1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. prabhat khabar investigation registry department remained active in panchayat electionsrjg

प्रभात खबर पड़ताल : पंचायत चुनाव में रजिस्ट्री विभाग रहा सक्रिय, 161 लोगों की जमीन की कर दी रजिस्ट्री

पंचायत चुनाव में जहां कई विभागों में काम ठप पड़ गया था. वहीं रजिस्ट्री विभाग सबसे ज्यादा सक्रिय नजj आया. विभाग एक्टिव होकर काम किया और धड़ल्ले से जमीन की रजिस्ट्री की. जहां जमीन की रजिस्ट्री कराने में लोगों को महीनों लग जाते हैं. वहीं पंचायत चुनाव में जो आया. उसकी जमीन रजिस्ट्री हो गयी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जिला निबंधन कार्यालय गुमला
जिला निबंधन कार्यालय गुमला
फोटो प्रभात खबर

Gumla News : पंचायत चुनाव में जहां कई विभागों में काम ठप पड़ गया था. वहीं रजिस्ट्री विभाग सबसे ज्यादा सक्रिय नजर आया. विभाग एक्टिव होकर काम किया और धड़ल्ले से जमीन की रजिस्ट्री की. जहां जमीन की रजिस्ट्री कराने में लोगों को महीनों लग जाते हैं. वहीं पंचायत चुनाव में जो आया. उसकी जमीन रजिस्ट्री हो गयी. जबकि दूसरी तरफ आम जनता जाति, आय, आवासीय पत्र बनवाने के लिए कार्यालय का चक्कर काटते नजर आये. इन प्रमाण पत्रों को बनवाने का काम प्रभावित हुआ है. यहां तक कि विधवा व वृद्धावस्था पेंशन के लाभुक भी परेशान रहे. यहां बता दें कि पंचायत चुनाव को लेकर 16 अप्रैल से लेकर 28 मई तक कई सरकारी विभाग के कार्य प्रभावित है. वहीं दूसरी ओर जिला निबंधन कार्यालय में दो कर्मी चुनाव डियूटी में लगाये जाने के बावजूद निर्बाध रूप से जमीन की रजिस्ट्री कराने का खेल हुआ है. बताते चलें कि 16 अप्रैल से पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी होने से लेकर 27 मई तक 161 लोगों की जमीन की रजिस्ट्री व 107 जोड़ों का कोर्ट मैरिज हुआ है. जिसमें स्पेशल मैरिज 102 व हिंदू मैरिज के लिये पांच जोड़ों का कोर्ट मैरिज कराया गया है. वहीं प्रथम चरण के चुनाव से लेकर चतुर्थ चरण के चुनाव के दौरान जिस भी क्षेत्र से लोग अपनी जमीन रजिस्ट्री के काम से आये थे. उनका जमीन रजिस्ट्री का काम हो गया है. इस दौरान निबंधन कार्यालय में कर्मी की कमी होने के बावजूद लोगों का जमीन संबंधी रजिस्ट्री का कार्य नहीं रूका.

किस तारीख को कितने लोगों की हुई जमीन रजिस्ट्री

18 अप्रैल को 16 लोगों की जमीन रजिस्ट्री हुई है. इसी प्रकार क्रमश 19 अप्रैल को सात, 20 अप्रैल को 11, 21 अप्रैल को नौ, 22 अप्रैल को आठ, 23 अप्रैल को पांच, 25 अप्रैल को छह, 27 अप्रैल को नौ, 28 अप्रैल को नौ, 29 अप्रैल को तीन, 30 अप्रैल को दो, दो मई को दो, चार मई को पांच, पांच मई को पांच, सात मई को 12, आठ मई को 13, 10 मई को तीन, 11 मई को एक, 12 मई को पांच, 13 मई को छह, 14 मई को दो, 17 मई को एक, 20 मई को पांच, 23 मई को तीन, 24 मई को दो, 25 मई को चार, 26 मई को दो व 27 मई को पांच लोगों की जमीन रजिस्ट्री हुई है. प्रभारी रजिस्ट्रार विरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि चुनाव डयूटी में रजिस्ट्री कार्यालय से दो कर्मी को लगाया गया था. जिसके बावजूद जमीन रजिस्ट्री व कोर्ट मैरिज संबंधी कार्य में किसी प्रकार का फर्क नहीं पड़ा जो भी संबंधित कार्य के लिये आये थे. सभी का कार्य हुआ है.

पंचायत चुनाव में गुमला अंचल का कार्य रहा प्रभावित

पंचायत चुनाव के दौरान लगभग एक माह से सदर अंचल गुमला में जाति, आय व आवासीय प्रमाण पत्र बनाने, वृद्धा व विधवा पेंशन तथा जमीन म्यूटेशन, दाखिल-खारिज सहित अन्य कई कार्य प्रभावित रहा. लोग अपने ऐसे कार्यों को लेकर अंचल कार्यालय पहुंचे. परंतु अंचल के पदाधिकारी से लेकर कर्मी तक चुनाव ड्यूटी में थे. जिस कारण कई लोगों का कार्य नहीं हो सका. सदर अंचलाधिकारी केके मुंडू ने बताया कि पंचायत चुनाव को लेकर अंचल का कार्य प्रभावित हुआ है. ऐसा नहीं है कि कार्यालय में लोगों का कार्य नहीं हुआ है. कार्य हुआ है. परंतु कई लोग ऐसे भी हैं. जो कार्य को लेकर कार्यालय पहुंचे. परंतु कर्मियों के ड्युटी में होने के कारण ऐसे लोगों का कार्य नहीं हो पाया है. अब ऐसे लोग फिर से कार्यालय आ रहे हैं और कार्य करा रहे हैं.

जानिए, जिले के सात प्रखंडों में कैसी रही हलचल

भरनो प्रखंड : भरनो अंचल में जमीन का रसीद, जमीन ऑनलाइन, जाति, आवासीय प्रमाण पत्र के लिए परेशानी हुई. चुनाव कार्य में अधिकारी भी व्यस्त रहे. पंचायत चुनाव के दौरान लोग समझ गये कि चुनाव के बाद ही काम होगा. इसलिए ब्लॉक-अंचल में लोगों का आना-जाना बंद हो गया.

चैनपुर प्रखंड : पंचायत चुनाव को लेकर करीब एक माह से अंचल कार्यालय का काम प्रभावित है. क्योंकि अधिकारी पंचायत चुनाव कार्य को छोड़कर किसी को रसीद देना, किसी के जमीन का ऑनलाइन करवाना, जाति, आवासीय बनवाना यह करने में असमर्थ रहे. क्योंकि चुनाव के समय चुनाव का ही इतना काम होता है. अधिकारियों को इन कार्यों के लिए समय ही नहीं मिला. जिससे जनता परेशान रही.

कामडारा प्रखंड : अंचल कार्यालय कामडारा के अधिकारी समेत सभी कर्मचारी चुनाव में व्यस्त रहे. अंचल निरीक्षक फिरनाथ सिंह ने बताया कि छात्रों के लिए जाति, आवासीय प्रमाण पत्र का काम हुआ है. इसके अलावा जमीन का रशीद तथा अंचल से जमीन से संबंधित काम चुनाव संपन्न होने के बाद किया जायेगा.

बिशुनपुर प्रखंड : चुनाव की दौरान अंचल कार्यालय के कार्य थोड़ी धीमा रहा है. सीओ धनंजय पाठक व बीडीओ छंदा भट्टाचार्य के मार्गदर्शन पर संबंधित हर एक कर्मी एक्टिव थे. अति आवश्यक दस्तावेज जाति, आवासीय प्रमाण पत्र, जमीन की रसीद के लिए लोगों को भटकना नहीं पड़ा. कुछ मामले में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा है.

पालकोट प्रखंड : चुनाव को लेकर अंचल कार्यालय में आमजनों के लिए जाति, आय, व आवासीय प्रमाण पत्र बनाने में बहुत कठिनाई का सामना करना पड़ा. बीडीओ मनीष कुमार व सीओ सुदीप्त राज चुनाव डयूटी में थे. इस कारण अंचल व प्रखंड के कई कामों पर व्यापक असर पड़ा है. अब चुनाव संपन्न होने के बाद ही जनता के काम होंगे.

बसिया प्रखंड : चुनाव के कारण 15 दिन तक कोई काम नहीं हो पाया. लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ा. इस दौरान जाति, आय एवं आवासीय बनवाने में भी लोगों को परेशानी हुई. अंचल अधिकारी रविंद्र पांडे ने बताया कि चुनाव के कारण काम बंद था. लेकिन एक जून से काम शुरू कर लिया जायेगा. चूंकि चुनाव के दौरान तीनों फेज में कर्मचारियों को ड्यूटी में लगाया गया था. इसी कारण कार्य में बाधा हुई है.

जारी प्रखंड : अंचल कार्यालय के भू-राजस्व कर्मचारी समेत सभी कर्मचारी चुनाव में व्यस्त थे. अंचल निरिक्षक रेशमा रेखा मिंज ने बताया कि चुनावी दौर में अंचल कार्यालय से निष्पादन होने वाले छोटे मोटे काम जैसे जाति, आवासीय प्रमाण पत्र आम जनता या स्टूडेंट का काम प्रभावित नहीं हुआ है. जमीन का रशीद तथा जमीन से संबंधित काम चुनाव कार्य में कुछ बाधित रहा. लेकिन अब काम सुचारू रूप से चल रहा है.

रिपोर्ट : जगरनाथ/अंकित

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें