झारखंड में पीएलएफआइ के दो उग्रवादी गिरफ्तार, चार राइफल व भारी मात्रा में कारतूस बरामद

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

दुर्जय पासवान

गुमला : झारखंड में गुमला जिला की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. उर्मी गांव में किराये के मकान में रह रहे दो उग्रवादियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. दोनों प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआइ) के सदस्य हैं. इनके पास से पुलिस ने चार राइफल, पिस्टल और भारी मात्रा में कारतूस बरामद किये हैं.

चार दिन पहले इन्हीं लोगों ने गुमला के सोकराहातू घाटी में सड़क निर्माण में लगे जेसीबी को जला दिया था. उग्रवादियों द्वारा जेसीबी जलाने के बाद से गुमला पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी. शनिवार की रात को गुमला के एसपी अंजनी कुमार झा को गुप्त सूचना मिली कि उर्मी गांव के एक घर में कुछ उग्रवादी छिपे हुए हैं.

इसी सूचना पर पुलिस की एक टीम गांव पहुंची और नक्सलियों की घेराबंदी की. घर से गिंदरा महुआटोली गांव के शिवेंद्र गोप व कलिगा गांव के श्रवण गोप को पुलिस ने धर दबोचा. इन दोनों के निशानदेही पर घर में छिपाकर रखे गये हथियार व गोलियां बरामद हुईं.

श्रवण ने बताया कि वह जेसीबी जलाने के लिए उग्रवादियों के साथ गया था. शिवेंद्र इंटर का छात्र है और इस बार इंटर की परीक्षा लिख रहा है. ये लोग उर्मी गांव में किराया पर घर लेकर रह रहे हैं. श्रवण ने यह भी बताया कि बलिराम नामक व्यक्ति ने रात में यहां हथियार लाकर रखा था. तभी पुलिस पहुंच गयी और दोनों को धर दबोचा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें