक में पहला स्थान हासिल करने वाले को एक लाख रुपये, दूसरा स्थान हासिल करने वाले स्टूडेंट को 75 हजार और तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले स्टूडेंट को 50 हजार रुपये प्रोत्साहन राशि के रूप में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन देंगे. वहीं इंटरमीडिएट के साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स में पहला स्थान हासिल करने वाले स्टूडेंट को 3 लाख रुपये, दूसरा स्थान प्राप्त करने वाले को 2 लाख और तीसरा स्थान हासिल करने वाले स्टूडेंट को एक लाख रुपये बतौर प्रोत्साहन राशि प्रदान कर सम्मानित करेंगे.

कितने टॉपर्स को मिलेगी प्रोत्साहन राशि

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन झारखंड के कुल 59 टाॅपर्स को प्रोत्साहन राशि देकर सम्मानित करेंगे. इसके तहत झारखंड इंटरमीडिएट काउंसिल के मैट्रिक के 6 तथा इंटरमीडिएट के 12 टॉपर्स, सीबीएसई बोर्ड के मैट्रिक के 7 और इंटरमीडिएट के 14 टॉपर्स और आईसीएसई बोर्ड के मैट्रिक के 8 तथा इंटरमीडिएट के 12 ट़ॉपर्स शामिल हैं.

सीएम स्वच्छता प्रतियोगिता के लिए 44,441 स्कूलों ने की शिरकत

विभाग द्वारा आयोजित ऑनलाइन सीएम स्वच्छता प्रतियोगिता में राज्यभर के शहरी और ग्रामीण इलाकों में अवस्थित 44,441 स्कूलों ने भाग लिया था. स्वच्छता के 5 मानकों के आधार पर इन सभी विद्यालयों का आकलन कर ग्रेडिंग के आधार पर की गयी. इन मानकों में पेयजल व्यवस्था, शौचालय, हैंडवॉश (साबुन के साथ), ऑपरेशन एंड मेंटनेंस और विहेवियरल चेंज एंड कैपासिटी बिल्डिंग शामिल है. इन मानकों के आधार पर विद्यालयों को भी 5 श्रेणियों में बांट कर स्टार ग्रेडिंग की गयी.

किस स्कूल को कितना मिला स्टार

मुख्यमंत्री स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार प्रतियोगिता में 90 से 100 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले राज्यभर के 928 स्कूलों को 5 स्टार, 75 से 89 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले 5668 स्कूलों को 4 स्टार, 51 से 74 प्रतिशत अंक हासिल करने वाले 27951 स्कूलों को 3 स्टार, 35 से 50 प्रतिशत तक अंक वाले 6917 स्कूलों को 2 स्टार और 35 प्रतिशत से कम अंक प्राप्त करने वाले 2977 स्कूलों को एक स्टार मिला है.

थर्ड पार्टी रेटिंग के आधार पर इन स्कूलों को मिला 5 स्टार

बीआईटी मेसरा के द्वारा थर्ड पार्टी रेटिंग के आधार पर इस प्रतियोगिता में 928 स्कूलों को 5 स्टार मिला. इसमें 740 स्कूलों का स्टार ग्रेडिंग सही पाया गया. इन 740 स्कूलों में से 119 स्कूलों का विभिन्न कोटि में मुख्यमंत्री स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार योजना के लिए चयन किया गया है. इसमें कक्षा एक से 5 तक वाले 35 स्कूल, कक्षा एक से 8 एवं 6 से 8 तक वाले 25 स्कूल, कक्षा एक से 10, कक्षा एक से 12 और कक्षा 9 से 12 तक के 50 स्कूल के अलावा एक विशेष विद्यालय, 3 आवासीय विद्यालय और 5 निजी विद्यालय शामिल हैं.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें