27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

इगो को छोड़कर अपने अधिकार को समझते हुए हर हाल में करें मतदान

खुद वोट दें और दूसरों को भी करें प्रेरित

स्थानीय जिला बार में अधिवक्ताओं के बीच प्रभात खबर की ओर से वोट करें, देश गढें कार्यक्रम का आयोजन किया गया. पुस्तकालय कक्ष में आयोजित मतदाता जागरूकता अभियान के तहत अधिवक्ताओं के बीच मतदाता जागरूकता को लेकर शत-प्रतिशत मतदान सुनिश्चित करने का संदेश दिया गया. बार के अध्यक्ष अधिवक्ता सुशील कुमार झा की अध्यक्षता में आयोजित जागरूकता अभियान के तहत सभी लोगों से अपने मताधिकार का प्रयोग करने का आह्वान किया गया. उपस्थित अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए अध्यक्ष श्री झा ने कहा कि लोकतंत्र में ‘ओपेन योर आइ एंड क्लोज योर आइ’ के संदेश पर काम करें. यानि अपने इगो को अंदर से छोड़कर अपने अधिकार को समझते हुए मतदान हर हाल में करें. कहा कि आज क्या हालात हैं, इतनी उदासीनता वोट को लेकर क्यों है. अपने अधिकार की रक्षा के लिए मताधिकार करने का हक उन्हें मिला है. उन्होंने यह भी कहा कि वोट के महत्व को समझते हुए सभी का कर्तव्य बनता है कि वो अपने मताधिकार को प्रयोग करें. अपने संबोधन में संघ के महासचिव योगेश चंद्र झा ने कहा कि लोकतंत्र की स्वच्छ परंपरा का निर्वहन करते हुए स्वयं वोट करें तथा अन्य लोगों को भी प्रेरित करने का काम काम करें. पांच वर्षों के दौरान आने वाले इस महापर्व में सबों की भागीदारी आवश्यक है. श्री झा ने कहा कि लोकतंत्र तभी मजबूत हो सकता है, जब हम सभी अपनी भूमिका का निर्वाह करेंगे. उन्होंने मतदान के लिए लोगों को भी प्रेरित करने की बात कही.

कार्यक्रम के दौरान अधिवक्ताओं ने ली शपथ

कार्यक्रम के दौरान अधिवक्ताओं ने अध्यक्ष के नेतृत्व में शपथ लेते हुए स्वच्छ व निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने की बात कही. इस दौरान अधिवक्ताओं में अजीत कुमार वर्मा, रतन कुमार दत्ता, अम्बोद कुमार ठाकुर, श्यामल किशोर ठाकुर, प्रमोद कुमार पंडित, भवेश कांत झा, अरविंद कुमार मिश्रा, गोलोक बिहारी झा, सुबोध कुमार पंजियारा, सुरेश यादव, यशवंत सिंह, अवधेश कुमार ठाकुर, वंशीधर झा, रविंद्र कुमार झा, सुबोध कुमार यादव, संतोष कुमार यादव, अंजनी कुमार चौधरी, लखनलाल पंडित, रतन कुमार मिश्रा, सुमित कुमार घोष आदि के नाम शामिल हैं. कार्यक्रम का संचालन ब्यूरो चीफ निरभ किशोर ने किया तथा सहयोगी के रूप में प्रतिनिधि अविनाश कुमार भी मौजूद रहे.‘आज हम सभी को इस बात पर अमल करने की जरूरत है कि लोकतंत्र किस प्रकार सुरक्षित रह सकता है. इसके लिए सभी लोगों को आगे बढ़कर अपने मताधिकार का प्रयोग करने की जरूरत है. हम अगर इससे चूकते हैं, तो देश को इससे नुकसान होगा. मतदान एक संवैधानिक अधिकार है, जिसे सभी को वोट देकर पूरा करना है.

-केडी सहाय, वरीय अधिवक्ता

‘चुनावी प्रक्रिया के दौरान इस वर्ष मतदान का प्रतिशत कम हो गया है. यह आयोग की असफलता की ओर इशारा करता है. इसके लिए प्रशासन को लगातार जागरूकता करने की जरूरत है. हालांकि प्रभात खबर की ओर से आयोजित जन सरोकार कार्य प्रशंसनीय है. लोग अपने अधिकार का प्रयोग कर लोकतंत्र को मजबूत करें.

-धमेंद्र नारायण, सदस्य बार कांउसिल ऑफ झारखंड

‘मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने के लिए प्रभात खबर बधाई का पात्र है. आज देश के 50 से 60 प्रतिशत मतदाता का ही योगदान सरकार चुनने में किया जा रहा है. जबकि शत-प्रतिशत लोगों की भागीदरी इसमें होनी चाहिए. इसलिए लोकतंत्र को मजबूती करने के लिए हर हाल में सबों की भागीदारी आवश्यक है.

-दिवाकर प्रसाद यादव, कोषाध्यक्ष, बार एसोसिएशन

‘देश की उन्नति चाहिए तो बेहतर सरकार चुनने का हक भी आपके हाथों में है. वोट देकर हम अपने लोकतंत्र को अधिक मजबूत बना सकते हैं. जब तक लोकतंत्र मजबूत नहीं होगा, हम किसी भी हालत में अपनी या फिर समाज के विकास की बात नहीं कर सकते. समाज के बुद्धिजीवियों का कर्तव्य है कि लोगों को प्रेरित करें.

– संजय कुमार, वरीय, अधिवक्ता

‘हम पहले अपने घर व परिवार के लोगों को पूरी तरह से वोट के लिए प्रेरित कर उनका शत-प्रतिशत मतदान कराएं. जब तक खुद को ठीक नहीं करेंगे, दूसरों को प्रेरणा देने का अर्थ नहीं रह जाता है. आने वाले चुनाव में प्रत्येक व्यक्ति अपना प्रयास करे, ताकि एक सामूहिक प्रयास सामने दिखे व शत-प्रतिशत मतदान संभव हो पाये.

-तनवीर अहमद इरफानी उर्फ शेरू, वरीय अधिवक्ता

‘लोकतंत्र वोट की वजह से कायम है. हम चुनाव में अपना मतदान देते हैं, इससे जनप्रतिनिधि का चयन होता है. जनप्रतिनिधियों द्वारा देश के विकास की सोच सदन में बैठकर तैयार किया जाता है. नागरिक का कर्तव्य है कि वे मतदान करें तथा लोकतंत्र को शक्ति प्रदान करें. हमारे एक वोट की वजह से ही विकास होता है.

-सर्वजीत झा, वरीय अधिवक्ता

‘सच ताे यह है कि जागरूकता अभियान जिला प्रशासन काे चुनाव के समय ही नहीं, बल्कि पहले से ही चलाना चाहिये. वोट प्रतिशत अगर कम हो रहा है, तो इसके पीछे का कारण गांव व सुदूर क्षेत्र के लोगों को वोट के बारे में बेहतर जानकारी से रूबरू नहीं किया जा रहा है. सबों का कर्तव्य है कि अधिकार के बारे में लोगों को बतायें.

– जफर इकबाल, वरीय अधिवक्ता

‘वोट करें, देश गढ़ें…जैसे कार्यक्रम को आयोजित कर प्रभात खबर ने जागरूकता अभियान चलाया है. देश के महापर्व के रूप में आयोजित मतदान के दिन सभी अपने घरों से निकलें तथा हर हाल में अपने मताधिकार का प्रयोग करें. जब तक वोट का प्रतिशत ना बढ़े, इसके लिए हरेक नागरिक अपनी ओर से पहल करें.

-अम्बुज ठाकुर, वरीय अधिवक्ता

‘केवल वोट की बात नहीं करें. अपने मताधिकार का प्रयोग कर हम इस महापर्व का आनंद लें. महापर्व को सही तरीके से मनाने का मतलब है कि हरेक व्यक्ति का वोट पड़े. वोट की ताकत पर ही देश की ताकत निर्भर करता है. वोट देने व दिलाने में जरा सी भी कोताही ना हो. एक नागरिक होने का कर्तव्य हर हाल में अदा करना है.

– चंद्र शेखर पाठक, अधिवक्ता

‘मतदान की तिथि एक जून को निर्धारित है. मतदान के दिन अपने घर से निकलकर सीधे मतदान केंद्र जायें और वोट देकर अपने दायित्व का निर्वहन करें. अधिवक्ता का संपर्क क्षेत्र के विभिन्न वर्गों से रहता है. इसके कारण उन्हें भी इसका बोध कराते हुए मतदान के लिए प्रेरित करें. इससे मतदान प्रतिशत बढ़ सकता है.

-ब्रज भूषण सिन्हा, अधिवक्ताB

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें