रातू : अपहरण के बाद पांच साल के बच्चे की गला दबाकर हत्या

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रातू थाना क्षेत्र में अपराधियों का जघन्य कृत्य
रातू : रातू थाना क्षेत्र के नीचे टोला चटकपुर निवासी संजय झा के पुत्र हिमांशु कुमार (पांच वर्ष) की अपहरण के बाद गला दबाकर हत्या कर दी गयी.रातू थाना पुलिस ने सोसो तालाब के किनारे स्थित झाड़ी से शनिवार की दोपहर करीब एक बजे बच्चे का शव बरामद किया. उसके गले व गाल में खरोंच के निशान थे. आशंका जतायी जा रही है कि बच्चा अपहरणकर्ता को पहचानता था. इस कारण अपहरणकर्ता ने उसकी हत्या कर दी और साक्ष्य छिपाने की मंशा से शव को तालाब के किनारे झाड़ी में फेंक दिया. हिमांशु शुक्रवार को दोपहर बाद करीब तीन बजे घर से बाहर खेलने निकला था. परिजनों ने उसके लापता होने को लेकर रातू थाना में शिकायत की थी.
पुलिस ने बच्चे के अपहरण का केस दर्ज किया था. परिजनों द्वारा खोजबीन की जा रही थी. पोस्टमार्टम में बच्चे की गला दबा कर हत्या किये जाने की बात कही गयी है. हालांकि पुलिस को अभी आधिकारिक रूप से पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं सौंपी गयी है. पुलिस को आरंभिक जांच में पड़ोसी मनोज राय और जमीन दलाल से विवाद होने की जानकारी मिली है. मनोज राय की बेटी की मौत बीमारी से कुछ दिन पहले हो गयी थी. वह मृत बच्चे की मां और परिजनों पर जादू- टोना करने का आरोप लगाता रहता था.
सबसे पहले ग्रामीणों ने देखा बच्चे का शव
शनिवार की दोपहर में ग्रामीणों ने सबसे पहले बच्चे का शव देखा. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी. पुलिस के अनुसार, बच्चे के अपहरण को लेकर पहले से केस दर्ज है.
हत्या की घटना को लेकर अलग से कोई केस दर्ज नहीं किया गया. घटना के बाद हिमांशु की मां सुनीता देवी उर्फ रूपम देवी का रो-रोकर बुरा हाल है. वह पड़ोसी और जमीन दलाल को अपने बेटे का हत्यारा बताकर रोती रही. उनका कहना था कि हिमांशु दो भाई-दो बहन में सबसे छोटा था. उनके पति संजय झा ऑटो चलाते हैं.
पड़ोसी मनोज राय व एक जमीन दलाल से उनके परिवार का विवाद चल रहा है. मनोज राय की एक पुत्री की मौत बीमारी से हो गयी थी, जिसका दोष वह उसके परिवार को देकर ताना मारता था. तीन दिन पूर्व पानी को लेकर भी मनोज राय से झगड़ा हुआ था. तब उसने परिणाम भुगतने की धमकी दी थी. वहीं, एक जमीन दलाल रोड के लिए पैसा मांगता था.
नहीं देने पर उसने रोड पर बाउंड्री खड़ी कर दी है. इसके लिए सुनीता देवी ने पुलिस को भी जिम्मेवार बताया. कहा कि रास्ता व पड़ोसी के विवाद को लेकर वह थाना गयी थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई. हालांकि पुलिस का कहना है कि उसके स्तर से मामले में चूक नहीं हुई है.
शुक्रवार से गायब था बच्चा, शनिवार को झाड़ी में मिला शव
मामले की जांच के लिए एसआइटी का गठन
बच्चे की हत्या की गयी है. मामले की जांच के लिए खलारी डीएसपी के नेतृत्व में एसआइटी का गठन किया गया है. पुलिस हर पहलू की जांच कर रही है. दोषियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा.
ऋषभ कुमार झा, ग्रामीण एसपी

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें