1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. jamshedpur news tata steel employees will not have to line up to see a doctor tmh management is starting this facility srn

फोन पर ही मिलेगी टाटा स्टील कर्मचारियों को स्वास्थ्य सलाह, लंबी लाइन से मिलेगी राहत

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में शुरू कर रहा है टेली सर्विसेज अपॉइंटमेंट
टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में शुरू कर रहा है टेली सर्विसेज अपॉइंटमेंट
Prabhat Khabar

Jamshedpur TATA Steel News जमशेदपुर : टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में टाटा स्टील के कर्मचारियों या उनके आश्रितों को डॉक्टर से दिखाने के लिए अब कतार में खड़ा नहीं होना पड़ेगा. टीएमएच प्रबंधन ऑनलाइन टेली सर्विसेज अपॉइंटमेंट की सुविधा शुरू कर रहा है. इसके तहत कर्मी या आश्रित ऑनलाइन डॉक्टर को अपनी बीमारी के बारे में बतायेंगे व डॉक्टर की लिखी दवा उन्हें फॉर्मेसी से मिल जायेगी. इसके लिए संबंधित मरीज को अपना एमआर नंबर डॉक्टर को बताना होगा. एमआर नंबर से डॉक्टर मरीज का रिकाॅर्ड अपने कंप्यूटर में देख दवा लिखेंगे.

मरीज को दी जाने वाली दवा फॉर्मेसी विभाग को भेज दी जायेगी. संबंधित मरीज अपना मेडिकल बुक फाॅर्मेसी को दिखाकर दवा ले सकेंगे. इसका लाभ कंपनी के कर्मचारियों, सेवानिवृत्त कर्मचारियों और उनके आश्रितों को मिलेगा. बुधवार को टाटा स्टील प्रबंधन और टाटा वर्कर्स यूनियन के बीच ऑनलाइन हुई बैठक में नयी व्यवस्था को शुरू करने का निर्णय लिया गया. बैठक में कंपनी प्रबंधन की ओर से ग्रुप चीफ आइआर जुबिन पालिया, चीफ एचआरएम दीपा वर्मा, टीएमएच के मेडिकल सर्विसेज चीफ डॉक्टर सुधीर राय, टीएमएच के स्वास्थ्य सलाहकार डॉक्टर राजन चौधरी, संजय बिरमानी और यूनियन की ओर से अध्यक्ष संजीव चौधरी, महामंत्री सतीश कुमार सिंह और डिप्टी प्रेसिडेंट शैलेंद्र सिंह मौजूद थे.

कोरोना संक्रमण काल में टीएमएच में मरीजों की भीड़ को कम करने के लिए टीएमएच प्रबंधन सभी स्थायी कर्मचारियों, सेवानिवृत्त कर्मचारियों और उनके आश्रितों के लिए ऑनलाइन टेली सर्विसेज अपॉइंटमेंट की सुविधा शुरू करने की पहल की है. अब तक कर्मचारी टीएमएच विश्वास या टेलीफोन के माध्यम से डाॅक्टर से मिलने के लिए बुकिंग कराते थे. जिससे कई बार डॉक्टर का नंबर मरीज को नहीं मिल पाता था. अस्पताल में भी अनावश्यक मरीज और उनके परिजनों की भीड़ लगती थी.

बुजुर्गों को प्राथमिकता देने के लिए आइटीएस विभाग तैयार करेगा डाटा

टाटा स्टील से रिटायर कर्मचारियों या उनके बुजुर्ग आश्रित को डॉक्टर से मिलने के लिए इंतजार नहीं करना होगा. टाटा वर्कर्स यूनियन की पहल पर आइटीएस विभाग इसके लिए डाटा तैयार कर रहा है. यूनियन ने प्रबंधन को डॉक्टर से मिलने वाले मरीजों को उम्र के आधार पर प्राथमिकता देने का मामला उठाया है. यूनियन का कहना है कि गंभीर स्थिति नहीं होने पर पहले 70 साल से अधिक उम्र वाले, फिर 60 साल वाले और उसके बाद उससे कम उम्र के मरीजों को डॉक्टर से मिलने में प्राथमिकता दी जाये. यूनियन के सुझाव पर प्रबंधन ने आइटीएस विभाग से इसके लिए डाटा तैयार कर भविष्य में इस तरह की पहल करने का आश्वासन दिया है.

Posted by : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें