1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand lockdown 500 barber shops closed in gumla barber shopkeepers took measures to get out of this crisis

Jharkhand Lockdown : गुमला में 500 नाई दुकानें बंद, नाई दुकानदारों ने इस संकट से निकलने का निकाला उपाय

By Panchayatnama
Updated Date
श्रीकांत ठाकुर (बायें) और कर्पूरी ठाकुर (दायें).
श्रीकांत ठाकुर (बायें) और कर्पूरी ठाकुर (दायें).
प्रभात खबर.

दुर्जय पासवान

गुमला : लॉकडाउन के कारण गुमला जिले में करीब 500 नाई दुकान बंद है. जबतक लॉकडाउन रहेगा नाई दुकानें नहीं खुलेगी. नाई दुकान बंद होने से बाल और दाढ़ी बनाने वालों के सामने आफत आ गयी है. कई लोग नाई दुकान बंद होने के कारण एक महीने से बाल व दाढ़ी नहीं बना पा रहे हैं. वहीं, नाई समाज के समक्ष भी रोजी-रोटी की समस्या उत्पन्न हो गयी है. नाई दुकानदारों ने इसका हल भी निकाला है. हर सुबह छह बजे से 11 बजे तक ग्राहकों के घर जाकर बाल-दाढ़ी बनायेंगे. इस दौरान सेनिटाइज, सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन का पालन भी अनिवार्य रूप से किया जायेगा.

नाई समाज गुमला के जिला अध्यक्ष कर्पूरी ठाकुर ने कहा कि शुरू में लगा कि कुछ दिनों के बाद दुकान खुल जायेगी. लेकिन, देश में कोरोना महामारी की संकट को देखते हुए लॉकडाउन की अवधि बढ़ा दी गयी. इससे सभी नाई दुकानों को बंद करना पड़ा. दुकान बंद होने से लोगों के समक्ष आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है. हालांकि, हमलोग इस समस्या से निकलने के लिए उपाय निकाले हैं. हमारे समाज के लोग जो अभी मुसीबत में हैं. उन्हें समाज के ही लोगों द्वारा मदद की जा रही है, ताकि इस संकट से हमलोग लड़कर निकल सकें. उन्होंने यह भी कहा कि अगर किन्हीं को जरूरी है कि बाल-दाढ़ी बनाना है, तो वे संपर्क करें. उन्हें घर में जाकर बाल- दाढ़ी बनाया जायेगा.

अभय ठाकुर (बायें) और मोहन ठाकुर (दायें).
अभय ठाकुर (बायें) और मोहन ठाकुर (दायें).
प्रभात खबर.

मोहन ठाकुर ने कहा कि कोरोना महामारी नाई दुकानदारों के लिए आफत बनकर आयी है. महीने से दुकानें बंद है. आमदनी बंद हो गयी है. कुछ लोग तो परिवार चला ले रहे हैं, लेकिन हमारे समाज के कई लोगों के समक्ष आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है. नाई समाज पर न तो सरकार और न ही प्रशासन का कोई ध्यान है. जिस प्रकार लॉकडाउन बढ़ी है. अब यही उपाय है कि अगर कोई फोन करे, तो हम उनके घर जाकर बाल-दाढ़ी बना सके. इसके लिए पूरी तरह सेनिटाइज होकर हमलोग बाल दाढ़ी बनाने का काम करेंगे.

अभय ठाकुर ने कहा कि कोरोना महामारी मुसीबत बनकर आयी है. इस महामारी से लड़ने के अलावा नाई समाज के लोग आर्थिक संकट से भी लड़ रहे हैं. उन्होंने लोगों से कहा है कि किसी को भी जरूरत हो, तो फोन करें. घर पर जाकर बाल दाढ़ी बनायेंगे. हमलोग पूरी तरह सेनिटाइज का इस्तेमाल करते हुए साफ-सुथरा औजार से बाल-दाढ़ी बनायेंगे. वहीं, श्रीकांत ठाकुर ने भी कहा कि अभी संकट का समय है. इससे निकलना है. इसलिए लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं. लेकिन, दुकान बंद होने से आर्थिक समस्या उत्पन्न हो गयी है.

छह से 11 बजे तक देंगे सेवाकिसी को बाल- दाढ़ी बनानी हो, तो वे विभिन्न मोबाइल नंबर पर संपर्क कर सकते हैं. कर्पूरी ठाकुर (8340184802), मोहन ठाकुर (8102065753), अभय ठाकुर (6205856180) और श्रीकांत ठाकुर (7061849587) के मोबाइल नंबर पर संपर्क कर सकते हैं. दो किमी की दूरी तक घर पर जाकर बाल-दाढ़ी बनायेंगे. सुबह छह बजे से 11 बजे तक ही घर में जाकर बाल- दाढ़ी बनाने का समय निर्धारित किया गया है. घर में जाकर बाल- दाढ़ी बनाने पर कुछ चार्ज अधिक रहेगा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें