1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. the rains of karurharwa dam in manika were broken due to continuous rains 15 acres of paddy crop was destroyed many houses fell sam

लगातार बारिश से मनिका में करूरहरवा बांध का मेढ़ टूटा, 15 एकड़ में लगे धान का फसल बर्बाद, कई घर गिरे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : करूरधरवा बांध का मेढ़ टूटने से धान की खड़ी फसल बर्बाद.
Jharkhand news : करूरधरवा बांध का मेढ़ टूटने से धान की खड़ी फसल बर्बाद.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Latehar news : लातेहार : लातेहार जिले के मनिका प्रखंड क्षेत्र में पिछले कई दिनों से हो रही बारिश के कारण प्रखंड के विशुनबांध गांव स्थित करूरधरवा बांध का मेढ़ बुधवार की रात्रि टूट गया. हालांकि, यह बांध काफी पुराना था. इस बांध का मेढ़ जमीन से तकरीबन 30 फीट ऊंचा था. मेढ़ टूट जाने से बांध के पास करीब 15 एकड़ भूमि में धान की लगी फसल नष्ट हो गयी है.

ग्रामीणों ने बताया कि बांध की निकासी (ह्यूम पाइप) के पास अत्यधिक पानी का दबाव पड़ने के कारण मेढ़ टूट गयी, जिससे बांध का पानी नीचे खेतों में फसलों को बरबाद करते हुए बह गया. इसकी जानकारी मिलने पर पूर्व प्रमुख सह कांग्रेसी नेता प्रमोद प्रसाद सिंह विशुनबांध पहुंचे और क्षति का जायजा लिया. मौके पर कांग्रेसी नेता आफताब आलम, टिंकू बाबा, अनिल यादव, सीताराम भुईयां, महेंद्र सिंह, नरेश तूरी, रामजीत सिंह आदि उपस्थित थे.

श्री सिंह ने बताया कि काफी पुराना बांध था. इससे आसपास के कई गांवों के खेतों में सिंचाई के लिए पानी मिलता था. इसके टूट जाने से धान के बाद आगे लगने वाले फसलों को भी नुकसान होने की संभावना बढ़ गयी है. इसके अलावा मुमताज अंसारी, फजल मिंया, सेराज मिंया, रामजी सिंह, इस्लाम मिंया, जगरूप सिंह, सिबोध सिंह, चमर सिंह, कुलदेव सिंह, अर्जुन सिंह, सुखेदव सिंह समेंत कई किसानों ने फसल नुकसान की मुआवजा को लेकर जिला प्रशासन से गुहार लगायी है.

Jharkhand news : लगातार बारिश से कई लोगों के गिरे घर.
Jharkhand news : लगातार बारिश से कई लोगों के गिरे घर.
प्रभात खबर.

वहीं, लगातार हो रही बारिश से कुटमु ग्राम निवासी प्रभु राम, जीतन राम और उदय भुईयां का घर गिर गया. सुनील कुमार के घर में घुटने तक पानी भर गया. अंचलाधिकारी नंदकुमार राम ने कहा कि पीड़ित परिवारों को फिलहाल आंगनबाड़ी केंद्र अथवा नजदीकी स्कूलों में शरण दिया जायेगा. उन्होंने खुद जांच करने एवं पीड़ित परिजनों को सरकारी प्रावधान के अनुरूप सुविधा मुहैया कराने की बात कही.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें