RANCHI : आदिवासियों और ईसाइयों ने बनायी मानव शृंखला

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : भूमि अधिग्रहण बिल में संशोधन के खिलाफ झारखंड की राजधानी रांची में आदिवासी और ईसाई समुदाय के लोगों ने रविवार को मानव शृंखला बनायी. इसमें अलग-अलग इलाकों के लोग जुलूस की शक्ल में आये और मानव शृंखला से जुड़ते गये. सबसे पहले दोनों समुदायों के लोग कांटाटोली चौक के पास जुटे और बारिश के बीच छाता लेकर मानव शृंखला बनायी. राष्ट्रीय ईसाई महासंघ की अगुवाई में भूमि अधिग्रहण बिल में संसोधन के साथ-साथ झारखंड सरकार की आरक्षण नीति का भी विरोध किया गया.

RANCHI : आदिवासियों और ईसाइयों ने बनायी मानव शृंखला

महासंघ के निर्देश के मुताबिक, अलग-अलग इलाकों से लोग हाथों में तख्तियां लेकर जुलूस की शक्ल में आगे बढ़ रहे थे. जिन लोगों को जहां कहा गया था, वहीं मानव शृंखला में शामिल हुए. राष्ट्रीय ईसाई महासंघ के अध्यक्ष प्रभाकर तिर्की का कहना है कि झारखंड सरकार का आरक्षण और भूमि अधिग्रहण बिल असंवैधानिक है. आरक्षण जाति के आधार पर मिलता है, धर्म के आधार पर नहीं. उन्होंने कहा कि आदिवासियों को बांटकर उन्हें आरक्षण से वंचित करना संविधान के विरुद्ध है.

RANCHI : आदिवासियों और ईसाइयों ने बनायी मानव शृंखला

उन्होंने कहा कि संविधान में व्यवस्था है कि ऐसा कोई भी बिल लाने से पहले ग्रामसभा से सहमति लेनी होगी. लेकिन, सरकार ने ऐसा नहीं किया. महासंघ के निर्देश पर लोगों ने तख्तियों पर निम्न बातें लिख रखी थीं : भूमि अधिग्रहण कानून रद्द करो, सरना कोड लागू करो, धर्म के नाम पर लोगों को बांटना बंद करो. संविधान से छेड़छाड़ बंद करो, आदिवासी एकता जिंदाबाद, आरक्षण हमारा संवैधानिक अधिकार है, आदिवासियों की परंपराओं के साथ छेड़छाड़ बंद करो, नियोजन नीति लागू करो, धर्म की राजनीति बंद करो आदि.

RANCHI : आदिवासियों और ईसाइयों ने बनायी मानव शृंखला
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें