26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Lok Sabha Election 2024: जमशेदपुर में सौ सीसीटीवी के जरिए हो रही इवीएम की निगरानी, अर्द्धसैनिक बलों के जिम्मे सुरक्षा व्यवस्था

जिला निर्वाचन पदाधिकारी अनन्य मित्तल ने बताया कि इवीएम, वीवीपेट और पोस्टल बैलेट जमा होने के बाद प्रेक्षक और उम्मीदवारों के उपस्थिति में स्ट्रॉन्ग रूम को सील कर दिया गया है.

जमशेदपुर लोकसभा चुनाव के बाद सभी छह विधानसभा क्षेत्रों से लायी गयी इवीएम को बिष्टुपुर स्थित को-ऑपरेटिव कॉलेज भवन में बनाये गये स्ट्राॅन्ग रूम में रविवार को रख दी गयी. इससे पहले विधानसभा वार बनाये गये स्ट्राॅन्ग रूम की सीलिंग की प्रक्रिया पूरी की गयी. घाटशिला, बहरागोड़ा से 92 पोलिंग पार्टियों के रविवार को पहुंचने के बाद सभी विधानसभा के स्ट्रांग रूम को सील किया गया. पर्यवेक्षक, जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त अनन्य मित्तल, एसएसपी किशोर कौशल, डीडीसी मनीष कुमार, एसडीओ पारुल सिंह, एआरओ प्रियंका सिंह की उपस्थिति में स्ट्राॅन्ग रूम सील किये जाने की प्रक्रिया पूरी की गयी. इसके बाद पूरा भवन अर्द्धसैनिक बलों के हवाले कर दिया गया है. अब आयोग के आदेश पर स्ट्राॅन्ग रूम चार जून को खुलेंगे. इसके बाद मतगणना होगी.

अर्द्धसैनिक बलों के जिम्मे सुरक्षा

सभी स्ट्राॅन्ग रूम के गेट, कॉलेज प्रवेश का मुख्य गेट, कॉलेज भवन की ओर जाने वाले मोड़ पर अर्द्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है. कॉलेज परिसर में प्रवेश करने वाले मुख्य गेट के समीप जिला पुलिस, जैप के जवानों को तैनात किया गया है. इसके अलावा होमगार्ड, पेट्रोलिंग पार्टी, दंडाधिकारी व राउंड ओ क्लॉक जांच के लिए पुलिस पदाधिकारियों की नियुक्ति की गयी है.

बाहर की सुरक्षा व्यवस्था जिला आर्म्स पुलिस के हवाले

स्ट्राॅन्ग रूम की सुरक्षा व्यवस्था तीन स्तर की रखी गयी है. अंदर के हिस्से व भवन को अर्द्धसैनिक बल, मध्य में जैप और बाहर में जिला आर्म्स पुलिस सुरक्षा संभाल रही है. इसके अतिरिक्त पूरे कॉलेज भवन, स्ट्राॅन्ग रूम में 100 सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जा रही है. राजनीतिक दल-प्रत्याशी के प्रतिनिधि अंदर की गतिविधि देख सकें, इसके लिए बाहर (जहां वाहन कोषांग बनाया गया) बड़ी स्क्रीन लगायी गयी है. अर्द्धसैनिक बल के जवानों के जिम्मे भवन होने के बाद अनाधिकृत लोगों के कॉलेज भवन में प्रवेश पर रोक लगा दी गयी है. जिला निर्वाची पदाधिकारी के हस्ताक्षर के बाद लॉगबुक खोल दिया गया है, जिसमें को-ऑपरेटिव कॉलेज के स्ट्राॅन्ग रूम के बाहर तैनात जवान, पर्यवेक्षक अपना साइन करेंगे.

सील करने के पूर्व स्ट्राॅन्ग रूम का बिजली कनेक्शन काटा गया

सील, स्क्रूटनी के बाद कॉलेज से रवाना होने के पूर्व सामान्य प्रेक्षक, पुलिस प्रेक्षक और जिला निर्वाची पदाधिकारी के साथ विधान सभा वार बने एक-एक स्ट्राॅन्ग रूम के सामने जाकर सील-लॉक का जायजा लिया, जायजा लेने के दौरान उन्होंने जिला निर्वाची पदाधिकारी से सील की जानकारी ली. शाॅर्ट सर्किट न हो इसलिए सील करने के पूर्व स्ट्राॅन्ग रूम का बिजली कनेक्शन काट दिया गया है.

स्ट्राॅन्ग रूम की सुरक्षा व्यवस्था पर्याप्त : उपायुक्त

जिला निर्वाचन पदाधिकारी अनन्य मित्तल ने बताया कि इवीएम- वीवीपेट, पोस्टल बैलेट जमा होने के बाद प्रेक्षक और प्रत्याशी व उनके अभिकर्ता की उपस्थिति में स्ट्राॅन्ग रूम को सील कर दिया गया है. स्ट्राॅन्ग रूम की तीन स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गयी है. अंदर की सुरक्षा अर्द्धसैनिक बल, मध्य सुरक्षा जैप और आउटर सुरखा जिला आर्म्स फोर्स के जिम्मे होगी. साथ ही सीसीटीवी कैमरे से स्ट्राॅन्ग की मॉनिटरिंग की जायेगी, जिसका कंट्रोल रूम बनाया गया है. प्रत्याशियो और दलों के लोगों के लिए फेसिलिएशन सेंटर बनाये गये हैं जहां सीसीटीवी कैमरे की लाइव स्क्रीन पर प्रसारण की जायेगी और प्रत्याशी दलों के लोग उस पर 24 घंटे नजर रख सकेंगे. प्रत्याशियों को आउटर क्षेत्र में शिविर लगाने के लिए पत्र लिखा गया है और चुनाव आयोग के गाइडलाइन के आलोक में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की गयी है.

सुरक्षा व्यवस्था की लगातार होगी मॉनिटरिंग : एसएसपी

एसएसपी किशोर कौशल ने कहा कि को ऑपरेटिव कॉलेज भवन में बनाये गये स्टॉन्ग रूम की सुरक्षा व्यवस्था राउंड ओ क्लॉक कैसे मजबूत बनी रहे, इसको लेकर लगातार वरीय पदाधिकारी मॉनिटरिंग करते रहेंगे. कॉलेज कैंपस में सिर्फ उन्हीं को कैंप-टेंट लगाने दिया जायेगा, जिन्हें जिला निर्वाची पदाधिकारी से परमिशन मिलेगी.

Also Read : Lok Sabha Election 2024: चंपाई सोरेन ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा-इस बार सत्ता से जाना तय

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें