1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. learn how bajrang changed the lifestyle of people with 4 cows in barkagaon

बड़कागांव में बजरंग ने 4 गाय से लोगों की कैसे बदली जीवन शैली, जानें

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news : घरों में दूध देते बजरंग राम.
Jharkhand news : घरों में दूध देते बजरंग राम.
फोटो : प्रभात खबर.

Hazaribag news, Jharkhand news : बड़कागांव (हजारीबाग) : हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव प्रखंड का क्षेत्र इन दिनों बेहतर कार्य के लिए चर्चा में हैं. पहले अनुसूचित जाति मोहल्ला के लोग हमेशा शराब पिया करते थे, लेकिन बड़कागांव के बजरंग राम ने इनलोगों दूध पिलाकर उनकी जीवन शैली ही बदल दी. आज बजरंग के इस कार्य ही हर ओर प्रशंसा हो रही है. पढ़ें, संजय सागर की रिपोर्ट.

बड़कागांव प्रखंड का अनुसूचित जाति मोहल्ला. यहां के अधिकांश युवक और वृद्ध शराब के नशे में रहते थे. इस कारण हमेशा एक-दूसरे के बीच लड़ाई-झगड़ा होता रहता था. इसी प्रखंड के बजरंग राम ने इनलोगों की आदत सुधारने को ठानी. सबसे पहले बजरंग ने 4 गाय खरीदी. इन गायों से अच्छा दूध होने लगा.

अब बजरंग राम ने इस मोहल्ले के करीब 45 घरों में दूध देना शुरू किया. शुरू में इस काम को किसी ने तरजीह नहीं दिया, लेकिन धुन के पक्के बजरंग ने मोहल्ले के लोगों को शराब के दुरुपयोग के बारे में जागरूक करते रहें. साथ ही दूध से होने वाले फायदे के बारे में भी बताते रहें.

कुछ दिन बाद बजरंग की मेहनत रंग लायी. पहले कुछ लोगों ने दूध लेना शुरू किया. अब मोहल्ले के युवा और वृद्ध शराब की जगह दूध का उपयोग करने लगे. इसको देखते हुए धीरे-धीरे मोहल्ले के करीब 45 परिवारों ने बजरंग से दूध लेना शुरू कर दिया. इससे बजरंग को एक साथ दोहरा लाभ हुआ.

एक तो दूध भी बिकने लगी. इससे अच्छा आमदनी भी होने लगा. दूसरी ओर, बजरंग की मुहिम का असर भी दिखने लगा. जहां कल तक हमेशा लोग शराब के नशे में रहते थे, वहीं अब शराब से कोसों दूर हो गये हैं. अब सभी के चेहरे चमकने लगे हैं. बजरंग कहते हैं दूध बेच कर अब हर महीने करीब 22,000 रुपये की आमदनी कर रहे हैं. वहीं, मोहल्ले के अधिकांश लोगों ने शराब पीना भी छोड़ दिया है.

अब तो स्थिति ऐसी हो गयी है कि मोहल्ले के लोग अब काम भी करने लगे हैं. पहले शराब के नशे में रहने के कारण काम से कोसों दूर रहते थे. बजरंग ने इनलोगों की जीवन शैली में बड़ा बदलाव किया है. इस संबंध में ग्रामीण कैलाश राम, नरसिंह राम, नंद किशोर राम, संजय राम आदि लोगों का कहना है कि जो लोग पहले शराब पीते थे, वो अब दूध पीने लगे हैं. यह अच्छा बदलाव है.

मुखिया भी चला रखी है शराब विरोधी आंदोलन

बड़कागांव प्रखंड अंतर्गत पश्चिमी पंचायत की मुखिया अनिता देवी शराब विरोधी आंदोलन वर्षों से चलाते आ रही हैं. शराब से दूर रहने के लिए ग्रामीणों को जागरूक कर रही हैं. साथ ही शराब पीने से होने वाले नुकसान को भी बताती रहती हैं. इस कारण उनके मोहल्ले का अधिकांश युवक शराब पीना छोड़ कर अपने- अपने रोजगार में लग गये हैं. इस मुहिम में पूर्व विधायक लोकनाथ महतो एवं पंचायत के अन्य लोगों का भी हमेशा साथ मिलता रहा है.

Posted By : Samir ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें