1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. canal built at a cost of 17 crores broken within a year 17 crore pucca canal becomes useless

17 करोड़ की लागत से बना नहर टूटा, एक वर्ष के अंदर 17 करोड़ का पक्का नहर बेकार हो गया

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बिशुनपुर : बिशुनपुर प्रखंड के मुंदार से कोयनार टोली तक 17 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया पक्का नहर एक साल में ही टूट गया. एक वर्ष पूर्व साईं कृष्णा कंट्रक्शन द्वारा लगभग 17 किमी इस पक्की नहर का निर्माण कराया गया था. हालांकि नहर के निर्माण कार्य के दौरान ही निर्माण कार्य में अनियमितता को लेकर स्थानीय जनप्रतिनिधियों द्वारा आवाज उठायी गयी थी, परंतु संवेदक एवं विभाग द्वारा इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया. नतीजा एक वर्ष में ही नहर लगभग आधा दर्जन जगहों पर टूट कर ध्वस्त हो गया.

बतातें चले कि मुंदार, रहेटोली, चापाटोली, मंजीरा डीपाडीह, करमटोली, जेहनगुटवा, कोईनार टोली, अंबाटोली सहित कई गांवों के हजारों किसानों को सिंचाई सुविधा मुहैया कराने के लिए इस नहर का निर्माण किया गया है. नहर बनने से उक्त गांवों के किसान भी काफी खुश थे, परंतु गत दिनों नहर के टूट जाने के बाद किसानों में मायूसी छा गयी है. बरसाती पानी ने नहर के निर्माण कार्य की गुणवत्ता की पोल खोल कर रख दी है. हालांकि गत वर्ष ही नहर बनते के साथ कई जगहों पर टूट गया था. वहीं इस साल की बारिश के कारण आधा दर्जन से भी अधिक जगहों पर नहर टूट गया है. सबसे बड़ी बात कि उक्त टूटे हुए नहर को देखने वाला तक कोई नहीं है.

हेलता पंचायत के पंचायत समिति सदस्य सुशील मुंडा ने बताया कि जब नहर निर्माण का काम चल रहा था, तब संवेदक द्वारा घटिया निर्माण कराया जा रहा था, जिसका विरोध भी ग्रामीणों के सहयोग से किया गया, परंतु विभागीय अधिकारी द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गयी और न ही संवेदक द्वारा निर्माण कार्य में सुधार लाया गया. इसका नतीजा है कि आज बरसात का पानी नहर को तोड़ कर बर्बाद कर दिया है, जिससे अब किसानों के खेतों तक पानी पहुंचना संभव नहीं है.

Post by : Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें