15.1 C
Ranchi
Saturday, February 24, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यझारखण्डलातेहार में वाहन जांच के नाम पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ आंदोलन शुरू

लातेहार में वाहन जांच के नाम पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ आंदोलन शुरू

आक्रोश रैली मेन रोड होते हुए समाहरणालय पहुंची. उपायुक्त को मांग पत्र सौंप कर दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की. आक्रोश रैली में शिक्षकों के अलावा स्थानीय दुकानदार भी शामिल हुए.

लातेहार : लातेहार जिले में वाहन जांच के नाम पर पुलिस की बर्बरता के खिलाफ आंदोलन शुरू हो गया है. इसकी शुरूआत शिक्षक संघ व अधिवक्ता संघ ने की है. शुक्रवार को शहर के जुबली चौक में प्रगति शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष हीरा प्रसाद यादव के खिलाफ पुलिस पदाधिकारी ने मारपीट की थी. इसके बाद सभी शिक्षक संघों ने पुलिस की इस बर्बरता की कड़ी निंदा की. शुक्रवार को विद्यालय में छुट्टी होने के बाद सभी शिक्षक संघों के सदस्यों ने धर्मपुर स्थित प्रखंड संसाधन केंद्र भवन से पुलिस के खिलाफ आक्रोश रैली निकाली.

आक्रोश रैली मेन रोड होते हुए समाहरणालय पहुंची. उपायुक्त को मांग पत्र सौंप कर दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की. आक्रोश रैली में शिक्षकों के अलावा स्थानीय दुकानदार भी शामिल हुए. इस अवसर पर अमूल्य रत्न द्विवेद्वी, नरेंद्र पांडेय, अरविंद कुमार, सत्येंद्र मेहरा, आशीष कुमार, प्रमोद कुमार, विकास कुमार शर्मा, जनेश्वर यादव, अभिषेक दुबे, पिंटू कुमार, अमित कुमार, अनूप कुमार, लाल आशीष नाथ शाहदेव आदि शामिल थे.

Also Read: लातेहार पुलिस को गंभीर हालत में युवती मिली, एक युवक हिरासत में
पुलिस की ज्यादती के खिलाफ अधिवक्ता भी उग्र हुए

जिला अधिवक्ता संघ भवन में अध्यक्ष राजमणी प्रसाद की अध्यक्षता में शुक्रवार को बैठक हुई. मौके पर वरीय अधिवक्ता प्रदीप कुमार उपाध्याय के भतीजे सह बैंक कर्मी प्रशांत उपाध्याय के साथ पुलिस द्वारा मारपीट किये जाने की घटना की निंदा की गयी. राजमणी प्रसाद ने कहा कि मोटरयान अधिनियम या भादवि या पुलिस नियमावली में किसी व्यक्ति को मारपीट करने का अधिकार नहीं है. दंड देने का अधिकार न्यायालय को है. बैठक में प्रशांत उपाध्याय के साथ मारपीट करनेवाले पुलिस कर्मी के खिलाफ न्यायालय में मामला दर्ज कराने का निर्णय लिया गया है. साथ ही दोषी पुलिस कर्मी पर कार्रवाई नहीं होने पर छह जनवरी से सभी अधिवक्ताओं ने काला बिल्ला कर न्यायिक कार्यों का निष्पादन करने की बात कही. बैठक में लाल प्रदीप नाथ शाहदेव, लाल अरविंद नाथ शाहदेव, वासुदेव पांडेय, पंकज कुमार, नवीन कुमार गुप्ता, शम्स कमर खां, संजय कुमार, बनवारी प्रसाद, अनिल ठाकुर, विक्रांत कुमार सिंह, संतोष रंजन, मिथिलेश कुमार सिन्हा, सविता साहू, हरिओम पांडेय, प्रमोद कुमार पांडेय, उज्ज्वल पांडेय, कौशल पांडेय सहित बड़ी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित थे.

खुद नियम नहीं मानते पुलिसकर्मी

तीन जनवरी को थाना चौक के पास बापनुर निवासी बैंककर्मी प्रशांत उपाध्याय के साथ पुलिस ने हेलमेट नहीं पहनने के कारण मारपीट की थी, जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गये थे. उनका इलाज रिम्स में चल रहा है. प्रशांत बाइक पर पीछे बैठे थे. इधर, शुक्रवार शाम 4:30 बजे शहर धर्मपुर मोड़ के पास एक पुलिस पदाधिकारी को बाइक पर बिना हेलमेट के पीछे बैठकर जाते देखा गया, जबकि धर्मपुर मोड़ के समीप पुलिस वाहन चेकिंग अभियान चल रही थी. उसे किसी ने नहीं पकड़ा.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें