1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. asked where the hemp is found controversy erupted youth killed in front of police station srn

गांजा कहां मिलता है पूछे जाने पर हुआ विवाद, थाना के सामने युवक की हत्या

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
गांजा कहां मिलता है पूछे जाने पर हुआ विवाद
गांजा कहां मिलता है पूछे जाने पर हुआ विवाद
प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची : सुखदेवनगर थाना के समीप शनिवार की रात 10़ 30 बजे दीपांशु उपाध्याय (18) नामक युवक की हत्या चार युवकों ने कर दी. थाना के समीप हुई हत्या मामले में एसएससी सुरेंद्र कुमार झा की अनुशंसा पर सुखदेवनगर थाना प्रभारी जॉन मुर्मू को लाइन हाजिर कर दिया गया है़

बताया जाता है कि बीच रास्ते में खड़े चारों आरोपी युवकों को हटने के लिए कहने पर हुए विवाद में हत्या की गयी है. दीपांशु रातू रोड के इंद्रपुरी रोड नंबर-6 में रहता था़ वह मूल रूप से हजारीबाग के इचाक थाना क्षेत्र के नवाडीह निवासी जयदेव उपाध्याय का पुत्र था़. जयदेव मां रामप्यारी आर्थोकेयर सेंटर करमटोली में कार्यरत है़ं.

जानकारी के मुताबिक दीपांशु के भाई दीपक उपाध्याय के बयान पर मुख्य आरोपी एक नाबालिग, सोनू कुमार, निहाल पांडेय व अंकित पाठक के खिलाफ सुखदेवनगर थाना में नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है़, पुलिस ने चारों को गिरफ्तार कर लिया है़ कोराेना जांच रिपोर्ट आने के बाद बुधवार को मुख्य आरोपी को संप्रेषण गृह तथा तीन को जेल भेज जायेगा.

डीएसपी अजीत कुमार विमल ने बताया कि नाबालिग पहले भी दो हत्या के मामले में संप्रेषण गृह गया था, लेकिन नाबालिग होने का उसे लाभ मिला और बाहर आ गया़ इसके बाद फिर से हत्या कर दी़ दूसरी ओर चारों आरोपी ग्वाला टोली में संजीत यादव नामक युवक के घर में छिपे हुए थे. वहां से एक पिस्टल भी मिला है़ इस कारण संजीत को भी गिरफ्तार किया गया है़

क्या है मामला :

घरों में एल्युमिनियम का रेलिंग लगाने का काम करनेवाला दीपांशु उपाध्याय अपने दोस्त दिव्यांश और बलवंत के साथ सुखदेवनगर थाना के समीप मिलन चौक पहुंचा था़ वहां पहले से मुख्य आरोपी नाबालिग, सोनू कुमार, निहाल पांडेय व अंकित पाठक नशे में खड़े थे़.

तीनों दोस्तों ने चारों से पूछा कि गांजा कहां मिलता है़ इस पर नाबालिग भड़क गया. उसने कहा कि हमलोग नशेड़ी और गांजा बेचने वाले दिखते है़ं उसके बाद दीपांशु व उसके दोस्तों ने कहा कि तुमलोगों को नहीं मालूम है तो रास्ता रोक कर क्यों खड़े हो. बीच रास्ते से हटो.

इसी बात पर उनके बीच विवाद हो गया़ उसके बाद नाबालिग ने चाकू निकाला और दीपांशु पर वार कर दिया था़ इस घटना में दिव्यांश और बलवंत भी को जख्मी हो गये थे. गंभीर रूप से घायल दीपांशु को उसके दोस्तों ने रिम्स में भर्ती कराया था. वहां इलाज के दौरान उसकी मौत गयी़ दीपांशु के मित्रों ने घटना की जानकारी सुखदेवनगर पुलिस को दी थी.

posted by : sameer oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें