1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. palamu
  5. secret of murder of girlfriend revealed in love letter in jharkhand read how boyfriend killed girlfriend for trivia palamu gur

झारखंड में लव लेटर से खुला प्रेमिका की हत्या का राज, पढ़िए कैसे प्रेमी ने मामूली बात के लिए प्रेमिका को मार डाला

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
एसपी संजीव कुमार हत्याकांड का खुलासा करते हुए
एसपी संजीव कुमार हत्याकांड का खुलासा करते हुए
प्रभात खबर

मेदिनीनगर : पलामू जिले के विश्रामपुर थाना क्षेत्र के नावाडीह कला में कुएं से बरामद लड़की के शव की शिनाख्त कर पुलिस ने इस मामले का उद्भेदन कर लिया है. इस कांड के अनुसंधान के दौरान पुलिस को मृतका के घर से एक लव लेटर मिला था, जो उस युवती को उसके प्रेमी ने लिखा था. इस आधार पर पुलिस ने प्रेमी को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की, तो पूरे मामले का खुलासा हो गया. आरोपी प्रेमी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तारी के बाद हत्या के आरोपी प्रेमी ने अपना दोष कबूल करते हुए कहा कि उसकी प्रेमिका किसी और से बात करने लगी थी. इसी से नाराज होकर उसने अपनी प्रेमिका की हत्या कर दी. सोमवार को पलामू के पुलिस अधीक्षक संजीव कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस में जानकारी दी कि 23 अक्तूबर को चौकीदार के माध्यम से पुलिस को यह सूचना मिली थी कि सोरडीहा बैंक से कुछ ही दूरी पर स्थित एक कुएं में एक युवती का शव तैर रहा है. इस सूचना के आधार पर पुलिस ने शव को बरामद किया.

24 अक्तूबर को शव की शिनाख्त होने के बाद पुलिस ने मामले का अनुसंधान शुरू किया. इसी दौरान लड़की के कमरे से एक लव लेटर मिला, जो विश्रामपुर के भट्टी मुहल्ला में रहने वाले रंजीत विश्वकर्मा ने लिखा था. रंजीत मनोज विश्वकर्मा का पुत्र है. जब पुलिस ने उसे पकड़ा, तो उसने पुलिस के समक्ष अपना जुर्म कबूल कर लिया.

आरोपी प्रेमी रंजीत ने पुलिस को बताया कि अपने मित्र संजय मेहता के साथ मिलकर उसने अपनी प्रेमिका की हत्या की. संजय सोराडीह गांव का रहने वाला है. दोनों आरोपियों की उम्र 20 वर्ष है. एसपी ने बताया कि प्रेमी रंजीत इसलिए नाराज था कि उसकी प्रेमिका उसके अलावा किसी दूसरे लड़के से बात करने लगी थी. इसी मामूली बात को लेकर उसने दोस्त के साथ मिलकर अपनी प्रेमिका की हत्या कर डाली. प्रेस कांफ्रेंस में विश्रामपुर एसडीपीओ सुरजीत कुमार, पुलिस निरीक्षक राजबल्लभ पासवान आदि मौजूद थे.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें