1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamtara
  5. delhi police arrested iqbal from jamtara on naseem traces in e sim fishing racket case will reveal many secrets sam

ई- सिम फिशिंग रैकेट मामले में नसीम की निशानदेही पर दिल्ली पुलिस ने जामताड़ा से इकबाल को किया गिरफ्तार, खुलेंगे कई राज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : ई-सिम फिशिंग मामले में गिरफ्तार साइबर क्राइम आरोपी.
Jharkhand news : ई-सिम फिशिंग मामले में गिरफ्तार साइबर क्राइम आरोपी.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Jamtara news : जामताड़ा : ई-सिम फिशिंग मामले में जामताड़ा पहुंची दिल्ली पुलिस ने जामताड़ा नगर थाना पुलिस के सहयोग से साइबर क्राइम आरोपी इकबाल रसीद को चैंगायडीह गांव से गिरफ्तार किया है. इससे पहले पुलिस ने चैंगायडीह गांव से नसीम अंसारी को भी गिरफ्तार किया. पुलिस ने नसीम को ट्रांजिट रिमांड पर जामताड़ा पहुंची. साइबर आरोपी नसीम के निशानदेही पर ही दिल्ली पुलिस और जामताड़ा सदर थाना की पुलिस ने संयुक्त छापेमारी कर चेंगायडीह गांव से साइबर क्राइम आरोपी इकबाल रसीद को गिरफ्तार किया.

गिरफ्तार साइबर क्राइम आरोपी नसीम अंसारी के पास से पुलिस ने 14 एटीएम कार्ड और इकबाल रसीद के पास से 7 बैंक पासबुक बरामद किया है. बताया गया कि साइबर आरोपी नसीम ने गुरुग्राम में अपना धंधा चलाने के लिए एक महिला से शादी कर लिया है, जबकि नसीम पहले से ही शादी-शुदा है. पहली पत्नी और मां के नाम से नसीम ने एक भी पास बुक नहीं बनाया है, जबकि दूसरी महिला का उपयोग साइबर क्राइम के लिए किया है. बताया गया कि जिस दूसरी महिला से उसने शादी की है वो काफी गरीब है. नसीम ने पैसे का लालच देकर उससे शादी कर ली है. नसीम अपनी दूसरी पत्नी का उपयोग साइबर क्राइम के माध्यम से आये रुपयों की एटीएम से निकासी के लिए करता है.

नसीम ही इकबाल को देता था एटीएम

गिरफ्तार साइबर आरोपी नसीम अपनी दूसरी पत्नी या क्राइम पार्टनर के माध्यम से हरियाणा एवं दिल्ली समेत उसके आसपास के इलाकों से 5 हजार रूपये प्रतिमाह के हिसाब से एटीएम कार्ड उपलब्ध कराती थी. नसीम हरियाणा के गुरुग्राम में रहकर साइबर अपराध को अंजाम देता था. इकबाल के पास से 7 बैंक अकाउंट मिला है. गिरफ्तार साइबर आरोपी इकबाल के पास से जो बैंक अकाउंट दिल्ली पुलिस ने बरामद किया है. वह सभी हरियाणा के गुरुग्राम के आसपास के बैंकों का है. नसीम ने सभी पासबुक अपनी दूसरी पत्नी के माध्यम से ही खोलवाया गया है. इकबाल लोकल हैंडलर के रूप में काम करता था.

इकबाल से खुलेंगे कई राज

गिरफ्तार इकबाल रसीद को जब जामताड़ा साइबर थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उस समय चैंगायडीह से कई लोग साइबर थाना आकर पुलिस से उलझ गये थे. हालांकि, संबंधित थाना पुलिस ने सरकारी कार्यों में बाधा डालने को लेकर मामला भी दर्ज कर उसे जेल भेजा था. पुलिस अब गिरफ्तार आरोपी से दिल्ली में कई राज उगलवा सकती है. गिरफ्तार साइबर आराेपियों का कनेक्शन सफेदपोश से है या नहीं, इसके लेकर भी दिल्ली पुलिस ने जांच के संकेत दिये हैं.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें