जमशेदपुर : जेल में बंद खनन पदाधिकारी के घर पर एसीबी का छापा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
चार लाख निवेश के कागजात जब्त
लोकसभा चुनाव के दौरान मार्च 2019 में नैनो कार में 51 लाख रुपये के साथ नामकुम में हुए थे गिरफ्तार
जमशेदपुर : भ्रष्टाचार के आरोप में निलंबित व जेल में बंद खनन पदाधिकारी निरंजन प्रसाद के जमशेदपुर स्थित टुइलाडुंगरी आवास पर गुरुवार की सुबह एसीबी और रांची पुलिस की टीम ने छापा मारा.
छापेमारी में निरंजन प्रसाद के घर से चार लाख रुपये निवेश से जुड़े कागजात मिले हैं. इसमें एलआइसी, बैंक पासबुक और एनएससी का पेपर शामिल है. छापेमारी सुबह 10.30 बजे से शाम 4.30 बजे तक चली. छह घंटे तक चली जांच के बाद सभी निवेश के कागजात दंडाधिकारी फूलेश्वर महतो के सामने सूची बनाकर टीम ने जब्त कर लिया.
छापेमारी में केस की अनुसंधान प्रभारी नीरा प्रभा टोप्पो, नागेंद्र मंडल, राम चंद्र रजक और गोलमुरी पुलिस मौजूद थी. इस दौरान निरंजन प्रसाद के परिवार के लोग भी मौजूद थे. एसीबी के डीएसपी जितेंद्र दूबे ने बताया कि निरंजन प्रसाद लोहरदगा के निलंबित खनन निरीक्षक है जो वर्तमान में जेल में है.
मार्च 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान नैनो कार में 51 लाख रुपये नकद के साथ नामकुम थाना क्षेत्र के कालीनगर से उन्हें गिरफ्तार किया गया था. निरंजन प्रसाद के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया गया था. केस एसीबी को मिलने के बाद उसकी जांच चल रही है. केस की जांच चुनाव आयोग, आयकर विभाग भी कर चुका है. निरंजन प्रसाद जमशेदपुर में भी खनन निरीक्षक रह चुके है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें