1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. giridih
  5. jharkhand news in front of rameshwar oraon leaders created a ruckus threw chairs shouted slogans at the venue know the whole matter srn

रामेश्वर उरांव के सामने नेताओं ने किया हंगामा, फेंकीं कुर्सियां, कार्यक्रम स्थल पर ही हुई जमकर नारेबाजी, जानें पूरा मामला

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
गिरिडीह में रामेश्वर उरांव के सामने नेताओं ने किया हंगामा, फेंकीं कुर्सियां,
गिरिडीह में रामेश्वर उरांव के सामने नेताओं ने किया हंगामा, फेंकीं कुर्सियां,
प्रतीकात्मक तस्वीर

Jharkhand News, giridih congress news, giridih news गिरिडीह : जिला कांग्रेस के नये भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में शुक्रवार को कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव के समक्ष जमकर हंगामा किया. इस दौरान नेताओं ने कुर्सियां फेंकीं, नारेबाजी की और धरना पर बैठ गये. शिलान्यास कार्यक्रम शहर के बक्शीडीह रोड में आयोजित था. कार्यकारी अध्यक्ष सह जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी भी इसमें शिरकत कर रहे थे.

जिला कांग्रेस के नये भवन के शिलान्यास कार्यक्रम में शुक्रवार को कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव के समक्ष जमकर हंगामा किया. इस दौरान नेताओं ने कुर्सियां फेंकीं, नारेबाजी की और धरना पर बैठ गये. शिलान्यास कार्यक्रम शहर के बक्शीडीह रोड में आयोजित था. कार्यकारी अध्यक्ष सह जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी भी इसमें शिरकत कर रहे थे.

कार्यकर्ताओं को हंगामा करते देख पार्टी के वरिष्ठ नेता हक्का-बक्का रह गये. प्रदेश अध्यक्ष डॉ उरांव व विधायक श्री अंसारी ने नाराज कार्यकर्ताओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं माने. इसके बाद दोनों नेता अपनी-अपनी कुर्सी पर बैठ गये. एकतरफ कार्यक्रम चल रहा था, तो दूसरी तरफ कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता धरना दे रहे थे.

ये लोग शिलान्यास कार्यक्रम के मंच पर नगर अध्यक्ष महमूद अली खान की कुर्सी नहीं लगने व शिलान्यास के शिलापट्ट पर पूर्व सांसद तिलकधारी सिंह का नाम नहीं होने से नाराज थे. बताया जाता है कि कार्यक्रम प्रारंभ होने से पूर्व ही हंगामा शुरू हो गया था. यह प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव तथा जामताड़ा विधायक डाॅ इरफान अंसारी के आने पर भी जारी रहा. विरोध करने वाले कुछ कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम स्थल पर रखी कुर्सियां उठाकर फेंक दीं. इस बीच, कार्यकर्ताओं के धरना व नारेबाजी का डॉ उरांव ने स्वागत करते हुए कहा कि पार्टी जिंदा है तो लोकतंत्र की वजह से. लोकतंत्र है तो आवाज उठनी चाहिए. अगर कहीं गलत है तो वे बिल्कुल विरोध करें. गलत का विरोध वह भी करते हैं.नगर अध्यक्ष की कुर्सी नहीं लगने व पूर्व सांसद का नाम शिलापट्ट पर नहीं होने से थे नाराज

जिला अध्यक्ष को हटाने की मांग उठी :

विरोध कर रहे महमूद अली खान, जैनुल अंसारी, नदीम अख्तर समेत अन्य कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष को हटाने की मांग कर रहे थे. इन्होंने अल्पसंख्यकों को अधिकार व सम्मान देने की मांग भी की. कार्यकारी अध्यक्ष डाॅ इरफान अंसारी ने विरोध कर रहे कार्यकर्ताओं से कहा कि वह मानते हैं कि जिला कांग्रेस कमेटी में सबकुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है. त्रुटियां व कमियां हैं तो दूर होंगी. उनके साथ वह खड़े हैं.

डॉ अंसारी ने कहा कि विरोध का यह तरीका ठीक नहीं है. जो भी बात है, उसे पार्टी के मंच पर रखें. शिलापट्ट पर पूर्व सांसद का नाम नहीं रहने पर उठे विरोध को देखते हुए इरफान ने जिलाध्यक्ष नरेश वर्मा को पूर्व सांसद व अन्य का भी नाम शिलापट्ट पर लिखवाने को कहा. विधायक ने नरेश वर्मा को सलाह देते हुए कहा कि वह सबको साथ लेकर चलें. कहा कि हम सबका लक्ष्य भाजपा को यहां से खदेड़ना है. इरफान के आग्रह के बाद विरोध कर रहे कार्यकर्ता शांत हुए और प्रदेश अध्यक्ष व इरफान अंसारी को माला पहनायी.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें