झारखंड में चुनाव के दूसरे दिन तमाड़ में नक्सलियों ने किया IED विस्फोट, 2 जवान घायल, एक को एयर एंबुलेंस से दिल्ली भेजा गया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

अजय दयाल/प्रणव सिंह

रांची : झारखंड विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण की समाप्ति के अगले ही दिन राजधानी रांची से सटे तमाड़ में नक्सलियों ने विस्फोट कर दिया. सीआरपीएफ कोबरा बटालियन की एक टीम इसकी चपेट में आ गयी और 2 जवान गंभीर रूप से घायल हो गये. घायल हुए दोनों जवान कोबरा के 203 बटालियन के हैं. इनके नाम प्रणय दास (25) और जिग्नेश चौधरी (25) हैं. तमाड़ के विजयगिरि और अराहंगा के बीच स्थित पहाड़ के पेयाकुली जंगल में हुए इस विस्फोट में एक जवान के पैर में चोट आयी है, तो दूसरे के सिर में. जवानों को राजधानी रांची के मेडिका अस्पताल में भर्ती कराया गया है. एसपी (ग्रामीण) के अलावा बुंडू के एसडीपीओ और अन्य वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गये हैं.

घायल जवानों का हाल जानने एडीजी (ऑपरेशन) और सीआरपीएफ के आइजी अस्पताल पहुंचे. घायल जवानों का इलाज कर रहे मेडिका अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा है कि दोनों जवान खतरे से बाहर हैं. चिंता की कोई बात नहीं है. गंभीर रूप से घायल एक जवान प्रणय दास को एयर एंबुलेंस से दिल्ली भेज दिया गया है. उसे दिल्ली भेजने के लिए मेडिका हॉस्पिटल से बिरसा मुंडा एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरीडोर बनाया गया था.

खबरों के मुताबिक, इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आइइडी) से विस्फोट हुआ. घटना तमाड़ थाना क्षेत्र के अड़ाहंगा में रविवार सुबह 7:32 बजे हुई. बताया गया है कि सीआरपीएफ कोबरा बटालियन की टीम सर्च ऑपरेशन पर निकली थी. टीम पैदल ही जंगलों की खाक छान रही थी. इसी दौरान रास्ते में पहले से छिपाकर रखे गये आइइडी में लगे तार को बैट्री के जरिये साइड से आये एक नक्सली ने विस्फोट करा दिया.

विस्फोट कराने के बाद नक्सली वहां से भाग खड़ा हुआ. आइइडी में हुए विस्फोट में सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के दो जवान घायल हो गये. दोनों की हालत गंभीर है. उन्हें इलाज के लिए मेडिका में भर्ती कराया गया है. हालांकि, कहा जा रहा है कि विस्फोट ज्यादा शक्तिशाली नहीं था. इस वजह से ज्यादा नुकसान नहीं हुआ. वरीय अधिकारी घटनास्थल के लिए रवाना हो गये हैं.

उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले शनिवार को खूंटी के ही अड़की में नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी थी. पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की. बाद में पुलिस को भारी पड़ता देख नक्सली वहां से भाग खड़े हुए. हालांकि, इसके पहले सूचना थी कि नक्सलियों ने मतदान कराकर लौट रहे दल पर हमला कर दिया है, जिसमें तीन लोग घायल हो गये हैं. हालांकि, बाद में स्पष्ट किया गया कि नक्सलियों ने सिर्फ फायरिंग की थी, जिसमें पुलिस को कोई नुकसान नहीं हुआ.

यह भी कहा जा रहा है कि पहले से नक्सलियों ने प्रेशर आइइडी छिपाकर रखे थे. सर्च के दौरान जवान का पैर इस पर पड़ गया, जिसकी वजह से यह घटना हुई. हालांकि, विभाग ने अब तक कोई आधिकारिक सूचना जारी नहीं की है. घायल जवानों का हालचाल जानने के लिए एडीजी (ऑपरेशन) समेत कई अधिकारी मेडिका अस्पताल पहुंच गये हैं.

पोलिंग पार्टी को निशाना बनाने की तैयारी में नक्सली

मतदान के बाद वापस लौट रहे सुरक्षा बलों के जवानों और मतदानकर्मियों को निशाना बनाने के लिए नक्सलियों ने कई जगह लैंड माइंस बिछा रखे हैं. सुरक्षा बल इसकी पूरी जांच-परख करने के बाद ही आगे बढ़ रहे हैं. खुफिया रिपोर्ट के आधार पर सुरक्षा बल और पुलिस के जवान रविवार सुबह से ही रास्तों की जांच में जुटे हैं. इसमें ट्रेंड कुत्तों की भी मदद ली जा रही है.

खुफिया रिपोर्ट्स के आधार पर सूत्रों ने बताया कि नक्सलियों ने बड़े पैमाने पर सड़कों पर लैंड माइंस बिछा रखे हैं. इसलिए मतदानकर्मियों और सुरक्षा बलों को पूरे एहतियात के साथ आगे बढ़ने की हिदायत दी गयी है. सुरक्षा के लिहाज से ही सुरक्षा बलों और मतदानकर्मियों को पैदल चलने के लिए कहा गया है. ज्ञात हो कि विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान संपन्न होने के बावजूद अब तक सभी इवीएम जमा नहीं हो पाये हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें